• Hindi News
  • Rsmssb patwari exam
  • Said Action Started Against Copying Gang Even Before The Patwari Exam, This Time Strict Action Will Be Taken Against Those Who Leak Slippers To Paper

पटवारी परीक्षा में भी नकल का खतरा:बोर्ड अध्यक्ष बोले- खुफिया रणनीति तैयार है, न तो हाईटेक चप्पल चलेगी और न ही डमी कैंडिडेट

जयपुर2 महीने पहलेलेखक: स्मित पालीवाल
राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड अध्यक्ष हरिप्रसाद शर्मा।

राजस्थान में रीट और पुलिस सब इंस्पेक्टर भर्ती परीक्षा में नकल गिरोह और पेपर लीक के मामले सामने आए थे। ऐसे नकल और पेपर लीक प्रकरणों के चलते परीक्षा आयोजित करवाने वाले बोर्ड अपनी साख खोते जा रहे हैं। ऐसी ही आशंकाओं के बीच 23 और 24 अक्टूबर को पटवारी भर्ती परीक्षा आयोजित होने जा रही है। इस परीक्षा में 15 लाख से भी ज्यादा अभ्यर्थी बैठेंगे। नकल गिरोह के खतरे के बीच खास बात यह है कि इस बार 10 जिलों में परीक्षा केन्द्र ही नहीं रखे गए हैं। यहां तक कि शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा के गृह जिले सीकर को भी परीक्षा केन्द्र से बाहर रखा गया है। परीक्षा करवाने का जिम्मा राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड (RSMSSB) के पास है। ऐसे में दैनिक भास्कर ने बोर्ड के अध्यक्ष हरिप्रसाद शर्मा से खास बातचीत कर उन सवालों के जवाब लिए, जो हर अभ्यर्थी जानना चाहता है। पेश है खास बातचीत के कुछ अंश...

सवाल- पटवारी भर्ती परीक्षा में नकल रोकने के लिए क्या तैयारी की गई है?
जवाब-
राजस्थान में होने वाली पटवारी भर्ती परीक्षा में नकल की बिल्कुल भी संभावना नहीं है। हर परीक्षा केंद्र पर वीक्षक (Invigilator) से लेकर पुलिस जवान चप्पे-चप्पे पर निगरानी रखेंगे। इसके साथ ही परीक्षा से पहले ही हमारी टीम लगातार नकल गैंग की जानकारी जुटाकर पुलिस और स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप को दे रही है। ताकि चप्पल गैंग से लेकर पेपर आउट करने वालों को परीक्षा से पहले ही पकड़ा जा सके। इसके साथ ही इस बार हमने परीक्षा केंद्र पर नई व्यवस्था लागू की है। इससे नकल और धांधली को पूरी तरह रोका जा सकेगा।

सवाल- क्या कुछ जिलों में परीक्षा केंद्र नहीं होंगे और वजह क्या है?
जवाब- बोर्ड अध्यक्ष ने बताया कि दस जिलों में पटवारी भर्ती परीक्षा के लिए कोई केंद्र नहीं होगा। बोर्ड ने पिछली परीक्षाओं का अध्ययन कराया तो सामने आया कि यहां या तो नकल के मामले ज्यादा आते रहे हैं या फिर पेपर लीक वाली गैंग या नकल गिरोह सक्रिय रहते हैं। इसलिए अतिरिक्त सावधानी बरतते हुए ये फैसला लिया है।

इन जिलों में नहीं रखे गए परीक्षा केन्द्र
1. बाड़मेर 2. चूरू 3. धौलपुर 4. जैसलमेर 5. जालोर 6. झुंझुनूं 7. करौली 8. पाली 9. प्रतापगढ़ 10. सीकर।

सवाल- फर्जी अभ्यर्थियों की बढ़ती संख्या को देखते हुए क्या पटवारी परीक्षा में बायोमेट्रिक अटेंडेंस होगी?
जवाब-
फिलहाल मैं हमारी रणनीति को उजागर नहीं करना चाहता हूं, लेकिन अब से पहले जो भी परीक्षाएं हुई हैं, उनसे बेहतर व्यवस्था इस बार पटवारी परीक्षा में की जाएगी। ताकि किसी भी तरह के फर्जी अभ्यर्थी को पकड़ा जा सके।

सवाल- पिछले दिनों हुई प्रतियोगी परीक्षाओं में प्रश्न पत्र के काफी सवाल चुनिंदा पुस्तकों में से ही आए हैं। इस तरह की लापरवाही को किस तरह रोका जाएगा?
जवाब-
पटवारी भर्ती परीक्षा के प्रश्न पत्र तैयार करने के लिए विशेष सतर्कता बरती गई है। देशभर के विशेषज्ञों की टीम द्वारा प्रश्न पत्र तैयार हुए हैं, जिन्हें किसी विशेष पाठ्य पुस्तक से तैयार नहीं किया गया है। ऐसे में पटवारी भर्ती परीक्षा में इस तरह की शिकायत नहीं आएगी।

