CSK को DRS ने डुबोया:गलत फैसले का शिकार हुए चेन्नई के ओपनर कॉनवे, टेक्निकल फॉल्ट के कारण DRS ही नहीं ले सके

मुंबई5 दिन पहले

टेक्निकल फॉल्ट किसी मुकाबले का रुख बदल सकता है, इसका नजारा मुंबई इंडियंस बनाम चेन्नई सुपर किंग्स के मुकाबले में देखने को मिला। मैच के पहले ही ओवर में डेनियल सैम्स ने डेवॉन कॉनवे को LBW आउट किया। चेन्नई की पारी की दूसरी गेंद कॉनवे के पैर पर लगी और अंपायर ने तुरंत उंगली ऊपर कर दी।

कॉनवे रिव्यू लेना चाहते थे लेकिन, टेक्निकल फॉल्ट के कारण DRS की सुविधा उपलब्ध नहीं थी। रिप्ले से लग रहा था कि गेंद लेग स्टंप को मिस कर रही थी। ऐसे में DRS का न होना चेन्नई को बहुत भारी पड़ा। नॉन-स्ट्राइक पर खड़े ऋतुराज गायकवाड़ भी विवाद में कूद पड़े। ऋतुराज ने साफ तौर पर गेंद की लाइन देखी थी और उन्हें पूरा यकीन था कि कॉन्वे आउट नहीं हैं।

आउट होकर धीमे कदमों से पवेलियन लौटने के दौरान कॉनवे के चेहरे पर बेबसी साफ देखी जा सकती थी। सैम्स ने इसके बाद ओवर की चौथी गेंद पर मोइन अली (0) को भी आउट कर दिया।

3 विकेट गिरने तक नहीं उपलब्ध हो सका DRS
दूसरे ओवर की चौथी गेंद पर जसप्रीत बुमराह ने रॉबिन उथप्पा को LBW आउट किया। इस वक्त भी DRS उपलब्ध नहीं था। हालांकि, पहली नजर में उथप्पा आउट नजर आ रहे थे। DRS होता तो उथप्पा भी डिसीजन का रिव्यू ले सकते थे। इसके कुछ देर बाद DRS उपलब्ध हो गया। सैम्स ने अपने तीसरे ओवर की पहली गेंद पर गायकवाड़ को विकेटकीपर ईशान किशन के हाथों कैच कराया।

चेन्नई सुपर किंग्स के लिए यह मुकाबला बेहद जरूरी था। अगर वह जीतती तो कम से कम आगे बढ़ने की उम्मीद जीवित रहती। ऐसे में दुनिया की सबसे बड़ी क्रिकेट लीग के दौरान पावर कट की वजह से DRS का उपलब्ध ना होना बहुत सारे सवाल खड़े करता है। टूर्नामेंट में लगातार 3 अर्धशतक जड़ चुके डेवॉन कॉनवे के विकेट के बाद CSK संभल नहीं पाई। सोशल मीडिया पर इस पूरे घटनाक्रम को लेकर काफी रिएक्शन सामने आ रहे हैं।

मुकाबले के दिन कीरोन पोलार्ड का जन्मदिन भी था। ऐसे में कुछ मीम्स वायरल हुए, जिनमें उन्हें पावर कनेक्शन कट करते हुए दिखाया गया। दरअसल पोलार्ड को खराब फॉर्म के कारण टीम में नहीं चुना गया था।

चेन्नई प्लेऑफ की रेस से बाहर
मुंबई इंडियंस ने IPL 2022 में गुरुवार को खेले गए मुकाबले में चेन्नई सुपर किंग्स को 5 विकेट से हरा दिया। टॉस गंवाकर पहले बल्लेबाजी करते हुए CSK की टीम 16 ओवर में 97 रन के स्कोर पर ऑलआउट हो गई। कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने सबसे ज्यादा नाबाद 36 रन बनाए। डेनियल सैम्स ने 3 विकेट लिए। जवाब में मुंबई ने शुरुआत में लड़खड़ाने के बाद आखिरकार 14.5 ओवर में 5 विकेट खोकर टारगेट हासिल कर लिया।

98 रन के टारगेट के जवाब में मुंबई ने 33 रन पर 4 विकेट गंवा दिए थे। इसके बाद तिलक वर्मा और ऋतिक शौकीन ने पांचवें विकेट के लिए 48 रन की साझेदारी कर मुंबई की वापसी करा दी। ऋतिक 18 रन बनाकर आउट हुए। तिलक 34 रन बनाकर नाबाद रहे। टिम डेविड 7 गेंदों पर 16 रन बनाकर नाबाद रहे।