--Advertisement--

अफगानिस्तान / मेसी के नन्हें फैन को तालिबान ने दी धमकी, दोबारा घर छोड़ने पर मजबूर



लियोनल मेसी के साथ मुर्तजा। लियोनल मेसी के साथ मुर्तजा।
मुर्तजा अहमदी। मुर्तजा अहमदी।
X
लियोनल मेसी के साथ मुर्तजा।लियोनल मेसी के साथ मुर्तजा।
मुर्तजा अहमदी।मुर्तजा अहमदी।

  • मुर्तजा अहमदी ने अर्जेंटीना की फुटबॉल टीम की जर्सी पहनी थी, इससे तालिबान नाराज हो गया
  • मुर्तजा के परिवार को धमकियों के कारण 2016 में भी अफगानिस्तान से पाकिस्तान जाना पाना था

Dainik Bhaskar

Dec 09, 2018, 05:04 PM IST

खेल डेस्क.  अर्जेंटीना और बार्सिलोना के स्टार फुटबॉलर लियोनल मेसी के एक नन्हें फैन मुर्तजा अहमदी को अफगानिस्तान में तालिबान ने जान से मारने की धमकी दी है। इस वजह से मुर्तजा दो साल में दूसरी बार घर छोड़ने पर मजबूर है। 2016 में भी उसके परिवार को देश छोड़ना पड़ा था। दरअसल, मुर्तजा ने दो साल पहले प्लास्टिक की थैली से बनी अर्जेंटीना की फुटबॉल टीम की जर्सी को पहना था। इससे तालिबान नाराज हो गया।

 

गजनी का रहने वाला है मुर्तजा

मुर्तजा पूर्वी अफगानिस्तान के गजनी प्रांत का रहने वाला है। 2016 में  उसने अपने घरवालों से मेसी की टी-शर्ट दिलाने को कहा था, लेकिन उसके घरवाले खरीद पाने में असमर्थ थे। मुर्तजा के पिता मोहम्मद आरिफ अहमदी ने उसे नीले और सफेद प्लास्टिक के थैले से बनी अर्जेंटीना की जर्सी दी। उसका फोटो इंटरनेट पर वायरल हो गया। इसके बाद तालिबान ने उसके घर पर बम गिराए। जान से मारने की धमकी दी। इससे मुर्तजा के परिवार को पाकिस्तान जाना पड़ा था।

 

फुटबॉल प्रेमियों का मिल रहा समर्थन

दूसरी ओर, मुर्तजा का समर्थन पूरी दुनिया के फुटबॉल प्रेमियों ने किया। दिसंबर 2016 में जब यह बात मेसी को पता चली, तो उन्होंने उसे मिलने के लिए  कतर बुलाया। वे अल-अहली सऊदी एफसी के खिलाफ एक मैच खेलने पहुंचे थे। मैच से पहले मेसी ने उससे मुलाकात की और पूरी टीम के साथ फोटो सेशन कराया। उन्होंने मुर्तजा को अपने दस्तखत वाली दो टी-शर्ट भी गिफ्ट में दी।

 

हमारे लिए जीना मुश्किल हो गया था

उसके पिता आरिफ अहमदी ने कहा, "बेटे के अपहरण की धमकी मिलने के बाद मैंने पाकिस्तान जाने का फैसला किया था। वहां हमारे लिए जीना मुश्किल हो गया था। मैंने अपनी सारी संपत्ति बेच दी। बेटे को बचाने के लिए अफगानिस्तान छोड़ दिया।" हालांकि, बाद में पैसे खत्म होने के बाद आरिफ परिवार के साथ अफगानिस्तान वापस लौटे, लेकिन अब फिर से धमकियां मिल रही हैं।

 

मुर्तजा स्कूल तक नहीं जा पा रहा

मुर्तजा की मां शफीका अहमदी ने कहा, "मुझे नहीं पता कि तालिबान उससे क्या चाहता है? उन्होंने कहा है कि अगर मुर्तजा उनके कब्जे में आ गया तो वे उसे काट देंगे। पिछले दो साल से हम उसे उसे स्कूल भी नहीं भेज पा रहे हैं।"

 

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..