पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Sports
  • Khelo India Winter Games In Jammu Kashmir And Ladakh News Updates

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

दो महीने में तीसरा इवेंट; अगले विंटर गेम्स जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में, 2500 खिलाड़ी खेलेंगे

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जम्मू-कश्मीर में विंटर गेम्स 7 से 11 मार्च तक गुलमर्ग के तीन वेन्यू पर होंगे। -फाइल - Dainik Bhaskar
जम्मू-कश्मीर में विंटर गेम्स 7 से 11 मार्च तक गुलमर्ग के तीन वेन्यू पर होंगे। -फाइल
  • खेलो इंडिया विंटर गेम्स लद्दाख में फरवरी के तीसरे हफ्ते और जम्मू-कश्मीर में 7 मार्च से
  • गुलमर्ग में टूर्नामेंट की तैयारियां भी शुरू, 11 खेलों में 16 से ज्यादा राज्यों के खिलाड़ी हिस्सा लेंगे

खेल डेस्क. देश में खेल का स्तर सुधारने और ज्यादा से ज्यादा लोगों को खेल से जोड़ने के लिए शुरू किए गए खेलो इंडिया गेम्स अब नेक्स्ट लेवल पर पहुंच गए हैं। 2018 में पहली बार ये गेम्स हुए थे। अब इसमें विंटर गेम्स को भी शामिल कर लिया गया है। पहली बार खेलो इंडिया विंटर गेम्स होंगे। खेल मंत्री किरेन रिजिजू ने गुरुवार को इनकी घोषणा की। ये गेम्स लद्दाख और जम्मू-कश्मीर में होंगे। दो महीने में तीसरी बार खेलो इंडिया गेम्स आयोजित होंगे। जनवरी में गुवाहाटी में खेलो इंडिया यूथ गेम्स हुए थे। यह इसका तीसरा सीजन था। जबकि 22 फरवरी से खेलो इंडिया यूनिवर्सिटी गेम्स होंगे। ये गेम्स पहली बार होंगे।


विंटर गेम्स लद्दाख में फरवरी के तीसरे हफ्ते और जम्मू-कश्मीर में 7 मार्च से होंगे। इसमें 11 विंटर खेलों में 14 इवेंट होंगे, जिसमें 16 से ज्यादा राज्यों के करीब 2500 खिलाड़ियों के हिस्सा लेने की उम्मीद है। खेल मंत्री ने कहा कि इसके बाद अब स्वदेशी गेम्स को भी इसमें जोड़ा जाएगा। इसके लिए भी हमने योजना तैयार कर ली है।

स्पीड स्केटिंग में 1700 खिलाड़ी उतरेंगे
रिजिजू ने कहा, ‘लद्दाख में पहले चरण के खेलो इंडिया विंटर गेम्स की तारीख जल्द ही घोषित की जाएगी। ये ब्लॉक, जिला और केंद्रशासित स्तर पर होगी। इसमें 1700 खिलाड़ियों के हिस्सा लेने की उम्मीद है।’ उन्होंने कहा, ‘युवाओं की उर्जा को सही स्थान पर लगाने के लिए खेल से अच्छा कोई विकल्प नहीं है। हमने आइस हॉकी, फिगर स्केटिंग, स्पीड स्केटिंग जैसे खेलों को शामिल किया है, जो ओलिंपिक का हिस्सा हैं। समय के साथ हम इन खेलों में चैंपियन तैयार करने में सफल रहेंगे। मुझे एक और खेलो इंडिया गेम्स को शुरू करने की घोषणा करने की खुशी है। यह एक साल में तीसरे खेलो इंडिया गेम्स होंगे।’

जम्मू-कश्मीर गेम्स के लिए 2 करोड़ रुपए का बजट
जम्मू-कश्मीर में विंटर गेम्स 7 से 11 मार्च तक गुलमर्ग के तीन वेन्यू पर होंगे। जम्मू कश्मीर स्पोर्ट्स काउंसिल के सेक्रेटरी नसीम ने बताया, ‘इसके लिए 2 करोड़ का बजट निर्धारित किया गया है। जरूरत पड़ने पर बढ़ाया जा सकता है। अभी तक पंजाब, मप्र, हरियाणा, मणिपुर, उड़ीसा, झारखंड, उत्तराखंड, महाराष्ट्र, चंडीगढ़, उप्र सहित 16 राज्यों के 1100 खिलाड़ियों ने रजिस्ट्रेशन करवाया है। हालांकि, हम 800 खिलाड़ियों का ही लक्ष्य लेकर चल रहे थे।’ उन्होंने बताया, ‘ये गेम्स जम्मू-कश्मीर स्पोर्ट्स काउंसिल, टूरिज्म डिपार्टमेंट, विंटर गेम्स एसोसिएशन ऑफ जम्मू-कश्मीर, जम्मू-कश्मीर रग्बी एसोसिएशन, जम्मू-कश्मीर बेस बाॅल एसोसिएशन, जम्मू-कश्मीर हॉकी एसोसिएशन, जम्मू-कश्मीर आइस स्केटिंग एसोसिएशन, साई और खेल मंत्रालय मिलकर करवा रहे हैं।’

13 साल से सीनियर वर्ग तक के इवेंट
स्कीइंग प्रतियोगिता 13-14 साल, 15-16 साल, 17-18 साल और 19-21 साल बॉयज और गर्ल्स के लिए आयोजित की जाएगी। स्नो रग्बी व स्नो बेसबॉल सीनियर पुरुष और महिला, आइस स्टॉक जूनियर और यूथ पुरुष और महिला, आइस हॉकी व आइस स्केटिंग पुरुष और महिला दोनों के लिए आयोजित की जाएगी।

केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद 3 नेशनल टूर्नामेंट हो चुके
जम्मू-कश्मीर के केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद से यहां पर टेबल टेनिस, शतरंज और वूशु की नेशनल चैंपियनशिप हो चुकी हैं। इसके अलावा स्कूल नेशनल गेम्स के तहत खो-खो, वॉलीबॉल और मार्शल आर्ट्स की भी प्रतियोगिता नेशनल स्तर पर हो चुकी है।

11 में से 3 खेल में पुरुष खिलाड़ी उतरेंगे
अल्पाइन स्कीइंग, स्नो रग्बी, आइस स्टॉक स्पोर्ट, स्नो बेस बॉल, आइस हॉकी, आइस स्केटिंग, क्रॉस कंट्री स्कीइंग, स्नोशूइंग में पुरुष और महिला हिस्सा लेंगे। जबकि स्नो बोर्डिंग, स्नो डर्बी, स्काई साइकल में सिर्फ पुरुष खिलाड़ी उतरेंगे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कोई लाभदायक यात्रा संपन्न हो सकती है। अत्यधिक व्यस्तता के कारण घर पर तो समय व्यतीत नहीं कर पाएंगे, परंतु अपने बहुत से महत्वपूर्ण काम निपटाने में सफल होंगे। कोई भूमि संबंधी लाभ भी होने के य...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser