Scorpio

वृश्चिक राशि

 

जनवरी -


1 से 10 जनवरी 2019 तक - बुध एवं गुरु का गोचर राशि में रहेगा। द्वादश चंद्रमा के कारण आरंभ में थोड़ी कठिनाई हो सकती है। किसी को कह भी नहीं पाएंगे एवं अंदर-अंदर ही घुटते रहने के साथ कुछ बड़ा करने की मंशा रहेगी। 3 जनवरी के बाद से अनुकूल समय रहेगा। आय बढ़ेगी एवं काम में भी तेजी आएगी। यात्रा का योग है।

11 से 20 जनवरी 2019 तक - मकान-दुकान को लेकर विवाद हो सकता है। भाई विरोध में रह सकते है। ऋण संबंधी समस्या भी आ सकती है। न्यायालयीन विवादों में पक्ष कमजोर हो सकता है। कार्य की अधिकता रहेगी। 14 एवं 15 बहुत राहत प्रदान करने वाले दिन होंगे। संतान से सहयोग मिलेगा।  

21 से 31 जनवरी 2019 तक - शुक्र-गुरु का गोचर राशि में रहेगा। चंद्र की अनुकूलता धन प्रदान करने वाली होगी। भाइयों का सहयोग बढ़ेगा एवं विवाद समाप्त होने के आसार हैं। नए वाहन खरीदने का मन बनेगा। 28 जनवरी से चंद्र एवं गुरु गोचर राशि में रहेंगे, जो सुख में वृद्धि करने वाला होगा। गजेकेसरी योग का निर्माण करेगा।

 

नौकरी - नौकरीपेशा लोगों को इस महीने कोई बड़ी जिम्मेदारी मिल सकती है। कामकाज ज्यादा रहेगा, लेकिन सैलेरी बढ़ने की भी संभावना है। अधिकारियों से मदद मिलेगी। साथ काम करने वाले लोग भी मददगार रहेंगे।

 

व्यवसाय - बिजनेस करने वाले लोग लेन-देन में जोखिम न लें। दूसरों पर विश्वास कर के पैसा या सामान उधार नहीं देना चाहिए, नही तो कुछ लोग आपको धोखा भी सकते हैं। इस महीने बिजनेस में फायदा तो होगा लेकिन खर्चा भी बढ़ सकता है।

 

परिवार - इस महीने परिवार में कुछ बड़े और खास फैसले हो सकते हैं। परिवार के लोग आत्म-केन्द्रित और भावुक हो सकते हैं। कोई भावुक घटना या कलह आपके परिवार पर नकारात्मक असर भी डाल सकता है।

 

सेहत - इस महीने आप अपने रहन-सहन के स्तर में सुधार के लिए काफी खर्चा कर सकते हैं, लेकिन इसका पॉजिटिव असर आपकी सेहत पर पड़ेगा। इस महीने पुरानी बीमारियों से आपको छुटकारा मिल सकता है। योगा और कसरत करने से आपको फायदा मिलेगा।

 

संपत्ति - संपत्ति के मामले में आप कोई भी फैसला जल्दबाजी में न लें। चल-अचल संपत्ति की खरीदी या बिक्री के मामले में आपको कागजी कार्यवाही में संभलकर रहना होगा क्योंकि कुछ गलत फैसले होने से आपका खर्चा असाधारण रूप से बढ़ सकता है।

 

दाम्पत्य - जीवनसाथी की भावनाएं समझने की कोशिश करें। इस महीने आप दाम्पत्य जीवन को मजबूत बनाने की कोशिश करेंगे और काफी हद तक सफल भी हो जाएंगे। महीने के ज्यादातर दिन लव लाइफ के लिए अच्छे रहेंगे। आपको जीवनसाथी से मदद भी मिल सकती है।

 

उपाय -

 

- मंगलवार को हनुमान मंदिर में सिंदूर दान करें।

- गुड़ खाकर घर से निकलें।

- माता जी के मंदिर में कुमकुम दान करें।

 

फरवरी -


1 से 10 फरवरी 2019 - राशि में गुरु का गोचर एवं द्वितीय चंद्रमा बेहतर समय बनाकर रखेगा। बेरोजगारों को रोजगार की प्राप्ति होगी। कारोबार में नए प्रस्ताव की प्राप्ति होगी। 8 से 9 फरवरी की शाम तक तकलीफें बढ़ सकती हैं। इस दौरान संभलकर कार्य करना होगा एवं धन संबंधी मामलों में सफलता प्राप्त होगी।

11 से 20 फरवरी- गुरु का गोचर राशि में होगा एवं चंद्र का गोचर भी अनुकूल बना रहेगा। मंगल की दृष्टि भी प्राप्त हो रही है। नए काम प्राप्त होंगे एवं प्रोजेक्ट सफल होगा। जमीन के मामलों में सफलता प्राप्त होगी। संतान से सुख प्राप्त होगा। महिलाओं को चोट लगने का भय है। दांत में तकलीफ हो सकती है।

