तालिबानी हुकूमत में IPL देखना भी बैन:अफगानिस्तान में नहीं होगा IPL का टेलीकास्ट, तालिबान ने कहा- इसका कंटेंट इस्लाम विरोधी, लड़कियां डांस करती हैं

4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

आईपीएल 2021 का फेज-2 19 सितम्बर से UAE में शुरू हो चूका है। पहला मैच MI और CSK के बीच थी, जिसमे चेन्नई ने मैच को जीत कर अपने नाम कर लिया है। इसी के साथ भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने यूएई में हो रहे IPL फेज-2 में कुछ शर्तों के साथ प्रशंसकों के लिए स्टेडियम के दरवाजे भी खोल दिए हैं। 31 मैचों के साथ आईपीएल और रोमांचक होते जा रहा है। जहां पूरी दुनिया आईपीएल के मज़े ले रही है वही अफगानिस्तान के सरकार ने ये एलान कर दिया है कि आईपीएल को अफगानिस्तान में ब्रॉडकास्ट नहीं किया जायेगा। इसकी वजह तालिबान का नया कानून है।

तालिबान ने कहा IPL कंटेंट इस्लाम का विरोधी

UAE में हो रहे आईपीएल का आनंद अफ़ग़ान के लोग नहीं उठा पाएंगे। तालिबान ने कहा आईपीएल का कंटेंट इस्लाम का विरोध करता है, इसलिए तालिबान में आईपीएल की ब्रॉडकास्टिंग नहीं होगी। उनका मानना है की मैच के दौरान चीयर लीडर्स खुले बालो में डांस करती है और यह इस्लामिक संस्कृति के खिलाफ है । तालिबान का नया कानून महिलाओ को इसकी इजाज़त नहीं देता है। इसलिए तालिबान ने आईपीएल की ब्रॉडकास्टिंग पर बैन लगा दिया है।

CSK कल की जीत के बाद नंबर 1 पर

दुबई स्टेडियम में 19 सितम्बर को हुए मैच में चेन्नई ने मुंबई को 20 रन से हराकर पॉइंट्स टेबल पर नंबर 1 पोजीशन हासिल कर ली है। कल की जीत के बाद चेन्नई की रन रेट भी काफी बेहतर हो गयी है और अब चेन्नई के 12 पॉइंट्स है। चेन्नई ने टॉस जीत कर बल्लेबाजी का फैसला लिया था। इसी के साथ CSK ने 6 विकेट खोकर 20 ओवर में 156 रन बनाये थे। चेन्नई की शुरुआती स्कोर ज्यादा अच्छी नहीं थी। ऋतुराज की शानदार बल्लेबाजी और ब्रावो की तूफान वाली पारी ने मैच के रुख को बदल दिया। इनकी शानदार मेहनत से चेन्नई ने मुंबई को 20 रन से हरा दिया।

खबरें और भी हैं...