Sagittarius

धनु राशि

 

जनवरी - 1 से 10 जनवरी 2019 तक - राशि में सूर्य-शनि का गोचर एवं एकादश चंद्रमा लाभदायक होगा। काम में तेजी एवं स्वास्थ्य अनुकूल रहेगा। प्रभाव में वृद्धि होगी। 3 से 5 जनवरी में आय की गति धीमी रहेगी। चिंता भी बढ़ेगी। घर में विवाद की स्थिति बन सकती है। 6 से पक्ष में बातें होने लगेंगी। स्वयं के वाहन से सर पर चोट लग सकती है। साढ़ेसाती का प्रभाव पूरे वर्ष रहेगा।

11 से 20 जनवरी 2019 तक - शाम से चतुर्थ चंद्रमा निराशा प्रदान करेगा। काम में मन नहीं लगेगा एवं आय भी कमजोर रहेगी। 14 से इसमें सुधार होगा एवं यह 18 तक चलेगा। उसके बाद पुन: चिंता में डालने वाली घटनाएं हो सकती हैं। पिता से विवाद हो सकता है। विरोधी सिर उठाने का प्रयास करेंगे।  

21 से 31 जनवरी 2019 तक - अष्टम चंद्र का गोचर भी आय को  कम बनाने वाला होगा। 22 से समस्याओं का समाधान प्राप्त होगा एवं विदेश जाने वालों को सफलता प्राप्त होगी। धन की आवक भी अच्छी होगी। कार्य समय पर होंगे एवं सहयोग भी प्राप्त होगा। महीने के अंत में कुछ परेशानी भी आ सकती है।

 

नौकरी - नौकरीपेशा लोगों के लिए समय अच्छा है। इस महीने ऑफिस के बड़े और खास काम पूरे हो जाएंगे। अधिकारियों से संबंध अच्छे रहेंगे। नए काम की जिम्मेदारी मिल सकती है। कामकाज भी ज्यादा रहेगा।

 

व्यवसाय - बिजनेस करने वाले लोग इस महीने जोखिम न लें। बड़े लेन-देन में सावधानी रखें। रुका पैसा इस महीने आपको मिल सकता है। साझेदारी के कामों में आपको संभलकर रहना होगा।

 

परिवार - परिवार वालों के साथ अच्छा समय बीतेगा। महत्वपूर्ण मामलों में बड़े फैसले होने के योग बन रहे हैं। इस महीने घर के सदस्यों के साथ यात्रा होने के भी योग बन रहे हैं।

 

सेहत - इस महीने सेहत के मामलों में आपको संभलकर रहना होगा। पुराने रोग परेशान कर सकते हैं। कोई एलर्जी होने की भी संभावना है। इस महीने बीमारियों को लेकर आपको सावधान रहना होगा। खान-पान पर नियंत्रण भी रखें।

 

संपत्ति - चल-अचल संपत्ति की खरीदी और बिक्री से जुड़े बड़े मामले आपको परेशान कर सकते हैं। इस महीने संपत्ति के मामलों में आपको सावधान रहना होगा। किसी पर भरोसा न करें। वरना धाेखा मिल सकता है।

 

दाम्पत्य - साल के पहले महीने में पति-पत्नी में विवाद हो सकते हैं। कोई पुरानी बात आपके संबंधों में तनाव बढ़ा सकती है। महीने के कुछ दिन रुठने और मनाने में निकल सकते हैं। अविवाहित लोगाें का विवाह इस महीने हो सकता है।

 

उपाय -

- कोई खास काम शुरू करने से पहले किसी भी मंदिर के शिखर का दर्शन करें।

- गुरुवार को किसी भी मंदिर में पीली मिठाई दान करें।

- गाय को रोटी खिलाएं।

 

फरवरी - 1 से 10 फरवरी 2019 - शुक्र, शनि एवं चंद्र का गोचर राशि में हो रहा है। धन की आवक उत्तम रहेगी एवं प्रभाव भी बना रहेगा। जमीन से लाभ होग सकता है एवं संतान सुख प्रदान करेगी। नए काम होंगे। स्थायी संपत्ति में वृद्धि होगी। साढ़ेसाती का प्रभाव कुछ नेगेटिव खबरें भी दे सकता है।

11 से 20 फरवरी -  राशि में शुक्र-शनि की युति गुरु के द्वादश होने से विदेश जाने वालों को सफलता प्राप्त होगी। विपरीत लिंग के प्रति आकर्षण होगा। प्रतिष्ठित लोगों से सपंर्क बढ़ेगा। 18 एवं 19 फरवरी को परेशानी आ सकती है। इन दिनों में आय कमजोर एवं व्यय की अधिकता हो सकती है।  

21 से 28 फरवरी - शुक्र राशि से निकलेगा। राशि प्रबल बनी हुई है। सब ओर से सफलता मिलेगी एवं धर्म में रुचि बढ़ेगी। कार्य में तेजी बनी रहेगी एवं आय भी बेहतर रहेगी। मित्रों एवं परिवार से सहयोग प्राप्त होगा। रोगों में आराम रहेगा एवं नौकरी में नई जिम्मेदारी के साथ अधिकारी संतुष्ट बने रहेंगे। महीने के अंत में विष योग निर्मित होगा।