21 से 28 फरवरी - गुरु की गोचर एवं मंगल की दृष्टि पूर्व से हैं। आय बेहतर बनी रहेंगी। विद्यार्थियों को पढ़ाई में पिछड़ने का भय है। पेट में दर्द हो एवं मांसपेशियों में खिंचाव भी हो सकता है। 25 एवं 26 फरवरी को सचेत रहना होगा एवं जमीन संबंधी कामों में सतर्क रहें। महीने के अंत में समय सुखद रहने की संभावना है।

 

नौकरी - जॉब में संभलकर रहने का समय है। आपके विरुद्ध कोई षडयंत्र भी हो सकता है। शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव रहेगा। जॉब बदलने के विचार को फिलहाल टाल दें।

 

व्यवसाय -  व्यापार में लाभदायक सौदे होंगे। भविष्य के लिए कोई बड़ी योजना की रुपरेखा बनेगी। आपके लिए समय का सुधार होता प्रतीत होगा। बड़े सौदों के समय कानूनी मसलों का और अनिवार्य कागजातों का पूरा ध्यान रखें।

 

परिवार - परिवार में सदस्यों के साथ संबंधों में सुधार होगा। माता-पिता की सेहत की चिंता रह सकती है। कुछ समय आनंददायक यात्रा या किसी मांगलिक आयोजन में बीतेगा। भाइयों से सहयोग रहेगा।

 

सेहत - सेहत में विशेष सावधानी बरतने का समय है। दांत, मांसपेशियों और चोट लगने से परेशानी बढ़ सकती है। महिलाओं को वाहन चलाते समय सावधानी रखनी होगी। दुर्घटना के योग हैं।

 

दाम्पत्य - जीवन साथी से सहयोग मिलेगा। रिश्ते में मधुरता बरकरार रहेगी। किसी धार्मिक अनुष्ठान में जीवनसाथी के साथ शामिल हो सकते हैं। संतान की ओर से भी सुख मिलेगा।

 

संपत्ति - सम्पत्ति के लिहाज से आपके लिए फरवरी 2019 का समय ठीक नहीं है। भूमि आदि के सौदों में कानूनी अ़ड़चनें आ सकती हैं। इसलिए, इस महीने किसी भी तरह के प्रॉपर्टी के मामलों को टालने की कोशिश करें।

 

उपाय -

  • हनुमान चालीसा का नित्य पाठ करें।

  • हर शनिवार की शाम को पश्चिम की तरफ मुंह करके पीपल के पेड़ को दीपक लगाएं।

  • लंगड़े भिखारियों को भोजन और कंबल दान करें।

 

मार्च -

 

1 से 10 मार्च 2019 - गुरु का गोचर (भिन्न मतों के अनुसार गुरु अतिचारी होकर धनु राशि में रहेगा।) के साथ मंगल की दृष्टि राशि पर है। अनावश्यक कार्यों में व्यय होगा एवं विघ्र ज्यादा उत्पन्न होंगे। विवाद की स्थितियां भी निर्मित होंगी। आय बनी रहेगी लेकिन उससे ज्यादा खर्च होंगे। सहयोग की उम्मीद बेकार जाएगी। लालच वाली योजनाओं से सावधान रहें।

11 से 20 मार्च 2019 - ग्रहों की स्थितियां पूर्ववत हैं। चंद्र की दृष्टि से समय अच्छा रहेगा, किंतु 12 मार्च की शाम से 14 मार्च तक के समय में अज्ञात चिंताएं रह सकती हैं। खर्च भी ज्यादा बने रहेंगे। 15 मार्च से समय अनुकूल हो जाएगा। विरोधी के स्वर नरम रहेंगे एवं कार्य समय पर होंगे।

21 से 31 मार्च 2019 - आय अच्छी बनी रहेगी। परेशानी से मुक्ति की प्राप्त होगी एवं संतान सहयोग प्रदान करेगी। विवादित मामलों में पक्ष मजबूत होगा एवं भाइयों से सहयोग की प्राप्ति होगी। यात्रा से लाभ होगा एवं नए काम की प्राप्ति भी होगी। गुरु राशि से निकलकर धनु में प्रवेश करेगा।

 

नौकरी - शनि की साढ़ेसाती का असर रहेगा। जॉब में परिस्थितियां विपरीत हो सकती हैं। जॉब बदलने पर भी विचार कर सकते हैं लेकिन नया जॉब मिलने में परेशानियां भी आएंगी।

 

व्यापार - कोई भी महत्वपूर्ण सौदा या कोई बड़ा निवेश करने से बचें। व्यापार में व्यय अधिक और लाभ कम होगा। कर्मचारियों से भी विरोध का सामना करना पड़ सकता है। अपने गुस्से पर नियंत्रण रखें।

 

परिवार - परिवार में कोई अनचाहा तनाव रह सकता है। संतान से परेशानी या कोई निराश करने वाली सूचना मिल सकती है। पारिवारिक मामलों में थोड़ा धैर्य से काम लेना होगा।

 

सेहत- इस महीने आपको मानसिक तनाव और थकान संभव है। थोड़ा मेडिटेशन और वर्कआउट करें। अपने आप को विवादों से दूर रखेंगे तो आपकी हेल्थ के लिए बहुत अच्छा होगा।

 

