अजलान शाह कप / पहले मैच में भारत-जापान आमने-सामने, इस बार टॉप-4 टीमें हिस्सा नहीं ले रहीं

X

  • स्थानीय समयानुसार शाम 4:05 से खेला जाएगा मुकाबला
  • पिछले साल एशियाड में भारत ने जापान को 8-0 से हराया था

Mar 23, 2019, 07:09 AM IST

इपोह (मलेशिया). सुल्तान अजलान शाह कप शनिवार से मलेशिया में शुरू होगा। पहला मैच भारतीय हॉकी टीम और जापान के बीच होगा। जापान की टीम ने पिछले साल जकार्ता में हुए एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीता था। तब सेमीफाइनल में मलेशिया ने भारत को हराया था। हालांकि, लीग मुकाबले में भारत ने जापान को 8-0 से हराया था। 


इस टूर्नामेंट में 6 टीमें भारत, कनाडा, जापान, मलेशिया, पोलैंड और दक्षिण कोरिया हिस्सा ले रही हैं। इनमें से रैंकिंग में भारतीय टीम टॉप पर है। भारत की मौजूदा रैंकिंग 5 है। उसके बाद कनाडा का नंबर आता है। कनाडा की रैंकिंग 10 है। इस बार टॉप-4 टीमें  बेल्जियम, ऑस्ट्रेलिया, नीदरलैंड, अर्जेंटीना टूर्नामेंट में हिस्सा नहीं ले रही हैं। अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड मेन्स एफआईएच प्रो लीग के कारण टूर्नामेंट में हिस्सा नहीं ले रहा है। 

 

टूर्नामेंट में हिस्सा ले रहे भारत-दक्षिण कोरिया ही बन पाए हैं चैम्पियन

टूर्नामेंट में भारत और दक्षिण कोरिया ही ऐसी टीमें हैं, जो इस प्रतियोगिता की चैम्पियन बनीं हैं। उनके अलावा हिस्सा ले रहीं कोई भी टीम अब तक इस टूर्नामेंट का खिताब नहीं जीत पाई है। इस लिहाज से भारत के पास नौ साल बाद खिताब जीतने का मौका है।

 

पांच बार खिताब जीत चुका है भारत

भारत ने आखिरी बार 2010 में खिताब जीता था। भारतीय टीम अब तक कुल 5 बार (1985, 1991, 1995, 2009, 2010) इस टूर्नामेंट का खिताब जीत चुकी है। 2010 में भारत ने खिताब दक्षिण कोरिया के साथ साझा किया था। हालांकि, पिछले साल वह पांचवें नंबर पर रहा था।

 

टूर्नामेंट में भारत के मुकाबले

तारीख किसके खिलाफ
23 मार्च भारत vs जापान
24 मार्च भारत vs कोरिया
26 मार्च भारत vs मलेशिया
27 मार्च भारत vs कनाडा
29 मार्च भारत vs पोलैंड

 

युवा खिलाड़ियों को अच्छा प्रदर्शन करना होगा : कप्तान मनप्रीत सिंह

इस टूर्नामेंट के बाद भारतीय टीम ओलिंपिक क्वालिफायर मुकाबलों में हिस्सा लेगी। जापान के खिलाफ मैच से पहले भारतीय कप्तान मनप्रीत सिंह ने कहा, ‘जापान, कोरिया और मेजबान मलेशिया मजबूत टीमें हैं। ये टीमें अपनी पूरी ताकत के साथ टूर्नामेंट का हिस्सा बन रही हैं। उनकी चुनौती भी कड़ी होगी। युवाओं को अपने खेल का स्तर ज्यादा उठाना होगा। टीम में नए चेहरों की मौजूदगी से हमें फायदा होगा क्योंकि विपक्षियों को इनके खेल के बारे में अधिक पता नहीं होगा। लेकिन गुरजंत का बाहर होना हमारे लिए झटका हगै। उनकी जगह गुरसाहिबजीत सिंह टीम का हिस्सा बनेंगे। वेअच्छे फारवर्ड हैं और सीनियर्स की जरूरतों को समझते हैं।’

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना