पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Ipl 2020
  • CSK VS MI IPL 2020 Live Score Update; MS Dhoni Rohit Sharma| Chennai Super Kings Vs Mumbai Indians Match 41st Live Cricket Latest Updates

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुंबई ने चेन्नई को 10 विकेट से हराया:CSK पहली बार लीग में 8 मैच हारी, प्ले-ऑफ की राह मुश्किल; मुंबई टॉप पर

शारजाहएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मुंबई इंडियंस के ओपनर ईशान किशन ने 37 बॉल पर नाबाद 68 और क्विंटन डिकॉक ने 37 बॉल पर नाबाद 46 रन बनाकर टीम को जीत दिलाई।

आईपीएल के 13वें सीजन के 41वें मैच में मुंबई इंडियंस (MI) ने चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) को 10 विकेट से हरा दिया। शारजाह में खेले गए मैच में टॉस हारकर बल्लेबाजी करते हुए चेन्नई ने 115 रन का टारगेट दिया। जवाब में मुंबई ने 12.2 ओवर में बिना कोई विकेट खोए 116 रन बनाकर मैच जीत लिया। ईशान किशन ने नाबाद 68 और क्विंटन डिकॉक ने नाबाद 46 रन बनाए। मैच का स्कोरकार्ड देखने के लिए यहां क्लिक करें...

आईपीएल में पहली बार चेन्नई लीग राउंड में 8 मैच हारी है। इससे पहले चेन्नई 2010 और 2012 में लीग में 7-7 मैच हारी थी। इस हार के बाद प्ले-ऑफ के लिए चेन्नई का सफर लगभग खत्म हो गया है। उसे अब अपने बचे तीनों मैच जीतने के अलावा बाकी टीमों के नतीजों पर भी निर्भर रहना पड़ेगा। वहीं, मुंबई सीजन में अपनी 7वीं जीत के साथ पॉइंट्स टेबल में टॉप पर पहुंच गई है।

चेन्नई पहली बार 10 विकेट से हारी
आईपीएल में पहली बार किसी टीम ने चेन्नई सुपर किंग्स को 10 विकेट से हराया है। इससे पहले 2008 में वानखेड़े स्टेडियम में मुंबई इंडियंस ने ही धोनी की टीम को 9 विकेट से हराया था।

बची गेंदों के लिहाज से भी सबसे बड़ी हार
मुंबई ने यह मैच 46 गेंद रहते जीत लिया। चेन्नई के लिए बची गेंदों के लिहाज से भी यह सबसे बड़ी हार है। इससे पहले 2012 में दिल्ली ने चेन्नई को 40 गेंद रहते हराया था। वहीं, 2008 में मुंबई ने 37 और राजस्थान ने 34 गेंद शेष रहते चेन्नई को शिकस्त दी थी।

बोल्ट की सर्वश्रेष्ठ बॉलिंग परफॉर्मेंस
ट्रेंट बोल्ट को मैन ऑफ द मैच चुना गया। वे आईपीएल में अब तक 54 विकेट ले चुके हैं। इस मैच में उन्होंने 4 ओवर में 18 रन देकर 4 विकेट लिए, जो कि उनकी सर्वश्रेष्ठ बॉलिंग प्रदर्शन है। इससे पहले उन्होंने 2015 में किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ मोहाली में 4 ओवर में 19 रन देकर 3 विकेट लिए थे।

ओपनिंग मैच में चेन्नई ने हराया था
19 सितंबर को आईपीएल के ओपनिंग मुकाबले में चेन्नई ने मुंबई को 5 विकेट से हराया था। अबु धाबी में खेले गए इस मुकाबले में मुंबई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए चेन्नई को 163 रन का टारगेट दिया था। जवाब में चेन्नई ने 19.2 ओवर में 5 विकेट पर 166 रन बनाकर मैच जीता था।

करन ने चेन्नई को 100 के पार पहुंचाया
इससे पहले चेन्नई के सैम करन ने आईपीएल में अपनी दूसरी फिफ्टी लगाई। वे 52 रन बनाकर आउट हुए। करन की पारी की बदौलत ही चेन्नई 20 ओवर खेल सकी और 9 विकेट पर 114 रन तक पहुंच पाई। चेन्नई के 6 बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा भी नहीं छू सके।

करन के अलावा शार्दूल ठाकुर ने 11 और इमरान ताहिर ने नाबाद 13 रन बनाए। मुंबई के ट्रेंट बोल्ट ने 4, जसप्रीत बुमराह-राहुल चाहर ने 2-2 और नाथन कूल्टर-नाइल को एक विकेट मिला।

3 रन पर 4 विकेट गंवाए
चेन्नई की शुरुआत बहुत खराब रही। रितुराज गायकवाड़ बिना खाता खोले ट्रेंट बोल्ट की बॉल पर आउट हुए। इसके बाद जसप्रीत बुमराह ने अंबाती रायडू (2) और एन जगदीशन (0) को लगातार बॉल पर आउट किया। इसके बाद फाफ डु प्लेसिस भी 1 रन बनाकर बोल्ट की बॉल पर आउट हुए।