दाम्पत्य - जीवनसाथी से सहयोग मिलेगा लेकिन कोई विवाद भी होने की संभावना है। किसी तरह की बात पर बहस ना करें। बातचीत में शब्दों का चयन सोच समझ कर करें।

 

सम्पत्ति - सम्पत्ति से जुड़े किसी भी मामले को फिलहाल टाल दें। सम्पत्ति के लिए समय अनुकूल नहीं है। इस माह लाभ कम और नुकसान अधिक होने के योग हैं।

 

उपाय -

  • गाय को रोटी में गुड़ रखकर खिलाएं।

  • माता के दर्शन करें।

  • बुजुर्गों का आशीर्वाद लें।

 

अप्रैल -

 

1 से 10 अप्रैल 2019 - मंगल की दृष्टि राशि पर है। व्यय अधिक होंगे किंतु आपका प्रभाव भी बना रहेगा। स्वास्थ्य उत्तम रहेगा एवं नौकरी में नई जिम्मेदारी मिल सकती है। कार्य ज्यादा रहेंगे एवं तय समय पर समाप्त भी होंगे। व्यापारिक लाभ भी बढ़ेगा। विद्यार्थियों को हर प्रकार की सफलता प्राप्त होगी।

11 से 20 अप्रैल - मंगल की दृष्टि राशि पर रहेगी। समय सब प्रकार उत्तम रहेगा। लाभ वृद्धि के साथ सहयोग भी मिलेगा। मन प्रसन्न रहेगा। 12-13 अप्रैल को स्वयं को संभालने की जरूरत रहेगी। वाहनादि के प्रयोग में सावधानी रखें एवं किसी का अपमान नहीं करें। 15 अप्रैल से अच्छी स्थिति रहेगी। राजनीतिज्ञों को लाभ होगा। समय सब प्रकार उत्तम है।

21 से 30 अप्रैल - गुरु पुन: राशि में प्रवेश करेगा। चंद्रमा भी सपोर्ट कर रहा है। योजनानुसार कार्य संपन्न होंगे। आय बेहतर रहेगी एवं समकक्षों में सबसे बेहतर स्थिति रहेगी। किसी बड़े काम को करने का जिम्मा मिल सकता है। माह अंत में 29 एवं 30 अप्रैल को संभल कर रहें। मनचाहे काम नहीं हो पाएंगे।

 

नौकरी - जॉब में आपके काम योजना के अनुसार समय पर पूरे हो जाएंगे। प्रतिस्पर्धा ऑफिस में रहेगी लेकिन अपने समकक्षों से आप आगे निकल सकते हैं। अधिकारी आपसे खुश रहेंगे।

व्यापार - व्यापार में अच्छा लाभ देने वाला समय महीने के शुरुआती दिनों में रहेगा। आपके काम पूरे होंगे। लेकिन महीने के अंतिम दिनों में आपको काफी संभल कर फैसले लेने होंगें।

 

परिवार - परिवार का पूरा साथ और सपोर्ट मिलेगा। आप अपने लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए परिवार की सहायता ले सकते हैं। भाइयों से सहयोग मिलेगा। मित्र भी आपके अनुकूल बने रहेंगे।

 

सेहत - सेहत में कोई खास बदलाव आने की संभावना नहीं है। स्वास्थ्य के लिए समय अनुकूल है। आपको पुराने रोगों में भी राहत मिलेगी।

 

दाम्पत्य - गृहस्थी के लिए समय हर तरह से अनुकूल रहेगा। हालांकि महीने के मध्य में जीवनसाथी से थोड़ा तनाव हो सकता है। संतान को लेकर कोई योजना बन सकती है।

 

सम्पत्ति - सम्पत्ति से लाभ और कुछ राहत मिलने के योग हैं। अगर कोई पुराना कानूनी विवाद चला आ रहा है तो इसमें आपको थोड़ी राहत मिल सकती है।

 

उपाय -

  • शिवलिंग पर चावल अर्पित करें।

  • एक नारियल घर में रखकर अगले दिन नदी में बहा दें।

  • लाल गाय को गुड़ रोटी में रखकर खिलाएं।

 

मई -

 

1 से 10 मई - मंगल की दृष्टि एवं गुरु का वक्री गोचर है। आत्मविश्वास में वृद्धि होगी। सुख मिलेगा। शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। व्यापार उत्तम रहेगा। कार्य स्थल पर वातावरण सौहार्द पूर्ण रहेगा। चंद्र का गोचर आय अच्छी बनाकर रखेगा। समय सब प्रकार अनुकूल रहेगा।

11 से 20 मई - नवम चंद्रमा धन, मान-सम्मान दिलाएगा। भाइयों का सहयोग प्राप्त होगा। कार्य को सराहना प्राप्त होगी। भाग्य का सहारा मिलेगा। पुराने अटके कार्य संपन्न होंगे। 19-20 को समय पूर्ण समर्थन प्रदान करेगा। बड़ी सफलता मिल सकती है। नौकरी वालों को प्रमोशन एवं व्यापार में उन्नति हो सकती है।

