हिमा दास को टोक्यो ओलिंपिक तक आर्थिक मदद देगी सरकार, वर्ल्ड अंडर-20 एथलेटिक्स में जीता था गोल्ड

हिमा ने फिनलैंड में गोल्ड जीतने के बाद पिता से फोन पर कहा, जब आप सब सो रहे थे तब मैंने दुनिया में धमाल मचा दिया

DainikBhaskar.com| Last Modified - Jul 15, 2018, 08:49 AM IST

Hima Das to receive government funding till Tokyo Olympics
हिमा दास को टोक्यो ओलिंपिक तक आर्थिक मदद देगी सरकार, वर्ल्ड अंडर-20 एथलेटिक्स में जीता था गोल्ड

नई दिल्ली. फिनलैंड में वर्ल्ड अंडर-20 एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में 400 मीटर में गोल्ड मेडल जीतने वालीं हिमा दास को सरकार आर्थिक मदद देगी। हिमा को यह मदद सरकार की टारगेट ओलिंपिक पोडियम योजना के तहत 2020 टोक्यो ओलिंपिक तक दी जाएगी। हालांकि पहले हिमा को अगले महीने होने वाले एशियाई खेलों तक ही आर्थिक मदद मिलनी थी। स्पोर्ट्स इंडिया (पूर्व का नाम स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया) की महानिदेशक (डीजी) नीलम कपूर ने शनिवार को इसकी पुष्टि की।

हिमा विश्व स्तर पर किसी भी ट्रैक इवेंट में गोल्ड मेडल जीतने वालीं पहली भारतीय हैं। यही नहीं उनसे पहले किसी भी महिला एथलीट ने वर्ल्ड चैम्पियनशिप में जूनियर, यूथ और सीनियर लेवल पर कभी भी गोल्ड मेडल नहीं जीता है। अब वे भाला फेंक खिलाड़ी नीरज चोपड़ा के एलीट क्लब में शामिल हो गईं। नीरज ने 2016 में पोलैंड में हुई वर्ल्ड जूनियर चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीता था और विश्व रिकॉर्ड बनाया था।

 

हर महीने मिलेंगे 50,000 रुपए

नीलम कपूर ने कहा, "गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स में शानदार प्रदर्शन के बाद हिमा को मंत्रालय की टारगेट ओलिंपिक पोडियम योजना में शामिल किया गया है। योजना के तहत उन्हें हर महीने 50,000 रुपए आउट ऑफ पाकेट (ओपीए) भत्ता और ओलिंपिक की तैयारी तक हर तरह की आर्थिक मदद दी जाएगी।" असम के नौगांव जिले के धींग गांव की रहने वाली हिमा ने फिनलैंड में 51.46 सेकंड में 400 मीटर की दूरी तय करके गोल्ड मेडल जीता था। नीलम कपूर ने कहा, "गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स के बाद हिमा और 400 मीटर के अन्य एथलीट्स को पोलैंड में सपाला ओलिंपिक अभ्यास केंद्र भेजा गया, जिसका पूरा खर्च सरकार ने उठाया।"

 

नरेंद्र मोदी ने हिमा दास को सराहा
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को उत्तर प्रदेश में एक जनसभा में हिमा की तारीफ की। उन्होंने कहा, "एक छोटे के गांव से आने वाली, एक किसान की बेटी हिमा ने 18 महीने पहले सिर्फ जिला स्तर पर खेला था लेकिन अब उन्होंने विश्व स्तर पर इतिहास रचते हुए देश का गौरव बढ़ाया है।" इससे पहले सुबह उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर हिमा का वीडियो जारी किया। साथ ही लिखा, "न भूलने वाला पल। जीतने के बाद उनका तिरंगे के लिए भागना और राष्ट्रगान के वक्त भावुक होने ने मुझे भी भावुक कर दिया। किस भारतीय को इसे देखकर आंसू नहीं आएंगे।"

 

Topics:
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now