--Advertisement--

अनूठा / यूथ ओलिंपिक में एक टीम के तौर पर उतरी भारत-पाकिस्तान के निशानेबाजों की जोड़ी



लक्ष्य पर निशाना साधते नुबारिया बाबर और सौरभ चौधरी। लक्ष्य पर निशाना साधते नुबारिया बाबर और सौरभ चौधरी।
X
लक्ष्य पर निशाना साधते नुबारिया बाबर और सौरभ चौधरी।लक्ष्य पर निशाना साधते नुबारिया बाबर और सौरभ चौधरी।
  • यह फॉर्मेट नानजिंग में 2014 में हुए यूथ ओलिंपिक से लागू किया गया
  • पुरुष-महिला वर्ग की उच्चतम-न्यूनतम रैंकिंग वाली शूटर्स की जोड़ी बनती है

Dainik Bhaskar

Oct 13, 2018, 03:36 PM IST

ब्यूनस आयर्स. भारत और पाकिस्तान की क्रिकेट टीमें भले ही एक दूसरे के देश में सीरीज नहीं खेल पा रही हों, लेकिन यहां यूथ ओलिंपिक में दोनों देशों के खिलाड़ियों ने एक टीम के तौर पर भाग लिया। यूथ ओलिंपक में स्वर्ण पदक जीतने वाले सौरभ चौधरी पाकिस्तान की नुबारिया बाबर के साथ 10 मीटर एयर पिस्टल मिक्स्ड टीम इवेंट में उतरे। ऐसा पहली बार हुआ है, जब किसी मल्टी-स्पोर्ट टूर्नामेंट में भारत और पाकिस्तान के खिलाड़ी एक टीम के तौर पर खेले हों। मौजूदा समय में ट्रायथलान रिले, जूडो, निशानेबाजी, तीरंदाजी और तलवारबाजी खेल में मिक्स्ड इंटरनेशनल टीम इवेंट की स्पर्धाएं होती हैं।

भारत-पाक जोड़ी 15वें नंबर पर रही

  1. हालांकि, सौरभ और नुबारिया की जोड़ी पदक जीतने में असफल रही। 40 निशानेबाजों के क्वालिफिकेशन राउंड में वे 15वें नंबर पर रहे। वहीं, भारत की युवा निशानेबाज मनु भाकर ने तजाकिस्तान की बेहजान फैजुलैव के साथ मिलकर इस स्पर्धा का रजत पदक जीत लिया। उन्हें फाइनल में जर्मनी और बुल्गारिया की जोड़ी से हार का सामना करना पड़ा। इसके साथ ही वे यूथ ओलिंपिक में दो पदक जीतने वाली दूसरी एथलीट बन गईं। उनसे पहले जूडो खिलाड़ी तबाबी देवी ने दो पदक जीते थे।

  2. यह इवेंट 2014 में नानजिंग में हुए पिछले संस्करण में शुरू किया गया था। इसके नियमों के मुताबिक, जिस सप्ताह इवेंट होना है, उसके पिछले सप्ताह उच्चतम और न्यूनतम पुरुष और महिला खिलाड़ियों की रैंकिंग के आधार पर जोड़ी बनाई जाती है, यानी यदि पुरुष वर्ग के नंबर वन खिलाड़ी की महिला वर्ग की न्यूनतम रैंकिंग वाली खिलाड़ी के साथ जोड़ी बनेगी। सौरभ पिछले सप्ताह रैंकिंग में शीर्ष, जबकि नुबारिया 20वें नंबर पर थीं। क्वालिफिकेशन राउंड में 34 देशों के निशानेबाजों ने भाग लिया।

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..