KKR-Vs-MI के मैच में रोमांच तो नहीं आया लेकिन...:कृष्‍णा की एक्टिंग पर पोलार्ड बुदबुदाए, फिर ऐसी पिटाई कि कृष्‍णा लाइन-लेंथ भूल गए, 10 गेंद का ओवर फेंका

एक महीने पहले

IPL फेज 2 में दूसरा मुकाबला खेलने आई मुंबई इंडियंस ने कोलकाता नाइट राइडर्स के सामने घुटने टेक दिया। मुंबई के 156 रनों के टारगेट को कोलकाता ने 29 गेंद पहले ही हासिल कर लिया। इस एकतरफा मैच में गेंद और बल्ले से यूं तो कोई बड़ा रोमांच देखने को नहीं मिला, लेकिन अलग-अलग मौके पर थोड़ी गहमागहमी, थोड़ा हंसी-मजाक, थोड़ी निराशा तो थोड़ा प्यार भी दिखा। आइए एक-एक कर के चलते हैं-

बात मुंबई की पारी की है। 15वां ओवर चल रहा था। प्रसिद्ध कृष्‍णा बॉलिंग कर रहे थे और क्विंटन डीकॉक 55 रन बनाकर खेल रहे थे। तभी कृष्‍णा की एक बॉल को अंपायर ने नो बॉल करार दिया। डीकॉक फ्री-हिट का मूड बनाए बैठे थे तो कृष्‍णा ने अगली गेंद वाइड फेंक दी। फ्री-हिट फिर भी बरकरार रही। अगली गेंद वाइड की लाइन के एकदम करीब से फेंकी और डीकॉक से लगी नहीं, तो कृष्‍णा उनके करीब आकर उन्हें घूरते रहे। इससे गुस्साए डीकॉक ने अपना बल्ला हेलमेट पर मारा। अगली गेंद पर मारने के चक्कर में आउट हो गए।
बात मुंबई की पारी की है। 15वां ओवर चल रहा था। प्रसिद्ध कृष्‍णा बॉलिंग कर रहे थे और क्विंटन डीकॉक 55 रन बनाकर खेल रहे थे। तभी कृष्‍णा की एक बॉल को अंपायर ने नो बॉल करार दिया। डीकॉक फ्री-हिट का मूड बनाए बैठे थे तो कृष्‍णा ने अगली गेंद वाइड फेंक दी। फ्री-हिट फिर भी बरकरार रही। अगली गेंद वाइड की लाइन के एकदम करीब से फेंकी और डीकॉक से लगी नहीं, तो कृष्‍णा उनके करीब आकर उन्हें घूरते रहे। इससे गुस्साए डीकॉक ने अपना बल्ला हेलमेट पर मारा। अगली गेंद पर मारने के चक्कर में आउट हो गए।
ये कहानी ठीक उसी गेंद के बाद की है जब डीकॉक आउट हुए। क्रीज पर नए-नए आए पोलार्ड ने कृष्‍णा की गेंद पर डिफेंस किया। कृष्‍णा ने गेंद पकड़ने की कोशिश की लेकिन उनके हाथ में आई नहीं। फिर भी वो गेंद थ्रो करने की एक्टिंग करते हुए पोलार्ड की ओर बढ़ते चले आए।
ये कहानी ठीक उसी गेंद के बाद की है जब डीकॉक आउट हुए। क्रीज पर नए-नए आए पोलार्ड ने कृष्‍णा की गेंद पर डिफेंस किया। कृष्‍णा ने गेंद पकड़ने की कोशिश की लेकिन उनके हाथ में आई नहीं। फिर भी वो गेंद थ्रो करने की एक्टिंग करते हुए पोलार्ड की ओर बढ़ते चले आए।
फिर क्या। पोलार्ड कहां चुप रहने वालों में हैं। वो भी अपनी जगह से आगे बढ़ आए। वो कृष्‍णा के एकदम करीब आकर खींझने वाले अंदाज में कुछ बुदबुदाने लगे। उनकी आवाज तो नहीं आई लेकिन कमेंट्रेटर आकाश चोपड़ा ने कहा कि पोलार्ड ये पूछ रहे होंगे कि क्या खाओगे, छक्का या चौका।
फिर क्या। पोलार्ड कहां चुप रहने वालों में हैं। वो भी अपनी जगह से आगे बढ़ आए। वो कृष्‍णा के एकदम करीब आकर खींझने वाले अंदाज में कुछ बुदबुदाने लगे। उनकी आवाज तो नहीं आई लेकिन कमेंट्रेटर आकाश चोपड़ा ने कहा कि पोलार्ड ये पूछ रहे होंगे कि क्या खाओगे, छक्का या चौका।