 

नौकरी - साढ़ेसाती का पूर्ण प्रभाव है, नौकरी में बदलाव की सोच रहे हैं तो पूरी तरह से इस बात को सुनिश्चित कर लें कि आपके हाथ में दूसरी जॉब रहे। नौकरी में लाभ रहेगा लेकिन काम का तनाव भी अधिक हो सकता है। नए प्रोजेक्ट मिल सकते हैं।

 

व्यवसाय - व्यवसाय से धन की आवक के योग बन रहे हैं। आमदानी के लिए अभी मौजूद व्यापार के अलावा भी कोई स्रोत मिल सकते हैं। बड़ी पूंजी के निवेश से पहले पूरी तरह सुनिश्चित करें कि निवेश सुरक्षित रहे। अन्यथा नुकसान हो सकता है।

 

परिवार - परिवार में किसी मांगलिक कार्य का आयोजन हो सकता है। परिजनों के साथ संबंध मधुर रहेंगे। किसी भी तरह के विवाद का कोई संकेत नहीं है। संतान से सुख मिलेगा और माता-पिता की सेहत भी ठीक रहेगी।

 

सेहत - पुराने रोगों में आराम रहेगा। अगर किसी बड़ी बीमारी से जूझ रहे हैं तो संभव है कि कोई अच्छा इलाज आपके सामने आए। वाहन चलाने में सावधानी रखें। चोट लगने की आशंका है।

 

दाम्पत्य - गृहस्थी सरलता और सहजता के साथ आगे बढ़ती रहेगी। जीवनसाथी से आपको पूर्ण सहयोग और आत्मबल मिलेगा। आपसी रिश्ते मधुर रहेंगे। जीवनसाथी से कोई उपहार भी मिल सकता है।

 

संपत्ति - सम्पत्ति से लाभ मिलेगा। अगर कोई योजना है तो उसे क्रियान्वित कर सकते हैं। आपके सामने कुछ विकल्प भी आएंगे। कानूनी सलाह के बाद ही उस पर कार्य शुरू करें तो लाभ में रहेंगे।

 

उपाय -

  • साढ़ेसाती के उपाय नियमित करें। शनि को तेल चढ़ाएं।

  • किसी भी शिव मंदिर में जलाभिषेक करें।

  • वृद्ध लोगों का सम्मान करें और उनसे आशीर्वाद लें।

 

मार्च - 1 से 10 मार्च 2019 - (भिन्न मतों के अनुसार गुरु अतिचारी होकर धनु राशि में रहेगा।) शनि-चंद्र का गोचर राशि में विष योग का निर्माण कर रहा है।  राज पक्ष से लाभ होगा एवं प्रभाव में वृद्धि होगी। व्यापार में लाभ एवं सहयेाग की प्राप्ति होगी। योजनाएं सफल होंगी एवं कार्य क्षेत्र का विस्तार होगा। धार्मिक अनुष्ठान का आयोजन करवाने का मन होगा।

11 से 20 मार्च 2019 - राशि में शनि का गोचर है। चंद्र का गोचर अनुकूल है। नेगेटिव विचार ज्यादा आएंगे, किंतु प्रभुत्व बना रहेगा। मन में भय रहेगा। किसी बड़े काम के बनने के आसार हैं। मित्रों से सहयोग मिलेगा एवं हर ओर से विजय की प्राप्ति होगी।

21 से 31 मार्च 2019 - गुरु शनि, केतु का गोचर अब राशि में है। राहु एवं मंगल की दृष्टि भी है। सफलताओं का प्रतिशत ज्यादा रहेगा एवं प्रेम में सफलता प्राप्त होगी। योजनाएं सफल होंगी। सरकार से लाभ होगा। आवक अच्छी बनीं रहेगी एवं परिवार से सहयोग प्राप्त होगा। महीने के अंत में बड़ी सफलता मिलने का योग हैं।

 

नौकरी - महीने की शुरुआत में अधिकारियों का भरपूर सहयोग मिलेगा। शासकीय नौकरी वालों के लिए समय मंगलकारी रहेगा। योजनाएं समय पर पूरी होंगी। लाभ के अवसर मिलेंगे।

 

व्यापार - व्यापार में वृद्धि होने के योग हैं। अगर कोई योजना है तो इस पर अमल करने के लिए अच्छा समय है। व्यापार में कोई सरकारी सहायता भी मिलने के योग हैं।

 

परिवार - परिवार के लिहाज से समय काफी अच्छा रह सकता है। भाइयों से सहयोग मिलेगा। हालांकि संतान को लेकर थोड़ी चिंता रह सकती है। शेष समय अच्छा ही है।

 

सेहत -  सेहत के लिए समय ठीक रहेगा। कोई पुरानी बीमारी परेशान कर सकती है लेकिन आपको बाकी मामलों में राहत रहेगी। वाहन से चोट लग सकती है। सावधानी रखें।

 

दाम्पत्य - गृहस्थी में सब अच्छा रहेगा। किसी भी प्रकार का विवाद संभव नहीं दिखता है। दाम्पत्य में प्रेम की प्रगाढ़ता रहेगी और प्रेम संबंधों में भी सफलता मिलेगी।

