वर्ल्ड कप 2018 में खेलने वाले 736 फुटबॉलर्स में से सिर्फ 7.2 फीसदी ही कर सके हैं गोल, जर्मनी के थॉमस मुलर के सबसे ज्यादा 10 गोल

विश्व कप में सबसे ज्यादा गोल करने वाले देशों में जर्मनी पहले स्थान पर है। उसने कुल 224 गोल किए।

DainikBhaskar.com| Last Modified - Jun 11, 2018, 01:28 AM IST

1 of
World Cup 2018: only 7.2 percent out of 736 player score goals in worldcup
जर्मनी की टीम ने अब तक कुल 18 वर्ल्डकप खेले हैं।-फाइल

  • अर्जेंटीना के कप्तान लियोनल मेसी ने 3 विश्वकप में 5 गोल दागे
  • पुर्तगाल के क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने 3 विश्वकप में 3 गोल किए
  • प्रति मैच गोल करने के मामले में ब्राजील के नेमार जूनियर सबसे आगे

खेल डेस्क.  रूस में 14 जून से 21वां फीफा फुटबॉल वर्ल्ड कप होना है। इसमें 32 टीमों के 736 खिलाड़ी हिस्सा लेंगे। ऐसे में इनके प्रदर्शन को लेकर भी चर्चा शुरू हो गई है। फुटबॉल के मैच का सबसे रोमांचक पहले गोल होता है। हालांकि रूस जाने वाले फुटबॉलर्स में से 53 यानी 7.2 फीसदी ही ऐसे हैं, जो इससे पहले हुए विश्व कप में गोल कर सके हैं। इनमें जर्मनी के थॉमस मुलर सबसे आगे हैं। उन्होंने 13 मैच में 10 गोल किए हैं। इस बार लियोनेल मेसी, क्रिस्टियानो रोनाल्डो और नेमार जूनियर की बहुत ज्यादा चर्चा हो रही है। नेमार को छोड़ दें तो मेसी और रोनाल्डो विश्व कप में गोल करने के मामले में फिसड्डी ही कहे जाएंगे। नेमार ने विश्व कप में 5 मैच में 4 गोल किए हैं।

 

ब्राजील से भी आगे जर्मनी
- अगर टीमों की बात की जाए तो जर्मनी ने 18 बार टूर्नामेंट में हिस्सा लिया और 224 गोल किए। सबसे ज्यादा 20 बार विश्व कप खेल चुकी ब्राजील की टीम इस मामले में दूसरे पायदान पर है। उसके गोल की संख्या 221 है। इन दोनों के अलावा कोई भी टीम 200 गोल का आंकड़ा नहीं छू सकी है। 

 

विश्व कप में ब्राजील ने जर्मनी से 2 मैच ज्यादा खेले, लेकिन 3 गोल कम किए

देश विश्वकप खेले मैच गोल
जर्मनी 18 218 224
ब्राजील 20 227 221
अर्जेंटीना 16 140 131

 

मुलर ने 0.77 की औसत से गोल किए
- रूस गए फुटबॉलर्स में गोल करने के मामले में मुलर पहले और मेसी 5वें स्थान पर हैं। मुलर ने 13 विश्व कप मैच में 10 गोल किए हैं। उनका गोल करने का औसत प्रति मैच 0.77 है। उनके बाद दूसरे नंबर ऑस्ट्रेलिया के टिम काहिल हैं। काहिल ने 0.62 की औसत से 8 मैच में 5 गोल किए हैं। इससूची में अर्जेंटीना के दो खिलाड़ी मेसी और गोंजालो हिगुएन हैं। गोल औसत के मामले में नेमार जूनियर सबसे आगे हैं। उन्होंने 0.88 प्रति मैच के हिसाब से गोल किए हैं। 

 

मेसी-सुआरेज से भी आगे मुलर

खिलाड़ी देश मैच गोल गोल प्रति मैच
थॉमस मुलर जर्मनी 13 10 0.77
टीम काहिल ऑस्ट्रेलिया 8 5 0.62
लुईस सुआरेज उरुग्वे 8 5 0.62
गोंजालो हिगुएन अर्जेंटीना 11 5 0.45
लियोनल मेसी अर्जेंटीना 14 5 0.36

 

मेसी-रोनाल्डो का विश्व कप में खराब प्रदर्शन
- लियोनल मेसी और क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने अब तक 3-3 विश्व कप खेले हैं। लेकिन, दोनों कुछ खास नहीं कर पाए हैं। मेसी का ये चौथा विश्व कप होगा। उन्होंने 2006, 2010 और 2014 के संस्करणों में भाग लिया। 15 मुकाबलों में वे सिर्फ पांच गोल कर पाये। हालांकि, उन्हें कोई येलो और रेड कार्ड नहीं दिखाया गया। 
- 2006, 2010 और 2014 में विश्व कप खेलने वाले रोनाल्डो का रिकॉर्ड मेसी से भी खराब रहा है। उन्होंने 13 मैच में केवल 3 गोल किए हैं। 2014 में तो उनकी टीम दूसरे दौर में भी नहीं पहुंच पाई थी। रोनाल्डो को दो येलो कार्ड मिला है लेकिन उन्हें एक भी रेड कार्ड नहीं दिया गया।

 

1998 और 2014 में लगे थे सबसे ज्यादा गोल
-एक विश्व कप में सबसे ज्यादा गोल 1998 और 2014 में हुए। इन दोनों संस्करण 171-171 गोल लगे। 2014 में कुल 121 खिलाड़ियों ने गोल किए थे। जिनमें से 84 ने एक-एक गोल दागा था। कुल 20 वर्ल्ड कप में 1456 खिलाड़ियों ने 2377 गोल किए हैं। 1930 में सबसे कम 37 खिलाड़ियों ने ही गोल किया था।

World Cup 2018: only 7.2 percent out of 736 player score goals in worldcup
मुलर ने अब तक तीन विश्व कप खेले हैं।-फाइल
prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now