पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • AFC Asian Cup 2019: Qatar Vs Japan Final In UAE Preview, News And Updates

एशियन कप फाइनल आज, कतर का मुकाबला चार बार के चैम्पियन जापान से

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • जापान 1992, 2000, 2004 और 2011 में फाइनल जीत चुका है
  • कतर और जापान के बीच पिछला मुकाबला 2011 में हुआ था
  • मैच का प्रसारण शाम 7:30 बजे से स्टार स्पोर्ट्स नेटवर्क पर

खेल डेस्क. एएफसी एशियन कप के फाइनल में शुक्रवार को जापान का मुकाबला कतर से होगा। चार बार की चैम्पियन जापान की टीम आठ साल बाद खिताब जीतना चाहेगी। वहीं, पहली बार फाइनल में पहुंचा कतर खाली हाथ लौटना नहीं चाहेगा। दोनों टीमें आठ साल बाद इस टूर्नामेंट में आमने-सामने होंगी। पिछली बार 2011 में जापान ने 3-2 से हराया था। उसने पहला खिताब 1992 में घरेलू जमीन पर अपने नाम किया था। इसके बाद वह तीन बार फाइनल में पहुंचा और तीनों में उसे सफलता हाथ लगी।

 

फाइनल में जापान के खिलाफ सिर्फ एक गोल हुआ
खिताबी मुकाबले में जापान का रिकॉर्ड बेहतरीन रहा है। उसके खिलाफ अब तक फाइनल में सिर्फ एक ही गोल हुआ है। 2004 में चीन के खिलाफ जापान 3-1 से जीता था। 1992 और 2000 में उसने सऊदी अरब को 1-0 से हराया। वहीं, 2011 में ऑस्ट्रेलिया को 1-0 से मात दी थी। जापान की टीम एक गोल करने के बाद डिफेंसिव हो जाती है। इसी का नतीजा है कि उसका सिर्फ एक ही मैच एक्स्ट्रा टाइम में गया। तब उसने ऑस्ट्रेलिया को हराया था।

 

पहली बार क्वार्टरफाइनल से आगे बढ़ा कतर
कतर की टीम का रिकॉर्ड नॉकआउट दौर में अच्छा नहीं रहा है। साल 2000 में पहली बार क्वार्टरफाइनल मुकाबले खेले गए थे। तब से कतर की टीम दो बार अंतिम-8 तक पहुंची, लेकिन दोनों बार उसे हार का सामना करना पड़ा।

 

\"कतर\"

 

डाएई के 23 साल पुराने रिकॉर्ड को तोड़ सकते हैं अल्मोएज अली
इस मैच में कतर के अल्मोएज अली सबकी नजर रहेगी। अली ने छह मुकाबलों में आठ गोल किए हैं। वे इस टूर्नामेंट के एक सीजन में आठ गोल करने वाले दूसरे एशियाई खिलाड़ी हैं। इससे पहले 1996 में ईरान के अली डाएई ने आठ गोल किए थे।

 

\"जापान\"

 

जापान के लिए ओसाको ने किए सबसे ज्यादा गोल
जापान के लिए यूया ओसाको ने इस टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा चार गोल किए। जेन्की हारागुची और रित्सु दोहान ने दो-दो गोल किए। जापान की पूरी टीम ने इस टूर्नामेंट में अब तक 11 गोल किए। कतर के मुकाबले यह पांच गोल कम है। इस मामले में 12 गोल के साथ दूसरे स्थान पर ईरान की टीम है।

 

दोनों टीमें इस प्रकार है:
कतर: अली हसन आफिफ, हसन अल हाइदौस, साद अल सहीब, हामिद इस्माइल, अब्देलकरीम हसन, करीम बउदिआफ, अब्दुलकरीन अल अली, अहमद अल आएल्दीन, पेड्रो कोरिएआ, अब्देललजीज हातिम, बउआलेम खाउखी, अहमद फतेह, यूसुफ हसन अली, अकरम हसन आफिफ, मोहम्मद अलबाकरी, अल्मोएज अली, आसिम ओमर, सलेम अल हाजरी, तहीम मोहम्मद, बसम अल रावी, तारीक सलमान, रहमान मोहम्मद, खालीद मोहम्मद, फेलिक्स सांचेज (मुख्य कोच)।

 

जापान: जेन्की हारागुची, योटो नागाटोमो, टोमोआकी मकिनो, माया योशिदा, मासाकी हिगाशिगुची, ताकाशी इनुई, हिरोकी साकाई, शुईची गोण्डा, तोशिहिरो ओयामा, सुकासा शिओतानी, तकुमी मिनामिनो, यूया ओसाको, गाकु शिबासाकी, शो सासाकी, जेन्टा मिउरा,  वातारू इन्डो, योशिनोरी मुटो, रित्सु डोआन, डेनियल, जुन्या इटो, कोया कितागावा, सेई मुरोया, ताकेहिरो तोमियासु, हजिमे मोरियासु (मुख्य कोच)।