 

सम्पत्ति - सम्पत्ति विवाद में आपको सफलता मिल सकती है। कोई बड़ा लाभ होने के योग बन रहे हैं। अगर सम्पत्ति क्रय या विक्रय करने के लिए सोच रहे हैं तो समय अच्छा है।

 

उपाय -

  • किसी हनुमान मंदिर में चौला चढ़वाएं।

  • बंदरों को चने खिलाएं।

  • भिखारियों को भोजन का दान करें।

 

अप्रैल - 1 से 10 अप्रैल 2019 - राशि में स्वामी गुरु, शनि एवं केतु का गोचर साथ ही राहु की दृष्टि रहेगी। मंगल की दृष्टि एवं द्वितीय चंद्रमा होने से मजबूत स्थिति में रहेंगे। 5 एवं 6 अप्रैल को आय की कमी के साथ चिंता बढ़ाने वाली बातें हो सकती हैं। शेष दिनों में काई परेशानी आने की संभावना नहीं रहेगी। संतान से सुख प्राप्त होगा एवं प्रभाव भी बढ़ेगा। कर्ज की परेशानी समाप्त होगी। विद्यार्थियों को सफलता प्राप्त होगी।

11 से 20 अप्रैल - व्यय की अधिकता रहेगी। मंगल एवं चंद्र की दृष्टि शेष ग्रहों को पूर्ववत प्रभाव रहेगा। इससे राशि का  प्रभाव बढ़ेगा एवं बाईं आंख में समस्या हो सकती है। नौकरी में मनचाहे कार्य करने को मिलेंगे एवं व्यापार उत्तम रहेंगा। अधिकारी भी सहयोग प्रदान करेगा। 14 एवं 15 को वाहन प्रयोग में सावधानी रखें एवं विवादों से दूर रहें।

21 से 30 अप्रैल - गुरु के राशि से निकलने के बाद भी, समय सब प्रकार से उत्तम रहेगा। व्यय तो रहेगा, किंतु उससे ज्यादा धन की व्यवस्था भी हो जाएगी। कार्य स्थल पर अधिक व्यस्तता रहेगी। तय समय में सफलता भी मिलती जाएगी। विरोधियों पर विजय प्राप्त होगी एवं नए काम भी  मिलते रहेंगे। 28 अप्रैल कुछ संभल कर रहना होगा। शेष समय में कोई दिक्कत आने की संभावना नहीं है। माह अंत में पैर में चोट लग सकती है।

 

नौकरी - नौकरी में आपके लिए ये समय अनुकूल रहेगा। आपको मनचाहा काम करने को मिल सकता है। आय के साधन भी ठीक रहेंगे। अधिकारी आपके काम से प्रसन्न रहेंगे।

 

व्यापार - व्यापार के लिए समय अच्छा है। कोई बड़ा सौदा या नया प्रोजेक्ट आपको मिल सकता है। किसी पुराने मित्र से भी व्यापार में कोई लाभ होने के योग बन रहे हैं।

 

परिवार - भाइयों से पूरा सहयोग मिलेगा। माता-पिता की सेहत को लेकर थोड़ी चिंता हो सकती है। किसी मांगलिक कार्य में शामिल हो सकते हैं। पुराने मित्रों से भी मुलाकात हो सकती है।

 

सेहत - सेहत के लिए समय मिलाजुला हो सकता है। कोई पुराना रोग आपको परेशान कर सकता है। आपको किसी नई जगह से रोगों का इलाज मिल सकता है। आंखों में समस्या हो सकता है।

 

दाम्पत्य - दाम्पत्य में कई उतार-चढ़ाव आपको देखने को मिल सकते हैं। थोड़ा विवाद और तनाव आपके और जीवन साथी के बीच हो सकता है। लेकिन अंत में सब ठीक रहने के संकेत हैं।

 

सम्पत्ति - सम्पत्ति के लिए समय लगभग ठीक ही है। कुछ प्रस्ताव अच्छे मिल सकते हैं लेकिन आपको संभलकर निर्णय लेने होंगे। इस महीने सम्पत्ति से कोई बड़ा लाभ नहीं मिल सकता है।

 

उपाय -

  • शिवजी की आराधना करें।

  • किसी मंदिर के पुजारी को दान दें।

  • बच्चों को कपड़े दान करें।

 

मई -  1 से 10 मई - शनि-केतु का गोचर है। राहु की दृष्टि रहेगी। विवादों में विजय प्राप्त होगी। काम सफल होंगे। आवश्यक कार्य हेतु ऋण लेना पड़ सकता है। कार्य के प्रति गंभीर रहेंगे। कारोबार  लाभदायक होगा। नौकरी में तरक्की होने का योग है। विपरीत लिंग के प्रति आकर्षण होगा। प्रेम में सफलता मिलेगी एवं वैवाहिक जीवन सुखमय रहेगा।

11 से 20 मई - द्वादश चंद्रमा होने से आरंभ में कठिनाई आएगी, मित्र शनि के गोचर से विदेश एवं संतान से लाभ दिलाएगी। व्यापार में तरक्की होगी। कार्य स्थल पर वातावरण सुखद रहेगा। संतान से सुख मिलेगा। 19-20 को  निवेश के लिए समय ठीक नहीं है। इस दौरान में सतर्क रहें। लालच देने वालों से बचें।

