युवा मोहसिन का दमदार प्रदर्शन:कोलकाता के खिलाफ सिर्फ 20 रन देकर हासिल किए 3 विकेट, पूरे टूर्नामेंट में 6 से भी कम रही है इकोनॉमी

मुंबई3 महीने पहले

लखनऊ सुपर जायंट्स ने कोलकाता के खिलाफ रोमांचक मुकाबले में 2 रन से जीत हासिल की। जिस मुकाबले में कई दिग्गज गेंदबाजों की धुनाई हुई उसमें LSG के मोहसिन खान ने सिर्फ 20 रन देकर 3 विकेट लिए और मुकाबले का रुख बदल कर रख दिया। ऐसा नहीं है कि मोहसिन इस इस मैच में असरदार साबित हुए हैं। वे IPL 2022 में 8 मैचों में 13 विकेट ले चुके हैं और उनकी इकोनॉमी 5.93 की रही है।

मोहसिन की लाजवाब गेंदबाजी के सामने वेंकटेश अय्यर और आंद्रे रसेल जैसे दिग्गज बल्लेबाजों की एक न चली। लखनऊ मैच जीतकर टॉप 2 में शामिल हो गई।

IPL मैचों में जहां एक तरफ गेंदबाजों के खिलाफ बल्लेबाज बड़े प्रहार कर रहे हैं, वहीं मोहसिन ने IPL में सिर्फ 5.93 की इकोनॉमी से रन खर्च किए हैं। आगे बढ़ने से पहले इस पोल में जरूर हिस्सा लें।

लेफ्ट आर्म एंगल और बाउंसर बनाता है स्पेशल बॉलर
मोहसिन खान वो लेफ्ट आर्म पेसर हैं, जिनकी इस IPL में सबसे ज्यादा चर्चा हो रही है। मोहसिन का लेफ्ट-आर्म एंगल और बल्लेबाज को चौंकाने की क्षमता रखने वाला उनका बाउंसर, उनकी सबसे बड़ी ताकत है। उनकी हेवी बॉल पर बाउंड्री मारना किसी भी बल्लेबाज के लिए बहुत मुश्किल होता है। IPL में शानदार प्रदर्शन के बाद मोहसिन के साउथ-अफ्रीका दौरे के लिए टीम में चुने जा सकने की चर्चा भी तेज है।

विकेट चटकाने के बाद क्विंटन डीकॉक के साथ जश्न मनाते लखनऊ के युवा तेज गेंदबाज मोहसिन खान।
विकेट चटकाने के बाद क्विंटन डीकॉक के साथ जश्न मनाते लखनऊ के युवा तेज गेंदबाज मोहसिन खान।

पहले मैच में डेब्यू के बाद 1 महीने तक बेंच पर बैठे रहे
ऑक्शन में लखनऊ सुपर जायंट्स जब इस बॉलर को 20 लाख के बेस प्राइज पर खरीद रही होगी, तब उसने भी नहीं सोचा होगा कि करोड़ों का टैलेंट उन्हें इतने सस्ते में मिल गया है। मोहसिन खान ने अपना IPL डेब्यू इस सीजन लखनऊ के लिए उनके पहले मैच में किया था।

इसके बाद उन्हें लगभग एक महीने का इंतजार करना पड़ा। वापसी करने के बाद मोहसिन ने ठान लिया कि वो अब प्लेइंग इलेवन में अपनी जगह नहीं छोड़ने वाले। उन्हें अगला मुंबई इंडियंस के खिलाफ मिला। मुंबई को एक छोटा स्कोर चेज करना था, लेकिन मोहसिन ने किफायती गेंदबाजी कर अपनी टीम की जीत में योगदान दिया। अगले मैच से मोहसिन ने अपना असली रंग दिखाना शुरू किया।

लखनऊ का अगला मैच पंजाब किंग्स से होना था। एक बार फिर LSG ने पहले बैटिंग करते हुए छोटा टारगेट सेट किया। पंजाब को जीतने के लिए सिर्फ 154 रन बनाने थे। उस मैच में भी मोहसिन ने पंजाब के इन-फॉर्म बल्लेबाज लियाम लिविंगस्टोन को आउट करके पंजाब की बैटिंग की कमर ही तोड़ दी। मोहसिन ने इस मैच में एक मेडन ओवर भी डाला। चार ओवर में 24 रन देकर UP के इस बॉलर ने तीन विकेट झटके।

दिल्ली के खिलाफ किया दमदार प्रदर्शन
इसके बाद उन्होंने दिखाया कि क्यों केएल राहुल ने उन पर इतना भरोसा दिखाया है। मोहसिन ने दिल्ली के खिलाफ मैच में अपने चार ओवर में सिर्फ 16 रन देकर चार विकेट निकाले। ऐसी बॉलिंग के बाद उन्हें मैन ऑफ द मैच मिलना लाजमी था। लखनऊ ने पहले बैटिंग करते हुए 195 रन बनाए थे, जिसके जवाब में दिल्ली ने ताबड़तोड़ बैटिंग करते हुए 189 रन बना दिए।

