• Hindi News
  • Religion
  • Vastu
  • Vastu tips in hindi vastu dosh door karne ke upay tips for putting waterfall and fountain in home or garden area

वास्तु का विज्ञान /क्यों घरों में लगाते हैं बहते हुए झरने, नदियों और पानी की तस्वीर या शो-पीस



Vastu tips in hindi vastu dosh door karne ke upay tips for putting waterfall and fountain in home or garden area
X
Vastu tips in hindi vastu dosh door karne ke upay tips for putting waterfall and fountain in home or garden area

  • ड्राइंग रूम से गलियारे और बालकनी तक में रखे जाते हैं वाटर शो-पीस

Dainik Bhaskar

Jun 17, 2019, 04:45 PM IST

जीवन मंत्र डेस्क. वास्तु शास्त्र को विज्ञान माना गया है। छोटे घरों से लेकर बड़ी टाउनशिप्स तक में वास्तु के अनुसार निर्माण का चलन बढ़ता जा रहा है। वास्तव में, वास्तु प्रकृति के पांच तत्व (धरती, अग्नि, वायु, आकाश और पानी) के संतुलन का विज्ञान है। सही दिशा में चीजों को रखना और उनसे निकलने वाली ऊर्जा का सकारात्मक प्रभाव लेना ही इस विज्ञान का उद्देश्य है।

 

अक्सर वास्तु सलाहकार घरों में फव्वारा, झरना या पानी से जुड़ा कोई शोपीस या तस्वीर लगाने की सलाह देते हैं। ये सलाह वास्तव में उस घर के जल तत्व को संतुलित करने और जल की ऊर्जा का सकारात्मक प्रभाव लेने के लिए होती है। बहता पानी अपने आसपास के माहौल में एक तरह की गतिशीलता लाता है। इससे पानी का स्वभाव बहना और गतिशील रहना है। इंसान के दिमाग में भी ज्यादातर भाग पानी से जुड़ा ही माना गया है। इस कारण,पानी के आसपास गतिशील रहने से वहां रहने वाले इंसानों के व्यक्तित्व पर बहुत असर होता है। दिमाग तेजी से चलता है, हमेशा एक्टिव रहते हैं।

 

जिस प्रकार से वास्तु शास्त्र में दिशाओं का ध्यान रखते हुए हर काम किया जाता है, उसी तरह से फेंगशुई में भी कौन-सी दिशा कैसी हो, कैसी वस्तु की स्थापना किस दिशा में करना चाहिए इन सभी बातों का पूरा ख्याल रखा जाता है। ऐसा इसलिए क्योंकि यही दिशाएं हमें तरक्की दिलाती हैं। वास्तु के अनुसार घर में पानी का स्थान कहां होना चाहिए, जिससे की घर के लोगों को कई फायदे और तरक्की मिले।

  • गलियारे या बालकनी में

    घर के सदस्यों या फैमिली बिजनेस को बेडलक या लोगों की बुरी नजर से बचाए रखने के लिए गलियारे या बालकनी में पानी से संबंधित कोई तस्वीर या शो-पीस रखना चाहिए।

  • उत्तर-पूर्व दिशा में

    घर की उत्तर-पूर्व दिशा में मिट्टी के बने बर्तन या सुराही में पानी भरकर रखना चाहिए। ऐसा करने से घर के लोगों का दुर्भाग्य खत्म होता है और हर काम में सफलता मिलती है।

  • किचन में

    पानी से जुड़ा कोई भी शो-पीस या तस्वीर किचन में नहीं लगाना चाहिए। किचन में पाने से पानी या किचन के काम में प्रयोग आने वाले पानी के अलावा जल संबंधी कोई भी वस्तु रखना अच्छा नहीं माना जाता।

  • इस तरह लगाए वाटरफॉल

    यदि आपके घर में गार्डन एरिया है तो आप वहां वाटरफॉल लगवा सकते हैं। घर में वाटरफॉल की दिशा इस तरह से होनी चाहिए कि पानी का प्रवाह आपके घर की दिशा में हो। यह बाहर की ओर कभी नहीं जाना चाहिए।

  • फाउंनटेन लगाने की सही दिशा

     

    यदि आप फाउंनटेन घर में लगवा रहे हैं तो इसे घर की उत्तर या दक्षिण-पूर्व दिशा में लगना सकते हैं। ऐसा करने से फाउंनटेन गुडलक और तरक्की लाता है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना