पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Sports
  • MC Mary Kom Beats Nikhat Zareen: MC Mary Kom Beats Nikhat Zareen In Final Of Trail For Tokyo Olympic Qualifiers

मैरीकॉम ने निखत को 9-1 से हराया, हाथ मिलाए बिना रिंग से निकलीं; जरीन ने कहा- वो मुझे गाली देती बाहर गईं

7 महीने पहलेलेखक: राजकिशोर
  • कॉपी लिंक
निखत एशियन चैम्पियनशिप में कांस्य और मैरीकॉम ओलिंपिक में कांस्य जीत चुकी हैं। (फाइल)
  • निखत ने मैरीकॉम के खिलाफ ट्रायल मुकाबले के लिए दावा ठोका था, वे तीसरी बार उनसे हारीं
  • मैरीकॉम ने कहा- मैं उनसे हाथ क्यों मिलाऊं? अगर वो सम्मान चाहती हैं तो पहले उन्हें सम्मान देना चाहिए
  • टोक्यो ओलिंपिक के लिए क्वालिफायर मुकाबले चीन के वुहान शहर में 3 से 14 फरवरी तक खेले जाएंगे

खेल डेस्क. बॉक्सर एमसी मैरीकॉम ने निखत जरीन को टोक्यो ओलिंपिक क्वालिफायर के लिए 51 किलोग्राम भार वर्ग में ट्रायल मुकाबले में 9-1 से हरा दिया। शनिवार को नई दिल्ली में खेले गए इस मुकाबले में मैरीकॉम शुरू से ही हावी रही। उन्होंने जरीन को संभलने का कोई मौका नहीं दिया। निखत और मैरीकॉम के बीच यह तीसरा मुकाबला था। निखत इस साल के मई में इंडिया ओपन के सेमीफाइनल में मैरीकॉम से भिड़ी थीं। इससे पहले साल 2016 में साउथ एशियन गेम्स की ट्रायल में दोनों के बीच मुकाबला हुआ था। दोनों मुकाबला मैरीकॉम के पक्ष में रहा था। मैच के बाद खत्म होने के बाद मैरीकॉम जरीन से हाथ और गले मिलाए बगैर गुस्से में बाहर निकल गईं।


मैरीकॉम ने निखत से हाथ नहीं मिलाने के सवाल पर कहा, ‘‘मैं उनसे हाथ क्यों मिलाऊं? अगर वो सम्मान चाहती हैं तो पहले उन्हें सम्मान देना चाहिए। मैं इस तरह की व्यवहार वालों को पसंद नहीं करती। आप खुद को रिंग में साबित करें, बाहर नहीं। निखत के सपोर्टर ने मुझसे गलत व्यवहार किया। मैं उन्हें तीन बार हरा चुकी हैं, फिर भी नहीं सुधर नहीं रहे। बाहर बोलते रहना गलत है।’’ हालांकि, बाद में मैरीकॉम ने कहा कि वे गुस्से में थी। अब सब ठीक है।

निखत ने कहा- मैरीकॉम युवाओं के लिए आदर्श
दूसरी ओर, निखत ने कहा, ‘‘मैरीकॉम युवाओं के लिए आदर्श हैं। उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए था। उन्होंने मैच के बाद ही नहीं मैच के दौरान भी मुझे गाली दी थी। उनके व्यवहार से दुखी हूं।’’ मुकाबले के दौरान बॉक्सिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष अजय सिंह भी मौजूद थे। इस मामले पर उन्होंने कहा कि मैरीकॉम आदर्श बॉक्सर हैं। जोश में कभी-कभी ऐसा हो जाता है। मामले को तूल नहीं देना चाहिए।

वुहान में अगले साल ओलिंपिक क्वालिफायर मुकाबले होंगे
टोक्यो ओलिंपिक के लिए क्वालिफायर मुकाबले चीन के वुहान में 3 से 14 फरवरी तक खेले जाएंगे। मैरीकॉम 6 बार वर्ल्ड चैम्पियनशिप जीत चुकी हैं। उन्होंने लंदन ओलिंपिक 2012 में कांस्य पदक अपने नाम किया था। वहीं, निखत इस साल एशियन चैम्पियनशिप में कांस्य पदक जीती थीं।

सोनिया लाठेर और सरिता देवी हारीं
अन्य मुकाबलों में वर्ल्ड चैम्पियनशिप में दो रजत पदक जीतने वाली सोनिया लाठेर (57 किग्रा) को साक्षी चौधरी ने शिकस्त दी। लाठेर एशियन गेम्स में भी पदक जीत चुकी हैं। 60 किग्रा भारवर्ग  में पूर्व वर्ल्ड चैम्पियन सरिता देवी नेशनल चैम्पियन सिमरनजीत कौर से हार गईं।

निखत ने मैरीकॉम से ट्रायल का दावा ठोका था
मैरीकॉम इस साल वर्ल्ड चैम्पियनशिप में कांस्य पदक जीती थीं। उन्हें इसी के आधार पर ओलिंपिक क्वॉलिफायर्स में भेजने की बात चल रही थी। हालांकि, नियमों के मुताबिक वर्ल्ड चैम्पियनशिप में स्वर्ण या रजत पदक जीतने वाले बॉक्सर को ही ओलिंपिक क्वालिफायर में सीधे एंट्री मिलती है। अन्य सभी को ट्रायल मैच खेलना होता है। निखत ने नियमों का हवाला देकर मैरीकॉम से मुकाबले की बात कही थी।

निखत ने ट्रायल के लिए खेल मंत्री को पत्र लिखा था
निखत ने ट्रायल के लिए खेल मंत्री किरण रिजिजू को भी पत्र लिखा था। तब उन्होंने कहा था, ‘‘मैं बचपन से ही मैरी कॉम से प्रेरित रही हूं। इस प्रेरणा के साथ न्याय करने का सबसे बेहतर तरीका यही हो सकता है कि मैं उनकी तरह एक महान मुक्केबाज बनने की कोशिश करूं। क्या मैरी कॉम खेल की इतनी बड़ी शख्सियत हैं कि उन्हें मुकाबले से दूर रखने की जरूरत है?’’

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- आर्थिक दृष्टि से आज का दिन आपके लिए उपलब्धियां ला रहा है। उन्हें सफल बनाने के लिए आपको दृढ़ निश्चयी होकर काम करना है। आज कुछ समय स्वयं के लिए भी व्यतीत करें। आत्म अवलोकन करने से आपको बहुत अधिक...

और पढ़ें