21 से 31 मई - यह समय भी सर्वथा अनुकूल रहने वाला है। चंद्र का गोचर आय अच्छी बनाएगा। विदेश जाने वालों सफलता मिलेगी। विवादों में विजय मिलेगी एवं कार्य अच्छे से संपन्न होंगे। विद्यार्थियों को बेहतर परिणाम प्राप्त होंगे एवं प्रतियोगिता में विजय प्राप्त होगी। परिवार में सौहार्द रहेगा।

 

नौकरी - इस महीने आपको जॉब में किस्मत का काफी सहारा मिलेगा। कई असंभव से टास्क आप पूरा कर सकते हैं। आपकी सराहना होगी। मैनेजमेंट संतुष्ट रहेगा।

 

व्यापार - व्यापार के लिए समय अच्छा रहेगा। किसी भी तरह के नुकसान की कोई आशंका नहीं है। आप पहले से बेहतर तरीके से चीजों को मैनेज कर पाएंगे।

 

परिवार - परिवार के लिए समय अच्छा है। भाइयों से सहयोग मिलेगा। आपको माता-पिता से सहायता और आशीर्वाद मिल सकता है। संतान पक्ष से संतुष्ट रहेंगे।

 

सेहत - सेहत के लिए समय बेहतरीन रह सकता है। आप खुद को शारीरिक और मानसिक रुप से ज्यादा स्वस्थ्य और बेहतर महसूस करेंगे। कोई बीमारी होने के संकेत नहीं हैं।

 

दाम्पत्य - दाम्पत्य में आपको कुछ अच्छी सूचना मिल सकती है। अगर कोई विवाद या गलतफहमी है तो वो इस महीने सुलझ जाएगी। आपको जीवनसाथी से अच्छा सहयोग और भावनात्मक सपोर्ट मिलेगा।

 

सम्पत्ति - सम्पत्ति में बढ़ोत्तरी के योग हैं। वाहन या मशीनरी खरीदने पर विचार हो सकता है। कोई बड़ा सौदा आपके सामने आ सकता है। कानूनी मामलों में अड़तनें समाप्त होंगी।

 

उपाय -

  • गणपति अथर्वशीर्ष का पाठ करें।

  • हनुमान मंदिर में आंकड़े के पत्तों की माला अर्पित करें।

  • नदी में नारियल प्रवाहित करें।

 

जून -

 

1 से 10 जून - गुरु का गोचर एवं चंद्र की अनुकूलता राशि को सब प्रकार से प्रभावाशाली बनाती है। बेहतर आय एवं काम की अधिकता के साथ क्रेडिट भी प्राप्त होगा। धार्मिक कार्य एवं पदोन्नति के साथ योजनाएं सफल होगी। 5-6 को मामूली दिक्कतें स्वास्थ्य संबंधी हो सकती हैं। शेष दिन शुभ रहेंगे।

11 से 20 जून - ग्रहों की अनुकूलता बनी हुई है। समस्याओं का अंत होगा एवं आय बेहतर बनी रहेगी। प्रभाव बढ़ेगा एवं योजनाएं सफल एवं कार्य समय पर संपन्न होंगे। संतान से सुख मिलेगा एवं मांगलिक कार्य संपन्न होंगे। बड़े आयोजनों में शामिल होने का मौका प्राप्त होगा। 17-18 को स्वयं पर भरोसा रखें एवं मजाक आदि नहीं करें।

21 से 30 जून - यह राशि सब प्रकार से अनुकूल बनी हुई है। गुरु का गोचर एवं भाग्य का गोचर इसको पूर्ण शक्तिशाली बनाए हुए हैं। कोई समस्याएं आने की संभावना नहीं है। वैवाहिक प्रस्ताव मिलेंगे एवं प्रेम में सफलता प्राप्त होगी। यात्रा शुभ रहेगी एवं आय बेहतरीन बनी रहेगी। माहांत में चंद्र की दृष्टि से सर्वप्रकार की खुशियों की प्राप्ति होगी।

 

नौकरी - जॉब के लिए समय अनुकूल रहेगा। काम अधिक रहेगा लेकिन आप सब कुछ मैनेज करने में सक्षम रहेंगे। अधिकारियों से प्रशंसा प्राप्त होगी। आय अच्छी बनी रहेगी.

 

व्यापार - व्यापार के लिए भी आपको कुछ अच्छे मौके मिलेंगे। किसी नए प्रोजेक्ट या नए बिजनेस का प्लान भी बना सकते हैं। ये महीना आपके लिए सब प्रकार से लाभप्रद रहेगा।

 

परिवार - परिवार में मतभेद समाप्त हो सकते हैं। माता-पिता से सहयोग मिलेगा। आपके लिए सबका व्यवहार सकारात्मक और सहयोगात्मक रहेगा। मित्रों से मुलाकात होगी।

 

सेहत - सेहत में थोड़ा उतार-चढ़ाव रहने की संभावना है। अगर शुगर या दिल की बीमारी से परेशान हैं तो इस महीने अतिरिक्त सावधानी बरतें।

 

दाम्पत्य - जीवन साथी से थोड़ी बहुत कहा-सुनी हो सकती है। हालांकि आपका विवाद ज्यादा नहीं बढ़ेगा। एक साथ रहने से समस्याएं जल्दी सुलझ जाएंगी।

 

