टेनिस

--Advertisement--

20 साल के सितसिपास ने पहला ग्रैंडस्लैम पिछले साल खेला, अब एक टूर्नामेंट में टॉप-10 के 3 खिलाड़ियों को हराने वाले सबसे युवा

सितसिपास ने टोरंटो मास्टर्स टेनिस टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बना ली, जहां उनका राफेल नडाल से होगा

Dainik Bhaskar

Aug 12, 2018, 10:34 AM IST
सितसिपास ने सेमीफाइनल में दक् सितसिपास ने सेमीफाइनल में दक्

  • सितसिपास पहली बार किसी एटीपी मास्टर्स के फाइनल में पहुंचे
  • 2016 में विंबलडन जूनियर पुरुष डबल्स का खिताब भी जीता
  • सितसिपास ने टॉप-10 में शामिल डोमिनिक थिएम, जोकोविच, ज्वेरेव को हराया

टोरंटो. स्टीफानोस सितसिपास यूनान के नंबर-1 टेनिस खिलाड़ी हैं। 20 साल के सितसिपास वर्तमान एटीपी टॉप-100 में शामिल तीसरे सबसे युवा और यूनान के एकमात्र खिलाड़ी हैं। वे ओपन एरा में यूनान के सबसे सफल पुरुष टेनिस खिलाड़ी हैं। उनकी एटीपी रैंकिंग 27 है। वे यूनान के टेनिस इतिहास में सिर्फ दूसरे खिलाड़ी हैं, जो टॉप-100 में जगह बना सके हैं। 2017 में उन्होंने फ्रेंच ओपन से ग्रैंड स्लैम डेब्यू किया था। वे एक टूर्नामेंट में टॉप-10 के तीन खिलाड़ियों को हराने वाले 12 साल में सबसे युवा खिलाड़ी बने। टोरंटो मास्टर्स के फाइनल उनका मुकाबला स्पेन के राफेल नडाल से होगा।

पिता रह चुके हैं टेनिस कोच: सितसिपास 12 अगस्त 1998 को जन्मे। यानी, वे रविवार को 20 साल के हो जाएंगे। उनके पिता एपोसतोलोस यूनान के और मां यूलिया सेलिनकोवा रूसी मूल की थीं। सितसिपास के पिता टेनिस कोच और मां प्रोफेशनल टेनिस खिलाड़ी रह चुकी थीं। उनके नानाजी सर्जिय सेलनिकोव सोवियत यूनियन की ओर से फुटबॉल खेल चुके थे। सितसिपास ने तीन साल की उम्र से पिता से ही ट्रेनिंग लेना शुरू किया था। सितसिपास ने 15 साल की उम्र में जूनियर करिअर शुरू किया। इसके एक साल बाद ही वे जूनियर टेनिस के प्रतिष्ठित ऑरेंज बॉल टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंच गए थे।

ट्रेनिंग के लिए यूनान छोड़ा: 2015 में उन्होंने फ्रांस की मोराटोगलू टेनिस अकादमी में ट्रेनिंग लेने के लिए यूनान छोड़ दिया। यह उनके करिअर का टर्निंग प्वाइंट साबित हुआ। एक साल बाद ही वे जूनियर वर्ल्ड नंबर-1 बन गए। 2017 में उन्होंने विंबलडन के मुख्य ड्रॉ में भी जगह बनाई। फिर नेक्स्ट जेन एटीपी फाइनल्स के लिए भी क्वालिफाई किया। अप्रैल 2018 में वे बार्सिलोना ओपन के फाइनल में पहुंचे। टोरंटो मास्टर्स के फाइनल तक पहुंचने में टॉप-10 रैंकिंग में शामिल तीन खिलाड़ियों को शिकस्त दी है। इन उपलब्धियों के अलावा उनके नाम कई और भी कारनामे दर्ज हैं। वे जूनियर वर्ल्ड नंबर-1 भी रह चुके हैं। वे 2016 में विंबलडन जूनियर पुरुष डबल्स का खिताब भी जीत चुके हैं। तब वे 53 साल में यूनान के पहले खिलाड़ी बने थे, जिन्होंने किसी भी डिविजन में ग्रैंड स्लैम जीता हो।

सितसिपास ने कहा- टेनिस ने सब कुछ दिया: सितसिपास को फुटबॉल, टेबल टेनिस, बास्केटबॉल और वीडियो गेम्स खेलना पसंद है। उन्हें दुनिया घूमना, नया कल्चर सीखना, नए लोगों से मिलना, नई-नई चीजें सीखना खासा पसंद है। सितसिपास कहते हैं, 'टेनिस ने मुझे वह सब कुछ दिया, जो मुझे पसंद है। अगर मैं खेल से नहीं जुड़ा होता, तो मुझे यह सब नहीं मिलता। मैं किसी स्कूल में बैठा होता। मैं इसके लिए खेल को शुक्रिया अदा करता हूं।'

X
सितसिपास ने सेमीफाइनल में दक्सितसिपास ने सेमीफाइनल में दक्
Click to listen..