और हुआ बिल्कुल वैसा ही। कृष्‍णा बॉलिंग के लिए आए तो पोलार्ड ने पहले छक्का मारा फिर अगली गेंद पर चौका मारा। इस बात से कृष्‍णा की लाइन-लेंथ ऐसी बिगड़ी कि उन्होंने 10 गेंद का ओवर फेंका। इसी बीच जब पोलार्ड रन भाग रहे थे तो कृष्‍णा उनके करीब आए तो पोलार्ड उनसे कुछ कहने लगे।
और हुआ बिल्कुल वैसा ही। कृष्‍णा बॉलिंग के लिए आए तो पोलार्ड ने पहले छक्का मारा फिर अगली गेंद पर चौका मारा। इस बात से कृष्‍णा की लाइन-लेंथ ऐसी बिगड़ी कि उन्होंने 10 गेंद का ओवर फेंका। इसी बीच जब पोलार्ड रन भाग रहे थे तो कृष्‍णा उनके करीब आए तो पोलार्ड उनसे कुछ कहने लगे।
फील्ड में तनातनी का माहौल देखते ही KKR के कप्तान ओएन मोर्गन ने गेंद पोलार्ड के ही देश के खिलाड़ी आंद्रे रसेल को थमा दी। पोलार्ड हिट करने के मूड में थे, लेकिन रसेल उनकी कमियां जानते हैं। उन्होंने ऐसी गेंद फेंकी कि पोलार्ड ने खुद अपने दोनों पैर फैलाए और पैरों के बीच से गेंद को जाने दिया।
फील्ड में तनातनी का माहौल देखते ही KKR के कप्तान ओएन मोर्गन ने गेंद पोलार्ड के ही देश के खिलाड़ी आंद्रे रसेल को थमा दी। पोलार्ड हिट करने के मूड में थे, लेकिन रसेल उनकी कमियां जानते हैं। उन्होंने ऐसी गेंद फेंकी कि पोलार्ड ने खुद अपने दोनों पैर फैलाए और पैरों के बीच से गेंद को जाने दिया।
रोहित का ये रिएक्‍शन वेंकटेश अय्यर के छक्के के बाद आया। असल में अय्यर मुंबई से मैच छीन रहे थे। तो रोहित ने अपने बॉलर के साथ प्लान बनाया, लेकिन जब बॉलर बॉलिंग करने गए तो फिर से गलती कर बैठे। रोहित ने इससे खफा और निराश होकर इस तरह का मुंह बना लिया।
रोहित का ये रिएक्‍शन वेंकटेश अय्यर के छक्के के बाद आया। असल में अय्यर मुंबई से मैच छीन रहे थे। तो रोहित ने अपने बॉलर के साथ प्लान बनाया, लेकिन जब बॉलर बॉलिंग करने गए तो फिर से गलती कर बैठे। रोहित ने इससे खफा और निराश होकर इस तरह का मुंह बना लिया।
ये इस मैच का एक शॉकिंग मोमेंट था। असल में डीकॉक ने एक शॉट लगाया और गेंद रोहित शर्मा के चेहरे के बगल से निकली। खुद को बचाने में रोहित अपनी जगह पर गिर पड़े।
ये इस मैच का एक शॉकिंग मोमेंट था। असल में डीकॉक ने एक शॉट लगाया और गेंद रोहित शर्मा के चेहरे के बगल से निकली। खुद को बचाने में रोहित अपनी जगह पर गिर पड़े।
मैच हारने के बाद रोहित और उनकी टीम के चेहरे पर तनाव दिखा। असल में इस हार के साथ ही मुंबई पॉइंट टेबल में चौथे नंबर से नीचे खिसक गई।
मैच हारने के बाद रोहित और उनकी टीम के चेहरे पर तनाव दिखा। असल में इस हार के साथ ही मुंबई पॉइंट टेबल में चौथे नंबर से नीचे खिसक गई।
हालांकि मैच के बाद रसेल और पोलार्ड को एक-दूसरे के सा‌थ हंसी-मजाक करते हुए भी देखा गया।
हालांकि मैच के बाद रसेल और पोलार्ड को एक-दूसरे के सा‌थ हंसी-मजाक करते हुए भी देखा गया।
इस तनातनी भरे मैच में एक तस्वीर ये भी सामने आई थी। मुंबई के बॉलर्स की जमकर पिटाई कर रहे वेंकटेश अय्यर के जूते का फीता खुल गया तो आगे बढ़कर जसप्रीत बुमराह ने उनकी मदद की।
इस तनातनी भरे मैच में एक तस्वीर ये भी सामने आई थी। मुंबई के बॉलर्स की जमकर पिटाई कर रहे वेंकटेश अय्यर के जूते का फीता खुल गया तो आगे बढ़कर जसप्रीत बुमराह ने उनकी मदद की।
खबरें और भी हैं...