सम्पत्ति - सम्पत्ति को लेकर कोई कानूनी विवाद है तो आपके पक्ष में मामला थोड़ा झुक सकता है। आपको सम्पत्ति से लाभ मिलने के योग बन रहे हैं।

 

उपाय -

  • किसी शिव मंदिर में पंचामृत चढ़ाएं।

  • चावल का दान करें।

  • किसी भिखारी को भोजन कराएं।

 

जुलाई -


1 से 10 जुलाई - गुरु का गोचर एवं चंद्र की मुदित दृष्टि राशि पर रहेगी। राजयोग निर्मित हुआ है। भाग्य का साथ, धन का लाभ एवं अधिकारियों या वरिष्ठों की प्रसन्नता बनी रहेगी। लक्ष्य तय समय पर प्राप्त होगा एवं योजनाएं सफल होंगी। जमीन एवं वाहन से लाभ होगा। विवादित मामलों में विजय प्राप्त होगी। नए कार्यों की प्राप्ति होगी।

11 से 20 जुलाई - चंद्र द्वादश से आरंभ होगा। गुरु का गोचर बना रहेगा। गर्दन में दर्द हो सकता है। पराक्रम श्रेष्ठ रहेगा एवं जिम्मेदारी बढ़ेगी। विरोध करने वाले ज्यादा परेशान करने की योजना बना सकते हैं, किंतु ग्रहों की प्रबलता से कोई कुछ बिगाड़ नहीं पाएगा। रोगों मे आराम रहेगा। प्रेम में सफलता प्राप्त होगी। वैवाहिक जीवन सुखमय रहेगा।

21 से 31 जुलाई - जमीन से संबंधित विवाद हो सकता है। शीघ्र सुलह भी हो जाएगी। आय बेहतर बनी रहेगी। कार्य की अधिकता से थकान हो सकती है। कमर एवं सिर में बार-बार दर्द होगा। नौकरी के स्थान पर कनिष्ठ परेशान करेंगे एवं व्यापार में सतर्क रहना होगा। माहांत में पेट में तकलीफ हो सकती है एवं आर्थिक लाभ भी हो सकता है।

 

नौकरी - जॉब के लिए समय शानदार रहेगा। हर ओर से आपको अच्छी सूचनाएं मिलेंगी। काम समय पर पूरे होंगे। अधिकारी आपके पक्ष में रहेंगे। आय अच्छी रहेगी। लाभ मिलेगा।

 

व्यापार - महीने की शुरुआत से ही आपको व्यापार में बेहतरीन मौके मिल सकते हैं। लाभ बढ़ेगा। अगर कोई नया बिजनेस भी शुरू करना चाहते हैं तो आप इस महीने में कर सकते हैं।

 

परिवार - परिवार का साथ और सहयोग बना रहेगा। कोई खुशखबरी परिवार के लिए उत्सव जैसा माहौल बना सकती है। भाइयों और मित्रों का सहयोग बना रहेगा।

 

सेहत - सेहत के लिए ये महीना सावधानी रखने का है। सिरदर्द, पेटदर्द और किसी चोट के लिए संकेत मिल रहे हैं। मौसमी परिवर्तन आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है।

 

दाम्पत्य - जीवनसाथी का सहयोग बना रहेगा। रिश्ते में मधुरता बरकरार रहेगी। संतान संबंधी कोई काम आपके लिए शुभ होगा। भविष्य की योजनाओं पर बात होगी।

 

सम्पत्ति - जमीन से जुड़ा कोई विवाद हो सकता है। आपकी समझदारी और अनुभव से इसमें जल्दी ही सुलह भी हो सकती है। कोई नया सौदा या प्रस्ताव आपके सामने आ सकता है।

 

उपाय -

  • पंचमुखी हनुमान के दर्शन करें।

  • शिवजी को दूध अर्पित करें।

  • गरीबों को दान दें।

 

अगस्त -

 

1 से 10 अगस्त - गुरु के गोचर से राशि सब प्रकार प्रबल है। चंद्रमा भी सहयोग प्रदान कर रहा है। नौकरी में तरक्की एवं व्यापार में लाभ वृद्धि होगी। अन्य क्षेत्रों के लोगों को भी सफलता प्राप्त होगी। अटके कार्य पूर्ण होंगे एवं जमीन से लाभ प्राप्त होगा। 9-10 तारीख को संभलकर रहने का समय है। लेन-देन में सावधानी रखें । ऊंचाई से सावधानी रखें।

11 से 20 अगस्त - चंद्र द्वितीय एवं गुरु के गोचर से राजसी सफलता प्राप्त होगी। व्यापार एवं नौकरी दोनों में आगे रहेंगे। कारोबार की वृद्धि होगी। मित्रों से सहयोग प्राप्त होगा एवं धार्मिक कार्य संपन्न करने का मौका प्राप्त होगा। कार्य में नई जिम्मेदारी भी प्राप्त हो सकती है। पारिवारिक पक्ष मजबूत रहेगा।