सवाल- भर्ती परीक्षा के दौरान काफी अभ्यर्थी असंतुष्ट होकर कोर्ट में चले जाते हैं, जिससे परिणाम रुक जाता है। इसे रोकने के लिए क्या तैयारी है?
जवाब-
हमारा काम परीक्षा को सुरक्षित, पारदर्शी और अच्छे तरीके से आयोजित करने का है। छात्रों के कोर्ट जाने पर हमारा नियंत्रण नहीं है। ऐसे में इस पर हम कुछ नहीं कर सकेंगे।

सवाल- कई जिलों में पटवारी परीक्षा का आयोजन नहीं हो रहा है। वहां के अभ्यर्थियों के लिए क्या व्यवस्था की गई है?
जवाब-
राजस्थान के किसी भी अभ्यर्थी को परीक्षा के दौरान परेशान नहीं होना पड़ेगा। प्रदेश के कुछ जिलों में परीक्षा का आयोजन नहीं होगा, लेकिन वहां के अभ्यर्थियों को नजदीक वाले जिले में ही परीक्षा केंद्र आवंटित किया जाएगा। ताकि वह आसानी से वहां तक पहुंच सके।

सवाल- प्रदेश भर के लाखों अभ्यर्थी पटवारी भर्ती परीक्षा में बैठेंगे। क्या इसमें भी रीट की तरह अभ्यर्थियों के लिए रहने, ठहरने और अन्य व्यवस्था की गई है?
जवाब-
पटवारी भर्ती परीक्षा के दौरान अभ्यर्थियों के लिए ठहरने की विशेष व्यवस्था की जरूरत नहीं होगी। क्योंकि प्रत्येक अभ्यर्थी को उसके नजदीकी जिले में ही परीक्षा केंद्र आवंटित किया गया है। ऐसे में अभ्यर्थी परीक्षा देकर उसी दिन फिर से अपने गृह जिले में जा सकता है। इसके साथ ही अभ्यर्थियों के भोजन की व्यवस्था के लिए कर्मचारी चयन बोर्ड द्वारा कोई व्यवस्था नहीं की गई है। हालांकि कई जिलों में स्वयंसेवी संस्थाओं और भामाशाह द्वारा अभ्यर्थियों के लिए भोजन पैकेट बनाए जा रहे हैं।

सवाल- एडमिट कार्ड कब जारी होंगे, क्योंकि बसें फ्री रहेंगी तो अभ्यर्थी को सेंटर की जानकारी पहले मिलने में आसानी रहेगी ?
जवाब-
परीक्षा से कम से कम एक सप्ताह पूर्व एडमिट कार्ड जारी कर दिए जाएंगे। एडमिट कार्ड वेबसाइट पर अपलोड की तैयारी पूरी कर ली है। जल्द ही जारी कर देंगे। इसके लिए अभ्यर्थी हमारी ऑफिशियल वेबसाइट लगातार देखते रहें।

सवाल- प्रदेश में भर्ती परीक्षाओं के दौरान नकल गैंग काफी सक्रिय है?
जवाब- हां बिल्कुल राजस्थान के अभ्यर्थियों के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने वाले हर व्यक्ति के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए। सरकार के साथ पुलिस प्रशासन भी नकल गैंग को पकड़ने के लिए लगातार सक्रिय है। मुझे उम्मीद ही नहीं पूरा विश्वास है। सरकार दोषियों को किसी भी सूरत में नहीं छोड़ेगी।

आपके सवाल हमें कैसे भेजें, नीचे दिए लिंक पर फॉर्म भरें
​​​​
पटवारी भर्ती से जुड़ी हर एक्सपर्ट की खबर में आपको सबसे आखिरी में एक लिंक मिलेगा। क्लिक करने के बाद 'पटवारी भर्ती की तैयारी में दैनिक भास्कर कैसे बने मददगार' नाम से नया पेज खुलेगा। यहां आपको अपने सवाल हमें भेजने होंगे। इनमें से कॉमन समस्या से जुड़े सवालों के जवाब हम एक्सपर्ट से लेंगे, जिन्हें आप इसी सेगमेंट में आकर पढ़ सकेंगे। नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक कर अपने विचार हमें जरूर भेजें।

इस लिंक पर CLICK कर भेजें अपने सवाल, एक्सपर्ट देंगे इसका जवाब

पटवारी भर्ती परीक्षा-2021:तैयारी के लिए दैनिक भास्कर ऐप पर मेगा टेस्ट सीरीज आज से, एग्जाम पैटर्न पर आधारित 150 प्रश्नों को हल कर चेक करें ANSWER KEY

पटवारी भर्ती- 2021 के सक्सेस मंत्र:दैनिक भास्कर ऐप पर आज से स्पेशल सीरीज, सब्जेक्ट एक्सपर्ट की टीम देगी हर सवाल का जवाब, जानिए कैसे करें तैयारी

पटवारी भर्ती परीक्षा में English की तैयारी:पिक्चर की तरह इमेजिन करें Passage, एग्जाम में 11 प्रश्न बना सकते हैं अच्छी रैंक, अपनाएं ये 15 एक्सपर्ट टिप्स

खबरें और भी हैं...