महेंद्र सिंह धोनी ने की टीम इंडिया के कप्तान की तारीफ, कहा- विराट कोहली पहले से ही लेजेंड बनने के करीब

विराट ने इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट में 149 और 51 रन की पारी खेली थी

DainikBhaskar.com| Last Modified - Aug 07, 2018, 09:50 PM IST

Virat Kohli is already close to being a legend: Mahendra Singh Dhoni
महेंद्र सिंह धोनी ने की टीम इंडिया के कप्तान की तारीफ, कहा- विराट कोहली पहले से ही लेजेंड बनने के करीब

मुंबई.    विराट कोहली भले ही इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट में टीम इंडिया को जीत नहीं दिला पाए हों, लेकिन महेंद्र सिंह धोनी की नजर में भारतीय टीम का यह कप्तान लीजेंड बनने के करीब है। विराट कोहली ने अपने टेस्ट (जून, 2011) और वनडे (अगस्त, 2008) कॅरियर की शुरुआत धोनी की कप्तानी में ही की थी। यहां एक कार्यक्रम में धोनी ने कहा, 'वे (कोहली) सर्वश्रेष्ठ हैं और पहले से ही उस मुकाम पर पहुंच चुके हैं, जहां से वे लीजेंड बनने के करीब हैं। इसलिए मैं उनसे बहुत खुश हूं। वे जिस तरह से पिछले कुछ वर्षों में हर देश में अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं, वह लाजवाब है। वे टीम को आगे लेकर जा रहे हैं। आप एक नेतृत्वकर्ता से यही तो चाहते हैं। इसलिए मेरी उनको शुभकामनाएं।' 

 

 

क्रिकेट वर्ल्ड कप तक संन्यास नहीं लेंगेः बातचीत के दौरान इस स्टार विकेटकीपर बल्लेबाज ने अपने क्रिकेट भविष्य को लेकर की जा रही अटकलबाजियों पर विराम लगाया। उन्होंने स्पष्ट किया कि इंग्लैंड में 2019 में होने वाले विश्व कप तक वे कोई फैसला नहीं करने जा रहे हैं। पिछले महीने इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी वनडे के बाद धोनी ने अंपायर से मैच में इस्तेमाल गेंद देने के लिए कहा था। तब से उनके संन्यास को लेकर अटकलें लगाई जा रही हैं। हालांकि उन्होंने बताया कि वे अगले साल की महत्वपूर्ण प्रतियोगिता के लिए होमवर्क कर रहे थे। 

 

अंपायर से गेंद मांगना तैयारी का हिस्साः उन्होंने कहा, "मैंने गेंद इसलिए मांगी क्योंकि मैं यह देखना चाहता था कि हम पर्याप्त रिवर्स स्विंग क्यों नहीं हासिल कर पाए। हमें 2019 में इंग्लैंड में ही विश्व कप खेलना है। हमें यह जानना होगा कि रिवर्स स्विंग कैसे मिले, क्योंकि मैच जीतने के लिए यह अहम है। अगर विरोधी टीम को रिवर्स स्विंग मिलती है तो हमें भी मिलनी चाहिए। मैच खत्म होने के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के लिए गेंद का कोई उपयोग नहीं रह जाता है, इसलिए मैंने अंपायर से अनुरोध किया कि क्या मैं गेंद ले सकता हूं। मैंने गेंद लेकर अपने गेंदबाजी कोच को दे दी।"

 

20 विकेट लिए बिना जीत असंभवः पहला टेस्ट गंवाने के बाद भारत कैसे सीरीज जीत सकता है, के सवाल पर धोनी ने कहा, "टेस्ट जीतने के लिए आपको 20 विकेट लेने होते हैं, इसलिए यह मायने नहीं रखता कि आपने कितनी अच्छी बल्लेबाजी की। आपने 5 दिन कितने अच्छे से बिताए। आप 20 विकेट लेने पर ही टेस्ट जीत सकते हैं।"

Topics:
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now