21 से 31 अगस्त - मंगल के राशि परिवर्तन से उसकी चतुर्थ दृृष्टि प्राप्त होगी। गुरु पूर्व से है। सब प्रकार से राशि का प्रबलता है। अच्छी आय एवं कार्य में बेहतर सुधार होगा। व्यापार उत्तम रहेगा। नौकरी में सफलता एवं अधिकारी प्रसन्न रहेंगे। सभी कार्य समय पर संपन्न होंगे। विदेश जाने वालों को सफलता एवं वहां रहने वालों के लिए भी समय अनुकूल रहेगा।

नौकरी - नौकरी में तरक्की के प्रबल योग हैं। आपको कोई ऐसी जिम्मेदारी भी मिल सकती है जो आपको अपने सहकर्मियों से आगे ले जाएगी। आय बढ़िया रहेगी।

 

व्यापार - व्यापारिक सौदों और उधार राशि के लेन-देन में सतर्कता बरतने का समय है। आपको लाभ के अवसर मिलेंगे। व्यापारिक यात्रा भी लाभदायक रहेगी।

 

परिवार - परिवार में अच्छा वातावरण बनेगा। आपकी बातों को महत्व मिलेगा और योजनाओं को समर्थन भी। परिजनों का सहयोग बना रहेगा। दोस्तों से मुलाकात होगी।

 

सेहत - सेहत के लिए समय अच्छा है। पुरानी बीमारियों में राहत का अनुभव करेंगे। कोई नई पद्धति आपकी बीामारी को दूर कर सकती है।

 

दाम्पत्य - जीवनसाथी से प्रेम बढ़ेगा। आपसी समझ अच्छी रहेगी। संतान के लिए कोई योजना बनेगी। प्रेमियों के लिए भी समय अनुकूल रहेगा। गुप्त संबंधों के लिए समय प्रतिकूल है।

 

सम्पत्ति - सम्पत्ति से लाभ मिल सकता है। आपको अपने आसपास नजर रखनी होगी। कोई अच्छी सम्पत्ति आपकी निगाह में आ सकती है। फायदा मिलने के योग हैं।

 

उपाय -

  • घर के मंदिर के ऊपर सिंदूर से स्वस्तिक बनाएं।

  • शिवलिंग पर दूध चढ़ाएं।

 

सितंबर -

 

1 से 10 सितंबर - गुरु का गोचर एवं मंगल की चतुर्थ पूर्ण दृष्टि राशि पर है। सरकारी कार्यों में गति रहेगी एवं चिंता बनी रहेगी। कमीशन का कार्य करने वालों को सफलता प्राप्त होगी। नई जगहों पर जाने का मौका मिल सकता है। व्यापार में सफल रहेंगे एवं नौकरी में अधिकारी सपोर्ट करेंगे। विदेश जाने वालों की वीजा समस्याएं समाप्त होंगी।

11 से 20 सितंबर - तृतीय चंद्र रहेगा। बहुत ही राहत महसूस करेंगे। कई अटके कार्यों में अब गति आ जाएगी। आय में सुधार होगा एवं नए कार्यों की प्राप्ति भी होगी। 13-14 को परेशानी भरा समय रह सकता है। 15 के बाद से शुभ समाचार मिलेंगे एवं मित्र ग्रहों के गोचर से काम सफल होंगे। बेरोजगारों को नौकरी की प्राप्ति होगी।

21 से 30 सितंबर - गुरु का गोचर रहेगा, किंतु मंगल की दृष्टि समाप्त होगी। आरंभ अच्छा रहेगा, किंतु 23-24 को निजता भंग हो सकती है। अन्य के कार्य में दखल देेने से परेशानी होगी। 25 तारीख से समय में सुधार होगा। आय में वृद्धि के साथ कार्य में सफलता प्राप्त होगी। आलस्य समाप्त होगा एवं नए कार्य करने मन होगा। बच्चों से सपोर्ट प्राप्त होगा। यात्राएं सफल होंगी।

 

नौकरी - नौकरी के लिए समय अनुकूल है। आपको अपने बॉस का पूरा सपोर्ट मिलेगा। तरक्की के मौके हाथ आएंगे और कोई नया प्रोजेक्ट भी आपको मिल सकता है। आय के साधन बढ़ सकते हैं।

 

व्यापार - समय हर तरह से आपके फेवर का है। बिजनेस को नई ऊंचाई पर ले जा सकते हैं। आय के मौके बने रहेंगे। कोई नुकसान होने का योग नहीं है। पूरी लगन से किए गए काम का परिणाम मिलेगा।

 

परिवार - परिवार की कोई बड़ी समस्या खत्म हो सकती है। परिवार का माहौल खुशनुमा रहेगा। संतान से संबंध अच्छे रहेंगे। भाइयों से भी सहयोग मिलेगा।

 

सेहत - सेहत अच्छी रहेगी लेकिन माह के प्रारंभ में मंगल की दृष्टि के कारण रक्त से जुड़ी बीमारियों से थोड़ी परेशानी हो सकती है। शेष समय अच्छा रहेगा।

 

दाम्पत्य - दाम्पत्य के लिए समय अच्छा रहेगा। किसी मेहमान के आने से आपको खुशी होगी। प्रेम बढ़ेगा। किसी बात पर बहस हो सकती है। प्रेमियों के लिए समय अच्छा रहेगा।

 