इतना करीबी मुकाबला मोहसिन की किफायदी गेंदबाजी और चार विकेट को और खास बनाता है। दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ मोहसिन को आवेश खान के बदले टीम में लिया गया। फैसला सही निकला। इस युवा लड़के ने चार ओवर में 16 रन देकर चार विकेट निकाले। मोहसिन ने दिल्ली के खिलाफ डेविड वार्नर, ऋषभ पंत, रोवमेन पॉवेल और शार्दुल ठाकुर के विकेट अपने नाम किए।

उनका ये प्रदर्शन दर्शाता है कि मोहसिन ने लखनऊ की लगातार तीसरी जीत में कितनी अहम भूमिका निभाई है। कुछ वैसा ही प्रदर्शन उन्होंने कोलकाता के खिलाफ भी कर के दिखाया, लेकिन जिस खिलाड़ी के बूते लखनऊ इतने कमाल का प्रदर्शन कर रही है, उस नए हीरो की कहानी क्या है?

बचपन से ही क्रिकेट की दीवानगी
उत्तर प्रदेश के संभल में जन्मे इस लड़के पर बचपन से ही क्रिकेट का भूत सवार था। उत्तर प्रदेश पुलिस में सब-इंस्पेक्टर मुल्तान खान के घर 15 जुलाई, 1998 को मोहसिन खान का जन्म हुआ। मुल्तान ने अपने बेटे का टेलेंट कम उम्र में ही पहचान लिया और मोहसिन को पेशेवर क्रिकेटर बनने के लिए प्रोत्साहित करते रहे। मोहसिन के मेंटर बदरुद्दिन सिद्दिकी हैं, जिन्होंने इंडियंन क्रिकेट को पहले भी मोहम्मद शमी जैसा खिलाड़ी दिया है।

मोहसिन ने अपना लिस्ट ए डेब्यू 2018 में किया था। उस मैच में उत्तर प्रदेश का मुकाबला महाराष्ट्र से था। जनवरी 2018 में मोहसिन ने उत्तर प्रदेश के लिए अपना टी-20 डेब्यू भी किया। मोहसिन अब तक कुल मिलाकर 30 टी-20 मैच खेल चुके हैं। इन 30 मैच में इस बाएं हाथ के तेज गेंदबाज ने 41 विकेट निकाले हैं।

मोहसिन के माता-पिता ने बेटे के सपनों को पूरा करने में हर संभव सहयोग किया।
मोहसिन के माता-पिता ने बेटे के सपनों को पूरा करने में हर संभव सहयोग किया।

मुंबई इंडियंस ने खरीदा, लेकिन खेलने का मौका नहीं दिया
23 साल के इस युवा गेंदबाज़ ने भले ही अपना IPL डेब्यू 2022 में किया हो, लेकिन वो IPL का हिस्सा 2018 से ही रहे हैं। मुंबई इंडियंस ने 2018 में मोहसिन को उनके बेस प्राइस पर खरीदा था। 2020 में मुंबई ने एक बार फिर यही दोहराया। हालांकि, मुंबई की सितारों से भरी टीम में मोहसिन को प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं मिली।

मुंबई इंडियंस ने मोहसिन खान को टीम नें जरूर लिया, लेकिन कभी प्लेइंग 11 में खेलने को अवसर नहीं दिया।
मुंबई इंडियंस ने मोहसिन खान को टीम नें जरूर लिया, लेकिन कभी प्लेइंग 11 में खेलने को अवसर नहीं दिया।

पंजाब के खिलाफ मैच जीताने के बाद मोहसिन ने कहा था कि उनके माता-पिता का सपना पूरा हो गया
मोहसिन कहते हैं कि ‘कप्तान केएल राहुल और टीम मैनेजमेंट ने मुझे अपनी बॉलिंग में कुछ चीजें जोड़ने के लिए कहा है। मैं मेहनत करता रहूंगा। मैने इस चांस के लिए तीन साल इंतजार किया है और मेरे माता-पिता का सपना था कि मैं एक दिन IPL में खेलूं। मुझे खेलता देख उन्हें बहुत खुशी हुई और मैं खुश हूं की मैंने उनका सपना पूरा किया। मैं अपनी परफॉर्मेंस उन्हें समर्पित करता हूं।.’

अब कप्तान केएल राहुल चाहेंगे कि उनकी टीम में आया ये कमाल का पेसर ऐसा ही शानदार प्रदर्शन करता रहे और उनकी टीम के लिए लगातार विकेट निकालता रहे। मोहसिन लगातार 140 kmph के आसपास की रफ्तार से बॉलिंग करते रहे हैं और इंडियन न्यू-एज पेस फैक्ट्री के नए प्रोडक्ट हैं। फैन्स चाहेंगे कि मोहसिन खान यूं ही बॉलिंग करते रहें और जल्द इंडियन टीम में अपनी जगह बनाएं।