धोनी-जडेजा भी नहीं चले
रविंद्र जडेजा 7 रन बनाकर ट्रेंट बोल्ट की बॉल पर आउट हुए। इसके बाद कप्तान एमएस धोनी 16 रन बनाकर राहुल चाहर की बॉल पर पवेलियन लौटे। दीपक चाहर भी बिना खाता खोले आउट हुए।

IPL में 200 छक्के लगाने वाले पहले कप्तान बने धोनी
धोनी IPL में 200 छक्के लगाने वाले पहले कप्तान बन गए। धोनी ने लीग में दो टीमों (चेन्नई सुपरकिंग्स और राइजिंग पुणे सुपरजाएंट्स) की कप्तानी की है। धोनी ने लीग में कुल 216 छक्के लगाए हैं। इस मामले में वह क्रिस गेल (335) और एबी डिविलियर्स (231) के बाद तीसरे नंबर पर हैं।

सबसे जल्दी 4 विकेट गंवाने के मामले में चेन्नई दूसरे नंबर पर
चेन्नई ने 3 रन के अंदर 4 विकेट गंवा दिए थे। सबसे कम स्कोर पर चार विकेट गंवाने के मामले में चेन्नई दूसरे नंबर पर आ गई है। IPL में सबसे कम स्कोर पर 4 विकेट गंवाने का रिकॉर्ड कोच्चि टस्कर्स के नाम है। कोच्चि ने 2011 में डेक्कन चार्जर्स के खिलाफ 2 रन के स्कोर पर चार विकेट गंवा दिए थे।

रोहित नहीं खेले, पोलार्ड ने कप्तानी संभाली
किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ हैम्स्ट्रिंग इंज्युरी की वजह से मुंबई के रेगुलर कप्तान रोहित शर्मा चेन्नई के खिलाफ मैदान पर नहीं उतरे। उनकी जगह कीरोन पोलार्ड ने टीम की कप्तानी संभाली। वहीं, रोहित की जगह सौरभ तिवारी को प्लेइंग इलेवन में जगह दी गई।

चेन्नई में 3, मुंबई में एक बदलाव
चेन्नई की टीम में 3 बदलाव किए गए। केदार जाधव, शेन वॉटसन और पीयूष चावला को प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं मिली। उनकी जगह एन जगदीशन, रितुराज गायकवाड़ और इमरान ताहिर को मौका दिया गया। वहीं, मुंबई में रोहित शर्मा को हेम्स्ट्रिंग की वजह से मैच से बाहर होना पड़ा। उनकी जगह कीरोन पोलार्ड ने कप्तानी संभाली और टीम में सौरभ तिवारी को मौका दिया गया।

सबसे महंगे-सस्ते खिलाड़ी की परफॉर्मेंस
सीएसके में कप्तान धोनी सबसे महंगे खिलाड़ी रहे। टीम उन्हें एक सीजन के 15 करोड़ रुपए देगी। धोनी ने 16 बॉल पर 16 रन बनाए। प्लेइंग इलेवन में एन जगदीशन और रितुराज गायकवाड़ 20-20 लाख रुपए के साथ सबसे सस्ते प्लेयर रहे। दोनों इस मैच में खाता भी नहीं खोल सके।

वहीं, मुंबई में हार्दिक पंड्या सबसे महंगे प्लेयर रहे, उन्हें सीजन के 11 करोड़ रुपए मिलेंगे। हार्दिक को बैटिंग और बॉलिंग में मौका नहीं मिला। प्लेइंग इलेवन में सौरभ तिवारी 50 लाख रुपए कीमत के साथ सबसे सस्ते प्लेयर रहे। इन्हें भी बल्लेबाजी का मौका नहीं मिला।

दोनों टीमें कुल 7 बार आईपीएल का खिताब जीतीं
लीग के इतिहास में मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपरकिंग्स सबसे सफल टीमें हैं। अब तक हुए 12 टूर्नामेंट में से 7 बार यही दो टीमें खिताब जीती हैं। मुंबई सबसे ज्यादा 4, तो चेन्नई तीन बार चैम्पियन बनी है। मुंबई ने पहली बार 2013 में आईपीएल जीता था। इसके बाद 2015, 2017 और 2019 में भी टीम चैम्पियन बनी।

दूसरी ओर, महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई ने लगातार दो बार 2010 और 2011 में खिताब जीता था। पिछली बार यह टीम 2018 में चैम्पियन बनी थी। चेन्नई टीम 10 बार आईपीएल का प्लेऑफ खेली है, जबकि 8 बार फाइनल में पहुंची है।

चेन्नई पांच बार रनरअप रही
चेन्नई सुपरकिंग्स पांच बार (2008, 2012, 2013, 2015 और 2019), जबकि मुंबई इंडियंस एक बार 2010 में आईपीएल की रनरअप रही। आईपीएल के इतिहास में मुंबई की इकलौती टीम है, जिसने सबसे ज्यादा बार चेन्नई को हराया। दोनों टीमों के बीच अब तक 28 मुकाबले हुए हैं, इसमें से 17 बार मुंबई तो 11 बार चेन्नई को जीत मिली।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- दिन उन्नतिकारक है। आपकी प्रतिभा व योग्यता के अनुरूप आपको अपने कार्यों के उचित परिणाम प्राप्त होंगे। कामकाज व कैरियर को महत्व देंगे परंतु पहली प्राथमिकता आपकी परिवार ही रहेगी। संतान के विवाह क...

और पढ़ें