21 से 31 मई - चंद्र के गोचर के साथ शनि एवं केतु का गोचर एवं मंगल एवं राहु की दृष्टि रहेगी। समय सर्वथानुकूल रहेगा। व्यापार में तेजी रहेगी। प्रेमी साथी से सहयोग मिलेगा। कार्य स्थल पर बेहतर तालमेल रहेगा। 27-28 को आय कम एवं अप्रसन्नता हो सकती है। 29 के बाद से समय बेहतर हो जाएगा।

 

नौकरी - जॉब में स्थितियां सामान्य रहेंगी। आपके आसपास का वातावरण सुखद रहेगा। आपको अधिकारियों और सहकर्मियों से अच्छा सहयोग मिलेगा। लाभ के अवसर मिलेंगे।

 

व्यापार - व्यापार के लिए परिस्थितियां अनुकूल रहेंगी। कोई बड़ी समस्या इस महीने नहीं आएगी। जो भी परिस्थितियां आएंगी, उनका समाधान करने में आप सक्षम होंगे।

 

परिवार - परिवार के लिए समय बहुत अच्छा रहेगा। माता-पिता के स्वास्थ्य में सुधार होगा। कोई अच्छी सूचना आपको मिलेगी, जो परिवार में खुशियां लाएगी। संतान से सुख मिलेगा।

 

सेहत - सेहत के लिए समय ठीक रहेगा। जोड़ों में थोड़ी परेशानी हो सकती है। आपको अपनी पुरानी बीमारियों की नियमित जांच कराने की भी सालह है। नजर बनाए रखें।

 

दाम्पत्य - जीवनसाथी से अच्छा व्यवहार मिलेगा। कोई विवाद नहीं रहेगा। जो लोग प्रेम विवाह करना चाहते हैं उनको सफलता मिलेगी। कोई विशेष सूचना भी आपको मिल सकती है।

 

सम्पत्ति - सम्पत्ति के लिए समाधान कारक समय है। आप परिस्थितियों पर बेहतर नियंत्रण रखने में कामयाब रहेंगे। सम्पत्ति में लाभ होगा।

 

उपाय -

  • शिवजी को पंचामृत का अभिषेक करें।

  • सोमवार को ऊं नमः शिवाय का जाप करें।

  • बुजुर्गों और गुरुजनों का आशीर्वाद लें।

 

जून - 1 से 10 जून - शनि-केतु का गोचर एवं मंगल-राहु की दृष्टि व पंचम चंद्रमा रहेगा। आय बेहतर रहेगी एवं सफलता प्राप्त होगी। योग्यता के अुनसार काम प्राप्त होंगे एवं नए कार्य भी मिलेंगे। नौकरी में तरक्की के साथ व्यापार में सुविधाएं मिलेंगी। विद्यार्थियों को अनुकूल वातावरण मिलेगा एवं 8-9 तारीख को छोड़कर धन की कमी शेष दिनों में नहीं आएगी।

11 से 20 जून - दशम चंद्रमा से आरंभ होगा।  समय अनुकूल रहेगा। नए व्यापारिक सौदे प्राप्त होंगे एवं जोखिम वाले निवेश से सफलता प्राप्त होगी। आस-पास के लोगों से मधुर संबंध रहेंगे। समकक्ष सहयोग प्रदान करेंगे। प्रेम में सफलता प्राप्त होगी एवं 17-18 को सतर्क रहने का समय होगा। इस समय में जोखिम लेने से बचें एवं निवेश नहीं करें।

21 से 30 जून - शनि-केतु की युति राशि में रहेगी। आय बेहतर बनी रहेगी। केवल 25-26 को कुछ कमी रह सकती है। इस दौरान में व्यय की अधिकता रहेगी। बेकार विवाद एवं वाहनादि से समस्याएं आ सकती हैं। सूर्य एवं शुक्र की दृष्टि से नींद की कमी एवं ज्वारादि की समस्या हो सकती है। शनि की साढ़ेसाती में किसी को उधार देने से बचें।  

 

नौकरी - इस महीने आपको प्रमोश मिलने के योग बन रहे हैं। नौकरी में आपका प्रदर्शन सराहनीय रहेगा। अधिकारियों से आपके संबंध भी मधुर रहेंगे।

 

व्यापार - व्यापार में अतिरिक्त लाभ के अवसर मिलेंगे। अगर आप व्यापार विस्तार की योजना बना रहे हैं तो उस पर काम करने के लिए ये सही समय रहेगा। लाभ के मौके मिलेंगे।

 

परिवार - परिवार में सब ठीक रहेगा। संतान से लाभ होगा। संतान की चिंता समाप्त होगा। किसी भी तरह से परिवार में आपको अच्छा माहौल मिलेगा।

 

सेहत - सेहत के लिए समय ठीक है। छोटी-मोटी परेशानियों के अलावा कोई समस्या स्वास्थ्य को लेकर नहीं दिख रही है।

 

दाम्पत्य - जीवनसाथी आपके अनुकूल रहेगा। कोई परेशानी ऐसी होगी जो आप आपसी बातचीत से सुलझा संकेंगे।

