--Advertisement--

घर का दक्षिण-पश्चिम हिस्सा देता है पैसा, प्रसिद्धि और पेट के नीचे हिस्सों में बीमारी, ध्यान रखें कुछ बातें

Vatu Tips: ज्योतिष के अनुसार इस हिस्से का स्वामी राहु है। जो अचानक फायदा और नुकसान दोनों देता है।

Danik Bhaskar | Jul 19, 2018, 03:51 PM IST

आपको घर के दक्षिण-पश्चिम हिस्से को लेकर सावधान रहना चाहिए। इस दिशा में दोष पैदा हो जाए तो उस घर में रहने वाले लोगों के जीवन में परेशानियां खत्म नहीं होती। ज्योतिष के अनुसार इस कोने का स्वामी राहु है। जो अचानक फायदा और नुकसान दोनों देता है। इसलिए ही इस कोने को भारी और भरा हुआ रखना चाहिए। जिससे राहु ग्रह शांत रहे। इस दिशा में शौचालय होने से पितृ दोष भी माना जाता है। राहु और पितृदोष के कारण ऐसे घर को शापित भी कहा जा सकता है। क्योंकि ऐसे घर में कितनी भी पूजा-पाठ कर लें। दोष बना ही रहता है।

क्यों खास है घर का ये हिस्सा -

आपके घर के दक्षिण-पश्चिम हिस्से में ही सबसे ज्यादा चुम्बकीय ऊर्जा होती है। वास्तु के अनुसार पूर्व-उत्तर दिशा से निकलने वाली उर्जा घर के दक्षिण-पश्चिम कोने में जाकर रुक जाती है। इसलिए ऊर्जा से भरे इस कोने को लेकर सावधानी रखनी चाहिए। घर में वास्तु दोष को दूर करने से पहले दक्षिण-पश्चिम हिस्से के दोष दूर करना जरूरी होता है क्यूंकि इसके दोष दूर करने के बाद ही घर में पाॅजिटिव एनर्जी बढ़ेगी जिससे शांति और स्थिरता आएगी। कुछ लोग घर के इस कोने में पैसा भी रखते हैं ताकि सेविंग बढ़े और बचत हो। वास्तु के अनुसार यही दिशा जिंदगी में स्थायित्व देने वाली होती है। घर का दक्षिण-पश्चिम हिस्सा हमारी बचत, पैसा, प्रसिद्धि, पेट से नीचले हिस्से के रोग, बिज़नेस का नुकसान जैसी बातों से से जुड़ा है। इस हिस्से में कोई भी दोष होने से इस तरह की परेशानियां आती हैं।

घर के इस हिस्से में कैसे होता है दोष -

- घर की दक्षिण-पश्चिम दिशा में बोरिंग या कोई पानी का सोर्स होना सबसे बड़ा दोष होता है। जिससे घर में कभी भी शांति नहीं रहती। इसी कारण घर का कोई सदस्य गलत आदतों का शिकार होता है।

- घर के इस कोने में किचन या टॉयलेट भी नहीं होना चाहिए। ऐसा होने से घर के लोग गलत कामों में लग जाते हैं और धीरे-धीरे वहां रहने वाले लोगों का बुरा समय शुरू हो जाता है।

- घर का ये कोना टूटा हुआ या आधा-अधूरा नहीं हाेना चाहिए। ऐसा होता है तो उस घर में रहने वाले लोगों पर कर्जा बहुत ज्यादा हो जाता है और उस घर में रहने वाले लोग गलत कदम उठा लेते हैं।