सम्पत्ति - सम्पत्ति के लिए शुरुआती 20 दिन लाभ के रहेंगे। इस दौरान आप सम्पत्ति की खरीदी-बिक्री से जुड़े काम पूरे करेंगे तो आपको लाभ मिल सकता है।

 

उपाय -

  • पंचमुखी हनुमान को गुड़-चने का भोग लगाएं।

  • किसी बच्चे को नए कपड़े गिफ्ट करें।

 

अक्टूबर -

 

1 से 10 अक्टूबर - द्वादश चंद्रमा एवं गुरु का गोचर रहेगा। कार्य की चिंता रहेगी। कार्य स्थान पर परेशानी हो सकती है। निजी कार्य में लोगों का दखल हो सकता है। गुप्त योजनाएं भी बाहर आ सकती हैं। सावधान रहें। आय स्थिर रहेगी एवं लंबित कार्य के लिए प्रयास करने होंगे। विदेश यात्रा में दिक्कतें आएगी। बेकार के कार्यों में समय नष्ट होगा।
11 से 20 अक्टूबर - गुरु का गोचर है। चंद्र पंचम होने से भाग्य का साथ मिलेगा एवं धन की आवक अच्छी बनी रहेगी। दूसरों की मदद करने का मौका प्राप्त होगा एवं कार्य में आ रही बाधा समाप्त होगा। परिवार के साथ रहने का मौका प्राप्त होगा। नए कार्य के प्रस्ताव भी प्राप्त होंगे। विदेश में सफलता मिलेगी। दोस्तों के साथ घूमने का मौका प्राप्त होगा।
21 से 31 अक्टूबर  - गुरु का गोचर है। शुक्र, बुध का भी प्रवेश होगा। कार्य में बेहतर सुधार आएगा एवं विस्तार भी होगा। नए लोग मिलेंगे एवं सहयोग भी प्राप्त होगा। धार्मिक कार्य करने का मौका प्राप्त होगा। निराशा का भाव दूर होगा। चंद्र का गोचर राशि में होने से माहांत में बड़ा काम मिलने के आसार बनेंगे एवं मेहमानों को आगमन हो सकता है।


नौकरी - जॉब में नए ऑफर का समय है। कुछ नई जिम्मेदारियां मिल सकती हैं। किसी के सामने अपनी योजनाओं का खुलासा ना करें।

 

व्यापार - बिजनेस के लिए समय उतार-चढ़ाव वाला समय रहेगा। लाभ में कमी रहेगी। कोई बड़ा काम हाथ लग सकता है। महीने के आखिरी दिनों में लाभ मिलेगा।

 

परिवार - परिवार के लिए समय अच्छा रहेगा। धार्मिक कार्यों में समय बीतेगा। भाइयों का सहयोग रहेगा। कुछ नए दोस्त बन सकते हैं। कोई पुराना दोस्त भी मिल सकता है।

सेहत - सेहत के लिए समय मिलाजुला रहेगा। कोई पुरानी बीमारी परेशान कर सकती है।

 

दाम्पत्य - जीवनसाथी के साथ कहीं यात्रा हो सकती है। रिश्ते में मधुरता बनी रहेगी। प्रेमियों के लिए समय अनुकूल रहेगा।

 

सम्पत्ति - सम्पत्ति में कुछ इजाफा हो सकता है। किसी पुराने जमीन विवाद में आपके पक्ष में हो सकता है। सम्पत्ति से लाभ मिल सकता है।

 

उपाय -

  • हनुमान जी को सिंदूर और चमेली का तेल अर्पित करें।

  • किसी गरीब को तेल का दान करें।

 

नवंबर -


1 से 10 नवंबर - बुध शुक्र के गोचर से राशि पूर्ण मजबूत हुई है। कार्य स्थान पर वर्चस्व बना रहेगा एवं सुविधाओं में वृद्धि होगी। घर पर कोई मांगलिक कार्य हो सकता है। गुरु राशि से निकलेगा। उसके बावजूद शुभ सूचनाएं प्राप्त होंगी एवं वाहनादि खरीदने का मन बनेगा। विदेश जाने की इच्छा वालों को सफलता प्राप्त होगी। संतान से सुख मिलेगा एवं तनाव समाप्त होगा। ऐलर्जी एवं पैरों में समस्याएं हो सकती हैं।

11 से 20 नवंबर - ग्रहों की स्थितियां पूर्ववत रहेंगी एवं चंद्र का गोचर अनुकूल रहेगा। आय में वृद्धि होगी एवं निवेश से लाभ होगा। नए जमीन एवं मकान खरीदने की योजनाएं बनेंगी। माता-पिता से सुख प्राप्त होगा एवं कार्य की अधिकता रहेगी। संतान सहयोग प्रदान करेगी। वैभव पर व्यय हो सकता है। न्यायालयीन कार्यों में पक्ष मजबूत होगा। शत्रुओं का पराभव होगा।

21 से 30 नवंबर - नाना प्रकार के कार्य करने पड़ सकते हैं। परिवार के लिए वक्त नहीं निकाल पाएंगे। रिश्तेदारों का आगमन हो सकता है। शुभ सूचनाएं मिलेंगी। 24-25 को बेकार के कार्यों में समय व्यय हो सकता है। 26 से आय अच्छी बनी रहेगी एवं कार्य का विस्तार होगा। माहांत में अत्यधिक व्यस्तता रह सकती है। स्वास्थ्य ठीक रहेगा।