 

सम्पत्ति - सम्पत्ति में कोई इजाफा होने के योग नहीं बन रहे हैं। वाहन आदि खरीदने का मन हो सकता है। मशीनरी का थोड़ा नुकसान भी होता दिख रहा है। सावधानी रखें।

 

उपाय -

  • जरूरतमंदों को फलों का दान करें।

  • किसी भी मंदिर में कोई उपयोगी सामग्री दान करें।

  • भिखारियों को अपने पुराने कपड़ों का दान करें।

 

जुलाई - 1 से 10 जून - शनि-केतु का गोचर एवं मंगल-राहु की दृष्टि व पंचम चंद्रमा रहेगा। आय बेहतर रहेगी एवं सफलता प्राप्त होगी। योग्यता के अुनसार काम प्राप्त होंगे एवं नए कार्य भी मिलेंगे। नौकरी में तरक्की के साथ व्यापार में सुविधाएं मिलेंगी। विद्यार्थियों को अनुकूल वातावरण मिलेगा एवं 8-9 तारीख को छोड़कर धन की कमी शेष दिनों में नहीं आएगी।

11 से 20 जून - दशम चंद्रमा से आरंभ होगा।  समय अनुकूल रहेगा। नए व्यापारिक सौदे प्राप्त होंगे एवं जोखिम वाले निवेश से सफलता प्राप्त होगी। आस-पास के लोगों से मधुर संबंध रहेंगे। समकक्ष सहयोग प्रदान करेंगे। प्रेम में सफलता प्राप्त होगी एवं 17-18 को सतर्क रहने का समय होगा। इस समय में जोखिम लेने से बचें एवं निवेश नहीं करें।

21 से 30 जून - शनि-केतु की युति राशि में रहेगी। आय बेहतर बनी रहेगी। केवल 25-26 को कुछ कमी रह सकती है। इस दौरान में व्यय की अधिकता रहेगी। बेकार विवाद एवं वाहनादि से समस्याएं आ सकती हैं। सूर्य एवं शुक्र की दृष्टि से नींद की कमी एवं ज्वारादि की समस्या हो सकती है। शनि की साढ़ेसाती में किसी को उधार देने से बचें।  

 

नौकरी - इस महीने आपको प्रमोश मिलने के योग बन रहे हैं। नौकरी में आपका प्रदर्शन सराहनीय रहेगा। अधिकारियों से आपके संबंध भी मधुर रहेंगे।

 

व्यापार - व्यापार में अतिरिक्त लाभ के अवसर मिलेंगे। अगर आप व्यापार विस्तार की योजना बना रहे हैं तो उस पर काम करने के लिए ये सही समय रहेगा। लाभ के मौके मिलेंगे।

 

परिवार - परिवार में सब ठीक रहेगा। संतान से लाभ होगा। संतान की चिंता समाप्त होगा। किसी भी तरह से परिवार में आपको अच्छा माहौल मिलेगा।

 

सेहत - सेहत के लिए समय ठीक है। छोटी-मोटी परेशानियों के अलावा कोई समस्या स्वास्थ्य को लेकर नहीं दिख रही है।

 

दाम्पत्य - जीवनसाथी आपके अनुकूल रहेगा। कोई परेशानी ऐसी होगी जो आप आपसी बातचीत से सुलझा संकेंगे।

 

सम्पत्ति - सम्पत्ति में कोई इजाफा होने के योग नहीं बन रहे हैं। वाहन आदि खरीदने का मन हो सकता है। मशीनरी का थोड़ा नुकसान भी होता दिख रहा है। सावधानी रखें।

 

उपाय -

  • जरूरतमंदों को फलों का दान करें।

  • किसी भी मंदिर में कोई उपयोगी सामग्री दान करें।

  • भिखारियों को अपने पुराने कपड़ों का दान करें।

 

अगस्त -  1 से 10 अगस्त - इन दस दिनों में आरंभ के तीन दिन तक समस्याएं आएंगी। कार्यों में विलंब एवं आय भी स्थिर नहीं रहेगी। केवल भाग्य का साथ बना रहेगा। 4 तारीख से समस्याओं का निदान होगा एवं कार्यों में गति के साथ आय में वृद्धि होगी। नए काम की प्राप्ति होगी एवं संतान से सुख प्राप्त होगा। व्यापार में तेजी रहेगी।

11 से 20 अगस्त - 11 से 13 की सुबह तक फिर समस्याएं रह सकती हैं। उसके बाद से कार्य सुचारु रुप से चलेंगे एवं राज पक्ष से लाभ होगा। भाग्य का साथ बना हुआ है। प्रेम में सफलता प्राप्त होगी एवं वैवाहिक प्रस्तावों की प्राप्ति भी होगी। नौकरी मे यात्रा का योग बना हुआ है। किसी परिचित के बीमार होने की खबर प्राप्त होगी।

21 से 31 अगस्त - राशि स्वामी गुरु के द्वादश होने से आय पर प्रभाव पड़ सकता है। जमीन का कार्य करने वाले ज्यादा परेशान होंगे। अज्ञात भय चिंता रह सकती है। अनावश्यक व्यय होंगे। 25 के बाद से व्यवसायिक सफलताएं प्राप्त होंगी एवं सहयोग भी मिलेगा। योजनाएं सफल होंगी एवं विवादों विजय प्राप्त होगी।

