फ्रांस 20 साल बाद फिर चैम्पियन, क्रोएशिया को 4-2 से हराया; लगातार 7वें मैच में पहला गोल दागकर विपक्षी टीम पर दबाव बनाया

फ्रांस ने 1998 वर्ल्ड कप फाइनल में ब्राजील को 3-0 से हराया था

DainikBhaskar.com| Last Modified - Jul 15, 2018, 10:24 PM IST

France became fifa world cup 2018 champion beats Croatia
फ्रांस 20 साल बाद फिर चैम्पियन, क्रोएशिया को 4-2 से हराया; लगातार 7वें मैच में पहला गोल दागकर विपक्षी टीम पर दबाव बनाया

- फ्रांस ने इस वर्ल्ड कप में 7 में से 6 मैच जीते, 1 ड्रॉ

- क्रोएशिया ने अब तक जितने वर्ल्ड कप खेले, उनमें फ्रांस के खिलाफ दूसरी हार

 

मॉस्को. फ्रांस ने 21वां फुटबॉल वर्ल्ड कप जीत लिया। रविवार को रूस के लुझिनकी स्टेडियम में खेले गए फाइनल में उसने क्रोएशिया को 4-2 से हराया। फ्रांस दूसरी बार वर्ल्ड चैम्पियन बना है। इससे पहले उसने 1998 वर्ल्ड कप फाइनल में ब्राजील को 3-0 से हराया था। फाइनल में जीत के साथ फ्रांस ने वर्ल्ड कप करियर में क्रोएशिया के खिलाफ जीत का रिकॉर्ड बरकरार रखा। इससे पहले फ्रांस ने 1998 के वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में क्रोएशिया को 2-1 से हराया था। इस वर्ल्ड कप में फ्रांस ने हर मैच में पहला गोल करके विपक्षी टीम पर दबाव बनाया। उसने हर मैच 90 मिनट के अंदर जीता। फ्रांस ने फाइनल समेत कोई भी मुकाबला एक्स्ट्रा टाइम या पेनल्टी शूटआउट तक नहीं पहुंचने दिया।

पहला गोल (18वें मिनट): क्रोएशिया के स्ट्राइकर मारियो मांजुकिच ने आत्मघाती गोल किया। फ्रांस 1-0 से आगे।

दूसरा गोल (28वें मिनट): क्रोएशिया के मिडफील्डर इवान पेरीसिच ने डोमागोज विदा के एसिस्ट पर गोल किया। स्कोर 1-1 से बराबर।

तीसरा गोल (38वें मिनट): फ्रांस के स्ट्राइकर एंटोनी ग्रीजमैन ने पेनल्टी को गोल में बदला। फ्रांस 2-1 से आगे।

चौथा गोल (59वें मिनट)फ्रांस के मिडफील्डर पॉल पोग्बा ने एंटोनी ग्रीजमैन के रिबाउंड पर गोल किया। फ्रांस 3-1 से आगे।

पांचवां गोल (65वें मिनट)फ्रांस के मिडफील्डर किलिएन एम्बाप्पे ने लुकास हर्नांडेज के एसिस्ट पर गोल किया। फ्रांस 4-1 से आगे।

छठा गोल ( 69वें मिनट): क्रोएशिया के स्ट्राइकर मारियो मांजुकिच ने गोल किया। फ्रांस की कम होकर 4-2 हुई।

 

मांजुविच के आत्मघाती गोल से फाइनल में क्रोएशिया के खिलाफ बढ़त लीः फ्रांस ने ग्रुप स्टेज के 3 मुकाबलों में 2 जीते और एक ड्रॉ खेला। उसने पहले मैच में ऑस्ट्रेलिया को 2-1, दूसरे में पेरू को 1-0 से हराया। डेनमार्क के खिलाफ तीसरा मैच ड्रॉ रहा। नॉकआउट दौर के पहले मैच में अर्जेंटीना को 4-3 से हराया। क्वार्टर फाइनल में उरुग्वे के खिलाफ 2-0 से जीत दर्ज की। सेमीफाइनल में बेल्जियम को 1-0 से हराया। फाइनल में क्रोएशिया को 4-2 से हराकर चैम्पियन बना।

टीम के 23 में से सिर्फ 8 खिलाड़ी ही 25 साल से ज्यादाः फ्रांस के कोच डिडिएर डैसचैम्प्स विश्व कप के लिए टीम चुनने में युवा बिग्रेड को तवज्जो दी। उनकी टीम के 15 खिलाड़ी 25 या इससे कम उम्र के हैं। उनकी टीम की औसत आयु 25.5 साल है। वहीं क्रोएशिया की टीम के खिलाड़ियों की औसत आयु 27.5 साल है। उसके सिर्फ 7 खिलाड़ी ही 25 या उससे कम उम्र के हैं।

डैचचैम्प्स ने खिलाड़ी और कोच के तौर पर जीता वर्ल्ड कपः  फ्रांस ने जब 1998 में वर्ल्ड कप जीता था, तब डिडिएर डैसचैम्प्स टीम में थे। वे मौजूदा टीम के कोच हैं। डैसचैम्प्स दुनिया के तीसरे ऐसे शख्स हैं, जो एक खिलाड़ी और कोच के तौर पर फुटबॉल विश्व कप चैम्पियन टीम का हिस्सा बने। उनसे पहले ब्राजील के मारियो जागालो और जर्मनी के फ्रांज बेककेनबायुएर ने कोच और खिलाड़ी से तौर पर वर्ल्ड कप जीते हैं।

Topics:
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now