IPL में बटलर का धमाल:चौथा शतक लगाकर बटलर ऑरेंज कैप की रेस में, तोड़ सकते हैं कोहली का रिकॉर्ड

अहमदाबाद6 महीने पहले

IPLके 15वें सीजन के क्वालिफायर-2 में जोस बटलर ने कोहली का फाइनल में पहुंचने का सपना तोड़ दिया। उनकी नाबाद 106 रन की पारी की बदौलत राजस्थान रॉयल्स ने बेंगलुरु को हराकर 14 साल बाद फाइनल में जगह बनाई। बटलर ने 10 चौकों और 6 छक्कों की मदद से शतक लगाया।

इस पारी में बटलर ने विराट कोहली के एक सीजन में चार शतक लगाने के रिकॉर्ड की भी बराबरी कर ली। रविवार को गुजरात टाइटंस के खिलाफ फाइनल में विराट के इस रिकॉर्ड को भी तोड़ सकते हैं।

कोहली ने 2016 में चार शतकों और 7 अर्धशतकों के साथ 973 रन बनाए थे। यह IPL में किसी भी प्लेयर की ओर से एक सीजन में बनाया गया सबसे अधिक स्कोर है। बटलर ने भी इस सीजन के 16 मैचों में 58.86 के एवरेज से 824 रन बनाए हैं। उनका स्ट्राइक रेट 151.47 रहा। इस दौरान उन्होंने चार शतक और इतने ही अर्धशतक लगाए हैं।

बटलर ने ऑरेंज कप पक्का किया

बटलर ने इस सीजन में 824 रन बनाकर ऑरेंज कप पक्का कर लिया है। दूसरे, तीसरे और चौथे नंबर काबिज खिलाड़ी उनसे काफी पीछे हैं और उनकी टीमें IPLसे बाहर हो चुकी हैं। बटलर के बाद केएल राहुल ने 616 रन बना कर दूसरे स्थान पर हैं। उनकी टीम लखनऊ जायंट्स IPLसे बाहर हो चुकी है। इसी तरह तीसरे नंबर पर क्विंटन डि कॉक भी लखनऊ जांयट्स से ही हैं। उन्होंने 508 रन बनाए हैं।

शिखर धवन 460 रनों के साथ चौथे नंबर पर हैं। धवन की टीम पंजाब किंग्स प्ले ऑफ में भी नहीं पहुंच पाई थी। पांचवें स्थान पर गुजरात टाइंटस के कप्तान हार्दिक पंड्या हैं। उनकी टीम फाइनल में पहुंच चुकी है और उसे केवल एक मैच ही खेलना है। हार्दिक ने 14 मैचों में 453 रन बनाए हैं। उनका बटलर से आगे निकल पाना मुश्किल है।

आगे बढ़ने से पहले पोल में जरूर हिस्सा लें...

सिराज के खिलाफ सबसे पहले दिखा बटलर का आक्रामक अंदाज
इनिंग के पहले ओवर में सिराज के खिलाफ चौका जड़कर बटलर ने अपने इरादे साफ कर दिए। दूसरे ओवर में जोश हेजलवुड को भी बटलर ने चौका जड़ा। तीसरे ओवर में बटलर ने सिराज के खिलाफ ताबड़तोड़ बल्लेबाजी की। इस ओवर में बटलर ने लगातार 2 चौके और फिर एक लंबा छक्का लगाया।

शाहबाज और हर्षल के खिलाफ बटलर ने जमकर बनाए रन
पांचवें ओवर में शाहबाज अहमद के खिलाफ बटलर ने ऑफसाइड के बाहर फेंकी गई गेंद पर साइटस्क्रीन पर छक्का जड़ा। शाहबाज ने अगली गेंद विकेट पर रखी, लेकिन इस पर भी जोस ने मिडऑन के ऊपर से पुल करते हुए चौका लगा दिया। शाहबाज अहमद कभी भी बटलर के सामने अच्छी गेंदबाजी करते नहीं नजर आए। बटलर ने उनके खिलाफ जमकर रन बटोरे।

पारी के 7वें ओवर में बटलर ने लास्ट सीजन के पर्पल कैप विनर हर्षल पटेल के खिलाफ आक्रामक रुख अख्तियार किया। 120 kmph की रफ्तार से आउटसाइड ऑफ पिच की गई गेंद को बटलर ने एक्स्ट्रा कवर की तरफ से ड्राइव करते हुए चौका बटोरा। इसी शॉट के साथ 23 गेंद में बटलर ने अपनी फिफ्टी पूरी कर ली। ओवर की आखिरी गेंद लेग स्टंप के बाहर फुलटॉस थी, जिसे बटलर ने आसानी से फ्लिक करते हुए एक और चौका बटोर लिया।

बटलर के सीजन के चौथे शतक ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु की टीम के चौथे IPL फाइनल खेलने का ख्वाब तोड़ दिया।
बटलर के सीजन के चौथे शतक ने रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु की टीम के चौथे IPL फाइनल खेलने का ख्वाब तोड़ दिया।

शुरु में हसरंगा को संभल कर खेला, बाद में उन्हें भी नहीं बख्शा
शुरुआती ओवरों में हसरंगा के खिलाफ संभल कर खेल रहे बटलर ने 16वें ओवर में उन्हें रिमांड पर लिया। ऑफस्टंप के बाहर स्लॉट में गिरी गेंद पर छक्का जड़ते हुए बटलर ने इस सीजन में अपने 800 रन पूरे कर लिए। ओवर की अंतिम गेंद जानबूझकर हसरंगा ने टॉस्ड अप रखी। यह बटलर को खुला इनविटेशन था। जोस ने न्योता दोनों हाथों से स्वीकार किया और लॉन्ग ऑन के ऊपर से धमाकेदार छक्का जड़ दिया।

2008 में राजस्थान ने जीता था IPL खिताब
IPL 2022 के दूसरे क्वालिफायर में राजस्थान ने बेंगलुरु को 7 विकेट से हराकर फाइनल में जगह बना ली है। अब 29 मई को उनका मुकाबला हार्दिक पंड्या की कप्तानी वाली गुजरात से होगा।

साल 2008 में IPL के पहले सीजन में शेन वॉर्न की कप्तानी में RR पहली और आखिरी बार फाइनल में पहुंची थी। उस साल चेन्नई सुपर किंग्स को हराकर राजस्थान ने खिताब जीता था।

RCB को 7 विकेट से करारी शिकस्त देने के बाद जीत वाली सेल्फी लेते जोस बटलर और संजू सैमसन ।
RCB को 7 विकेट से करारी शिकस्त देने के बाद जीत वाली सेल्फी लेते जोस बटलर और संजू सैमसन ।

मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए RCB ने 20 ओवर में 157 रन बनाए थे। RR के लिए जोस बटलर ने धमाकेदार बल्लेबाजी करते हुए 60 गेंद में 106 रन बनाए। बटलर आखिरी तक नाबाद रहे। जोस बटलर की पारी के बूते राजस्थान ने मुकाबला 18.1 ओवर में ही जीत लिया।

बटलर की फॉर्म को देखकर लगता है कि गुजरात के लिए राजस्थान के खिलाफ फाइनल आसान तो नहीं होगा।