पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Sports
  • Brazil Women’s Football Protest For 20% Pay Gap Corinthians And Sao Paulo Match

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

महिला फुटबॉल टीम ने गोल स्कोर को 20% कम करके लिखा, पुरुषों से कम मेहनताना दिए जाने का विरोध

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कोरिंथियन्स ने साओ पाओलोस को हराकर पाओलिस्टा चैम्पियनशिप जीती।
  • मैच के पहले गोल को स्कोरबोर्ड पर 0.8, दूसरे गोल को 1.6 और तीसरे गोल को 2.4 लिखा
  • पाओलिस्टा वुमन्स चैम्पियनशिप के फाइनल में कोरिंथियन्स ने साओ पाओलोस को 3-0 से हराया

खेल डेस्क. ब्राजील में महिला फुटबॉल खिलाड़ियों ने कम मेहनताने का विरोध करने के लिए, मैच के दौरान गोल स्कोर को 20% कम करके दिखाया। हाल ही में एक रिसर्च में पता चला कि महिला खिलाड़ियों को पुरुषों के मुकाबले 20% कम मेहनताना दिया जाता है। खिलाड़ियों ने इसका विरोध करते हुए शनिवार को पाओलिस्टा वुमन्स चैम्पियनशिप के फाइनल में गोल स्कोर को 20% करके लिखा।
 
इस टूर्नामेंट के फाइनल में कोरिंथियन्स ने साओ पाओलोस को 3-0 से हराया था। मैच का पहला गोल शुरुआती पांचवें मिनट में विक्टोरिया अल्बुकर्क ने किया था, जिसे 20% कम करके स्कोरबोर्ड पर 0.8 दर्शाया गया।
 
 

स्टेडियम में रिकॉर्ड 28,862 दर्शक पहुंचे
इसके बाद दूसरा गोल जूलियट ने किया, जिसे 1.6 दिखाया गया। मिलेन के द्वारा किए गए तीसरे गोल को स्कोरबोर्ड पर 2.4 दिखाया गया। मैच के दौरान रिकॉर्ड 28,862 दर्शक स्टेडियम में मौजूद रहे। ब्राजील में अब तक किसी भी महिला फुटबॉल मैच में इतने फैंस मौजूद नहीं रहे।
 
 

‘आज के समय यह विरोध जरूरी’
कम मेहनताने के खिलाफ विरोध के लिए इस तरीके का इस्तेमाल पाओलिस्टा फुटबॉल फेडरेशन (एफपीएफ) ने यूएन महिला और विज्ञापन एजेंसी बीईटीसी के साथ मिलकर किया। एफटीएफ की डायरेक्टर अलाइन पेलेग्रिनो ने कहा, ‘‘विरोध के इस अनोखे तरीके से यह सवाल किया जा रहा है कि महिलाओं को क्यों पुरुषों के मुकाबले कम मेहनताना दिया जाता है। यह आज के समय में बहुत जरूरी हो गया है।’’
 

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- पिछले रुके हुए और अटके हुए काम पूरा करने का उत्तम समय है। चतुराई और विवेक से काम लेना स्थितियों को आपके पक्ष में करेगा। साथ ही संतान के करियर और शिक्षा से संबंधित किसी चिंता का भी निवारण होगा...

और पढ़ें