• Hindi News
  • National
  • Saikhom Mirabai Chanu Returning From Injury And Wins Gold In First Competitive Meet

चानू ने 6 महीने बाद मैट पर वापसी की और स्वर्ण पदक जीत लिया

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • मीराबाई चानू ने थाईलैंड में ईजीटी कप में 48 किलो वेट कैटेगरी में 192 किलोग्राम वजन उठाया
  • जापान की मियाके हिरोमी ने सिल्वर और पापुआ न्यू गिनी की लोआ डिका ने ब्रॉन्ज मेडल जीता

नई दिल्ली. विश्व चैम्पियन भारतीय महिला वेटलिफ्टर मीराबाई चानू ने कमर की चोट से उबरते हुए करीब छह महीने बाद मैट पर वापसी की और स्वर्ण पदक जीत लिया। चानू ने ये मेडल थाईलैंड में हो रहे ईजीएटी कप में जीता। चानू ने इस सिल्वर लेवल ओलिंपिक क्वालिफाइंग इवेंट के 48 किलो वेट कैटेगरी में 192 किलो भार उठाकर स्वर्ण पदक जीता।

1) 2020 ओलिंपिक के मद्देनजर यह जीत अहम

2020 में होने वाले टोक्यो ओलिंपिक में क्वालिफाई करने के लिहाज से चानू की ये जीत अहम है। मीराबाई चानू ने स्नैच में 82 किलो, जबकि क्लीन एंड जर्क में 110 किलो वजन उठाकर टॉप पोजीशन हासिल की।

जापान की मियाके हिरोमी (183 किलो) को सिल्वर और पापुआ न्यू गिनी की लोआ डिका (179 किलो) ने ब्रॉन्ज मेडल जीता। कमर की चोट के कारण चानू पिछले साल वर्ल्ड चैम्पियनशिप में हिस्सा नहीं ले पाई थीं।

वर्ल्ड चैम्पियनशिप गोल्ड लेवल ओलिंपिक क्वालिफाइंग इवेंट था। चानू जकार्ता में हुए एशियन गेम्स में भी नहीं खेल पाई थीं। चानू ने पिछले साल गोल्ड कोस्ट में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में भी गोल्ड मेडल जीता था।

24 साल की चानू ने गोल्ड कोस्ट में स्नैच में 86 किलोग्राम और क्लीन एंड जर्क में 110 किलोग्राम का वजन उठाया था। यह खेलों का रिकॉर्ड और उनका निजी सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन था।

खबरें और भी हैं...