 

नौकरी - शुरुआत अच्छी नहीं रहेगी लेकिन पहले सप्ताह के बाद ये महीना जॉब के लिए अच्छा रहेगा। अधिकारी सहयोग करेंगे। आय के साधनों में भी वृद्धि हो सकती है।

 

व्यापार - व्यापारिक समझौतों में विवाद हो सकता है। मामला कोर्ट में गया तो जीत आपके पक्ष में होगी। सरकारी सहायता से व्यापार में लाभ के योग बन रहे हैं।

 

परिवार - परिवार में सुखद घटनाएं होंगी। संतान पक्ष से सहयोग मिलेगा लेकिन आपको कोई अज्ञात भय भी परेशान कर सकता है। भाइयों से सहयोग मिलेगा। मित्रों से मुलाकात हो सकती है।

 

सेहत - पैरों में दर्द की शिकायत हो सकती है। कुछ लोग घुटने के दर्द से परेशान रह सकते हैं। कब्ज की समस्या भी आने की संभावना है। सावधानी रखें।

 

दाम्पत्य - दाम्पत्य मधुर रहेगा। जीवनसाथी आपके समर्थन में रहेगा और कुछ नई सूचनाएं आपके लिए आश्चर्य का विषय हो सकती हैं। ससुरात पक्ष में कोई समस्या आ सकती है।

 

सम्पत्ति - सम्पत्ति के विवादों में आपको विजय मिल सकती है। कुछ मामले अटक सकते हैं। समय लाभकारी रहेगा, इसका फायदा उठाने की योजना पर काम करना चाहिए।

 

उपाय -

  • शनि को तेल चढ़ाएं।

  • किसी गरीब को लोहे के बर्तन दान करें।

 

सितंबर - 1 से 10 सितंबर - शनि-केतु का गोचर एवं राहु की दृष्टि राशि पर है।  वर्चस्व बना रहेगा एवं कार्यों में सफलता प्राप्त होगी। लक्ष्य की प्राप्ति होगी एवं धार्मिक कार्यो में शामिल होने का मौका प्राप्त होगा। विदेश जाने वालों को सफलता प्राप्त होगी। व्यापार सुखद रहेगा एवं प्रेम में सफलता प्राप्त होगी। बेरोजगारों को रोजगार की प्राप्ति होगी।

11 से 20 सितंबर - ग्रहों की पूर्ववत स्थितियां। गुरु द्वादश रहेंगा। सरकारी कर्मचारियों को विशेष लाभ होगा। नई जगहों पर जाने का मौका प्राप्त होगा। काम समय पर संपन्न होंगे। चंद्र का गोचर आय को बेहतर बनाकर रखेगा। परिवार सहयोग प्रदान करेगा। मुंह में छाले हो सकते है। घर में मांगलिक उत्सव हो सकता है।

21 से 30 सितंबर - मंगल, राहु की दृष्टि राशि पर रहेगी। सफलताएं पूर्ववत नहीं होगी। विरोधियों के स्वर ऊंचे होंगे एवं मित्र कम ध्यान देंगे। आसपास के लोग भी धोखा दे सकते हैं। सावधानी रखें। आय पूर्ववत अच्छी बनी रहेगी। कार्य की अधिकता होगी एवं संतान सुख प्रदान करेगी। मन खिन्न रहेगा।

 

नौकरी - अगर आप विदेश में नौकरी करने के प्रयास में लगे हैं तो आपको इस महीने कुछ अच्छी सूचना मिल सकती है। जॉब के मामले में ये महीना आपके लिए बहुत अच्छा रहने वाला है।

 

व्यापार - व्यापार में तरक्की करेंगे। लाभ बढ़ेगा लेकिन आपको अपने आस पास के लोगों से थोड़ा सावधान भी रहना पड़ सकता है। कोई धोखा होने के योग बन रहे हैं।

 

परिवार - परिवार के साथ समय अच्छा गुजरेगा। आप किसी धार्मिक यात्रा पर भी जा सकते हैं। कोई अच्छी सूचना परिवार का माहौल बदल सकती है। संतान के लिए भी समय अच्छा रहेगा।

 

सेहत - सेहत अच्छी रहेगी लेकिन जिन लोगों को दिल या ब्लड प्रेशर की बीमारी है उन्हें थोड़ा सावधान रहने की जरूरत है। अत्यधिक तनाव या दुःख आपको नुकसान पहुंचा सकता है।

 

दाम्पत्य - दाम्पत्य में रिश्ता अच्छा रहेगा। जीवनसाथी से पूरा समर्पण मिलेगा। हर तरह का सुख प्राप्त होगा। प्रेमियों के लिए थोड़ा सतर्क रहने का समय है।

 

सम्पत्ति - सम्पत्ति के लिहाज से समय मिलाजुला रहेगा। कोई बड़ा काम आप हाथ में ले सकते हैं। जिससे लाभ मिलने का योग है।

 