 

नौकरी - इस महीने में आपको ऑफिस में कई तरह के अलग-अलग काम करने पड़ सकते हैं। अधिकारियों को आपसे प्रसन्नता रहेगी। आय अच्छी बनी रहेगा। विवाद थमेंगे।

 

व्यापार - व्यापार में आपको सफलता मिलने के योग हैं। काम कम लेकिन ज्यादा फायदे वाला रहेगा। किसी पुराने मित्र से आपको सहायता मिलेगी।

 

परिवार - परिवार के लिए समय अनुकूल रहेगा। किसी मामले में आपको सफलता मिलेगी, जिससे परिवार की खुशियां बढ़ेंगी। भाइयों और दोस्तों का समर्थन और समर्पण दोनों मिलेंगे।

 

सेहत - सेहत के लिए समय अनुकूल होगा। आपके लिए इस महीने किसी तरह की स्वास्थ्य संबंधी समस्या नहीं है। समय अच्छा गुजरेगा।

 

दाम्पत्य - दाम्पत्य के लिए समय अनुकूल होगा। आपको जीवनसाथी से कोई उपहार मिल सकता है। प्रेमियों को सफलता मिलेगी। अविवाहितों को विवाह के प्रस्ताव प्राप्त होंगे।

 

सम्पत्ति - सम्पत्ति के लिए समय ठीक-ठाक है। आपके लिए कोई समस्या सम्पत्ति के मामले में नहीं आएगी। बड़े लाभ का कोई मौका अचानक सामने आ सकता है।

उपाय -

  • शनि चालीसा का पाठ हर शनिवार करें।

  • किसी भिखारी को कंबल का दान करें।


दिसंबर -

 

1 से 10 दिसंबर - मित्र सूर्य का गोचर एवं बुध का प्रवेश। कार्यों में सफलता प्राप्त होगी। आवक अच्छी बनी रहेगी। पराक्रम श्रेष्ठ रहेगा  एवं लंबित कार्य समय पर संपन्न होंगे। साथ जुड़े लोगों की नादानी से स्वयं को नुकसान हो सकता है। अत: सावधान रहें। नए कार्य की योजनाएं बनेंगी। विदेश रहने वालों को सफलता प्राप्त होगी।

11 से 20 दिसंबर - चंद्रमा अष्टम होने से 13 की शाम तक आय से परेशानी आएगी एवं कार्य स्थल पर कर्मचारी परेशान कर सकते हैं। उसके बाद से समय अनुकूल हो जाएगा। कार्य में गति आएगी एवं सफलताएं प्राप्त होंगी। योजनाएं सही रुप ले पाएंगी। जमीन से लाभ होगा। कीमती धातु का काम करने वालों को भी सफलता प्राप्त होगी।

21 से 31 दिसंबर - द्वादश चंद्रमा पुन: आय को बाधित कर सकता है। कार्य की रूपरेखा बिगड़ सकती है। कार्य स्थान पर पीठ पीछे बुराई भी हो सकती है। 23 से पुन: स्थितियां काबू में आ जाएंगी। उधारी की वसूली होगी एवं अटके कार्य में गति आएगी। प्रेम में सफलता प्राप्त होगी।  माहांत सुखद रहेगा। समय मनोरंजन में व्यय होगा। मित्रों से मिलना होगा एवं सहयोग भी प्राप्त होगा।

 

नौकरी -  इस महीने आपको लंबे समय से चली आ रही परेशानियों का समाधान मिल सकता है। काम में तेजी आएगी। आपका कार्य स्थल में वर्चस्व अच्छा रहेगा। आय बनी रहेगी।

 

व्यापार - व्यापार में लाभ के मौके मिल सकते हैं। खासतौर पर धातुओं और कीमती पत्थरों के व्यवसाय में लगे लोगों के लिए समय अच्छा रहेगा। परिस्थितियों पर आपका पूरा नियंत्रण होगा।

 

परिवार - परिवार की स्थिति सुखद रहेगी। संतान से लगातार आपका संवाद रहेगा। भाइयों से सहयोग मिलेगा। मित्र भी आपकी मुश्किल परिस्थितियों में काम आएंगे।

 

सेहत - सेहत के लिए समय अच्छा रहेगा। शारीरिक और मानसिक तनाव कम रहेगा। मनोरंजन में आपका समय बीतेगा।

 

दाम्पत्य -जीवनसाथी आपको कोई उपहार दे सकता है। किसी बात पर तनाव होने की आशंका है। अविवाहितों के लिए समय अच्छा रहेगा। विवाह के योग बनेंगे।

 

सम्पत्ति - सम्पत्ति पर आपको इस समय कोई जोखिम नहीं लेना चाहिए। अगर आप किसी सम्पत्ति में निवेश करने का विचार कर रहे हैं तो आपको पहले अनुभवी लोगों से सलाह ले लेनी चाहिए।

 

उपाय -

  • हनुमान मंदिर में सुंदरकांड का पाठ करें।

  • गरीब लोगों को काले कंबल का उपहार दें।