उपाय -

  • उत्तर मुखी हनुमान मंदिर में नारियल चढ़ाएं।

  • किसी जरूरतमंद को धन की मदद दें।

 

अक्टूबर - 1 से 10 अक्टूबर - शनि-केतु का गोचर एवं राहु-मंगल की दृष्टि राशि पर है। विरोधियों का शमन होगा एवं आय अच्छी बनी रहेंगी। चंद्र की अनुकूलता मन की प्रसन्नता प्रदान करेगा। योजनाएं सफल होंगी एवं वर्चस्व बढ़ेगा। कार्य सुगमता से सपंन्न होंगे एवं परिवार अनुकूल बना रहेगा। संतान से सहयोग प्राप्त होगा एवं रोगों में आराम रहेगा। मांगलिक उत्सवों में शामिल होने का अवसर प्राप्त होगा।
11 से 20 अक्टूबर - राहु-मंगल की दृष्टि राशि पर है। पूर्ववत कार्य में कोई तकलीफ नहीं आएगी। सब कुछ ठीक रहेगा। आय उत्तम बनी रहेगी। मित्रों से सहयेाग मिलेगा एवं त्यौहार में आनंद रहेगा। उपहारों की प्राप्ति होगी। समयानुसार लक्ष्य की प्राप्ति हो जाएगी।
21 से 31 अक्टूबर -  बढ़िया आय एवं उत्तम सहयोग प्राप्त होगा। समय प्रसन्नता के साथ व्यय होगा। शुभ सूचनाएं मिलेगी एवं जमीन-मकान खरीदने का मन बनेगा। निर्णय सटीक होंगे एवं कारोबार में आगे बढ़ने के अवसर प्राप्त होंगे। घर में उत्सव सा माहौल रहेगा एवं नए कार्य भी समय पर संपन्न होंगे। माहांत सुखद रहेगा।


नौकरी - जॉब में सोचे काम समय पर होंगे। आपकी योजनाएं सफल होंगी। अधिकारी खुश रहेंगे। सहकर्मियों का सहयोग मिलेगा। आय अच्छी बनी रहेगी। अन्य साधनों के भी आय होगी।

 

व्यापार - व्यापार के लिए समय अनुकूल है। आपको हर तरफ से लाभ की सूचनाएं मिलेंगी। कोई पुरानी अटकी हुई राशि भी वापस मिल सकती है। महीना अच्छा रहेगा।

 

परिवार -  परिवार में उत्सव का माहौल रहेगा। उपहारों का लेनदेन होगा। आपको परिवार का पूरा समर्थन और सहयोग मिलेगा। संतान से संबंध अच्छे रहेंगे।

 

सेहत - सेहत में सुधार होगा। आपको मानसिक तनाव से भी राहत मिलेगी। पुराने रोगों में आराम रहेगा।

 

दाम्पत्य - जीवनसाथी आपके अनुकूल रहेगा। रिश्ते में मधुरता रहेगी। प्रेमियों के लिए समय ठीक है। अपनी बातें गोपनीय रखने की कोशिश करें।

 

सम्पत्ति - सम्पत्ति से आय होगी। कोई अच्छा अवसर आपके हाथ आ सकता है। किराए पर दी गई सम्पत्ति से भी लाभ हो सकता है। वाहन पर खर्च होने के योग हैं।

 

उपाय -

  • किसी शिव मंदिर में पंचामृत चढ़ाएं।

  • गायों को पांच तरह का अनाज खिलाएं।

 

नवंबर - 1 से 10 नवंबर - शनि केतु एवं चंद्र का गोचर राशि में रहेगा। मंगल-राहु की दृष्टि है। कल से ही गुरु का प्रवेश भी राशि में होगा। समय पक्ष का है। सभी कार्य समय पर संपन्न होंगे। आय बेहतर बनी रहेगी। नए कार्यों के प्रस्ताव भी प्राप्त होगे। धार्मिक कार्यों में शामिल होने का मौका प्राप्त होगा एवं सुखद यात्रा का योग बना हुआ है।

11 से 20 नवंबर - गुरु, शनि एवं केतु का गोचर है। आय बेहतर रहेगी एवं जमीन से लाभ होगा। योजनाएं सफल होंगी एवं नए कार्यों की प्राप्ति होगी। निवेश से लाभ होगा एवं मित्रों से सहयोग प्राप्त होगा। कार्य क्षेत्र का विस्तार होगा। सजावटी वस्तुओं पर व्यय हो सकता है। किसी को भी उधार देने से बचें एवं अनजान लोगों से सावधान रहें।

21 से 30 नवंबर - चंद्र को गोचर पूरे समय अनुकूल बना रहेगा। आर्थिक आधार अच्छा रहेगा एवं ऋण संबंधी समस्याओं का हल होगा। नई संपत्ति की प्राप्ति हो सकती है। यात्रा का योग है। वरिष्ठों से बेहतर संबंध बने रहेंगे एवं कीमती समान की खरीदी हो सकती है। माहांत सर्व प्रकार से सुख देने वाला होगा। प्रसन्नतादायक समाचारों की प्राप्ति होगी।

 

नौकरी - जॉब में आपको कुछ नए ऑफर मिल सकते हैं। कोई भी निर्णय बहुत सोच-समझकर करें। किसी भी तरह की जल्दबाजी आपके लिए नुकसानदायक हो सकती है।

 

व्यापार - व्यापार में निवेश से आपके लिए अच्छा रिटर्न मिलने की संभावना है। प्रापर्टी के बिजनेस में लगे लोगों को भी अच्छे कमीशन आदि की प्राप्ति हो सकती है। समय बेहतर रहेगा।

 

परिवार - परिवार के लिए कोई अच्छी खबर आ सकती है। संतान से सफलता की सूचना मिल सकती है। भाइयों के साथ संबंध मधुर रहेंगे। किसी पुराने साथी से अचानक मुलाकात हो सकती है।

 

सेहत - सेहत के लिए समय अच्छा रहेगा। आपको डाइट और वर्कआउट प्लान शेड्यूल करना चाहिए। इससे पुराने रोगों में राहत मिलने की संभावनाएं बढ़ेंगी।

 

दाम्पत्य - दाम्पत्य संबंध मधुर रहेंगे। सुसराल पक्ष से कोई समाचार मिलेगा। आपके लिए राहत भरा समय रहेगा। प्रे विवाह के इच्छुक लोगों के लिए भी समय अच्छा रहेगा।

 

सम्पत्ति - सम्पत्ति के मामले में आपको कुछ सफलता मिलने के योग हैं। कानूनी विवादों में विजय होगी। आपको कोई अच्छा उपहार भी सम्पत्ति के रुप में मिल सकता है।

 

उपाय -

  • अपने घर के आसपास एक पीपल का पेड़ लगाएं।

  • शिवजी को दूध अर्पित करें।

 

दिसंबर - 1 से 10 दिसंबर - शुक्र, गुरु, शनि एवं केतु का गोचर। द्वितीय चंद्र का गोचर रहेगा। राहु की दृष्टि रहेगी। आय अच्छी बनी रहेगी, किंतु सुख-सुविधाओं में कमी हो सकती है। कार्य की अधिकता रहेगी। विरोधी सक्रिय रहेंगे। कार्य के विस्तार की योजना ठंडी पड़ सकती है। काम में मन कम लगेगा एवं शांत जगहों पर जाने का मन करेगा। संतान से सुख रहेगा एवं धर्म के प्रति रुचि बढ़ेगी। गुप्त विद्याओं को जानने की इच्छा हो सकती है।

11 से 20 दिसंबर - चंद्र की दृष्टि राशि पर है। पूर्ववत ग्रहों के अलावा सूर्य की दृष्टि भी प्राप्त होगी। लाभ वृद्धि एवं आय में सुधार होगा। कार्य निर्बाध गति से चलेंगे। अटके कार्य भी गति पकड़ेंगे। समयानुसार सब करने में सफल होंगे। सकारात्मकता रहेगी। 15-16 को छोड़कर सभी दिन अच्छे होंगे। विवादित मामलों में विजय प्राप्त होगी एवं परिवार में वर्चस्व भी रहेगा। वरिष्ठ लोगों से संबंध प्रगाढ़ होंगे।

21 से 31 दिसंबर - 24-25 तक समय सामान्य रहेगा, उसके बाद से कुछ आहत महसूस करेंगे। 28 से स्वास्थ्य में सुधार रहेगा एवं माता-पिता सहयेाग प्रदान करेंगे। माहांत सब प्रकार से सुखद रहेगा एवं प्रसन्नता प्रदान करने वाली सूचनाएं प्राप्त होंगी। अटके धन की प्राप्ति हो सकती है। निकट के लोगों से मिलने का मौका प्राप्त होगा।

 

नौकरी - समय अच्छा रहेगा। जॉब में अधिकारियों और मालिकों का भरोसा आपको मिलेगा। कुछ नई जिम्मेदारियों के लिए आपको तैयार रहना चाहिए। कोई ऐसी स्थिति बन सकती है जिसे आप आसानी से संभाल सकेंगे।

व्यापार - व्यापार में इस माह वरिष्ठों और अनुभवी लोगों की सलाह अवश्य लें। आपको नए मौके मिल सकते हैं। व्यापार के विस्तार की योजना भी बन सकती है।

 

परिवार - परिवार में आपका प्रभाव रहेगा। बड़े भाइयों और माता-पिता से आपके संबंध मधुर होंगे। आपको सहयोग भी मिलेगा। किसी मामले में आपको परिवार के लोगों की सलाह भी मिल सकती है।

 

सेहत - सेहत के लिए थोड़ा सावधान रहें। वाहन संभाल कर चलाएं। चोट लगने की आशंका है।

 

दाम्पत्य - दाम्पत्य में आपको काफी अच्छा अनुभव मिलेगा। जीवनसाथी के साथ समय प्रेम से गुजरेगा। प्रेम संबंधों के लिए भी समय अच्छा रहेगा।

 

सम्पत्ति - सम्पत्ति के मामलों में आपको लाभ हो सकता है। किराएदार या किसी बिचौलिए से विवाद भी हो सकता है। संभलकर रहें।

 

उपाय -

  • देवी दुर्गा की उपासना और ध्यान करें।

  • गुरु मंत्र का नियमित जाप करें।