तिलक के मुरीद हुए रोहित शर्मा:बोले- जल्दी टीम इंडिया के लिए तीनों फॉर्मेट में खेलेंगे; IPL के सबसे सफल टीनएजर बल्लेबाज हैं वर्मा

मुंबई5 दिन पहले

दनदनाती बल्लेबाजी से गेंदबाजों के छक्के छुड़ाने वाले रोहित शर्मा खुद 19 साल के तिलक वर्मा की बल्लेबाजी के मुरीद हो गए हैं। मुंबई इंडियंस के कप्तान का मानना ​​है कि यह बल्लेबाज जल्द ही भारत के लिए ऑल-फॉर्मेट खेलने वाला प्लेयर बन सकता है। इस IPL सीजन में रोहित की टीम के लिए खेल रहे तिलक ने 368 रन बनाए हैं।

इससे पहले तिलक ने 2020 में दक्षिण अफ्रीका में अंडर -19 विश्व कप के दौरान भी जोरदार खेल दिखाया था। इस वर्ल्ड कप में टीम इंडिया रनरअप रही थी। आगे बढ़ने से पहले पोल में हिस्सा ले सकते हैं।

एक IPL सीजन में सबसे सफल टीएनएजर बैटर का बनाया रिकॉर्ड
IPL 2022 के दौरान MI के दिग्गज खिलाड़ी शुरुआती मुकाबलों में रन के लिए तरसते रहे और टीम प्लेऑफ की रेस से सबसे पहले बाहर हो गई। बड़े नामों के फ्लॉप होने के बीच तिलक वर्मा ने जोरदार प्रदर्शन से सबका ध्यान अपनी ओर खींचा। वर्मा ने अब तक 12 पारियां खेलकर 368 रन बनाए हैं, जो एक IPL सीजन में किसी टीनएजर (20 साल से कम उम्र) बल्लेबाज का सबसे बड़ा टोटल है। तिलक ने ऋषभ पंत का रिकॉर्ड तोड़ा है, जिन्होंने 2017 के IPL सीजन में 366 रन बनाए थे।

सभी खिलाड़ियों की बात की जाए तो वर्मा इस सीजन में सबसे ज्यादा रन बनाने वालों में 7वें नंबर पर हैं। इस दौरान उनका एवरेज 40.88 और स्ट्राइक रेट 132.85 का रहा है।

तिलक सिर्फ मुकाबले सेट नहीं करता, फिनिश भी करना चाहता है : रोहित
मुंबई इंडियंस के मुकाबले में चेन्नई सुपर किंग्स को हराने के बाद स्टार स्पोर्ट्स से रोहित ने तिलक वर्मा को लेकर बात की। रोहित ने कहा, "वह पहले साल शानदार खेल रहा है। इतना शांत दिमाग रखना कभी आसान नहीं होता है और मेरी राय में, मुझे लगता है कि वह बहुत जल्द भारत के लिए एक ऑल-फॉर्मेट खिलाड़ी बनने जा रहा है। उसके पास तकनीक है, उसके पास सही एटीट्यूड है, जो सबसे अहम बात है। जब आप बड़े लेवल पर खेलते हैं, तो आपके अंदर इन चीजों का होना अनिवार्य है।"

रोहित कहते हैं, "मुझे तिलक का भविष्य का उज्जवल नजर आता है, क्योंकि उनमें रनों की भूख दिखाई पड़ती है। वह टीम के लिए सिर्फ मुकाबले सेट नहीं करना चाहता, बल्कि मैच फिनिश भी करना चाहता है। तिलक सही रास्ते पर है। जरूरत है कि वह खुद में सुधार करता रहे और देखे कि एक प्लेयर के तौर पर वह कितना बेहतर हो सकता है।"

चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ मैच विनिंग इनिंग खेलने के दौरान युवा बल्लेबाज तिलक वर्मा
चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ मैच विनिंग इनिंग खेलने के दौरान युवा बल्लेबाज तिलक वर्मा

सूर्यकुमार यादव की अनुपस्थिति में टीम को दिलाई शानदार जीत
सूर्यकुमार यादव की अनुपस्थिति में तिलक वर्मा ने टीम के लिए मैच जीतने का जिम्मा उठाया। महज 98 रन के छोटे से टारगेट के सामने भी मुंबई की बैटिंग लड़खड़ा गई थी। वानखेड़े की चैलेंजिंग विकेट पर 5 ओवर में 33 रन के स्कोर पर 4 विकेट गंवाकर टीम संकट में घिरती नजर आ रही थी। इस सिचुएशन में दबाव को झेलते हुए ऑफ स्पिनर ऋतिक शौकीन के साथ तिलक वर्मा ने 48 रन की शानदार साझेदारी की।

दक्षिण अफ्रीका के अनकैप्ड बल्लेबाज ट्रिस्टन स्टब्स को घायल टाइमल मिल्स के बदले टीम में शामिल किया गया। स्टब्स जरूर बगैर खाता खोले आउट हो गए, लेकिन उनके पास खुद को साबित करने के लिए इस सीजन में 2 मौके और हैं।

मुंबई ने शुरू किया अगले साल की योजना पर काम
रोहित ने कहा कि हां, हम निश्चित रूप से उस पर नजर रख रहे हैं, लेकिन हम मैच जीतना चाहते हैं। उन्होंने कहा, "यह तो लब्बोलुआब है, लेकिन साथ ही हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि हम कुछ खिलाड़ियों को आजमाएं और उन्हें कुछ भूमिकाएं दें। फिर देखें कि क्या वे उस पर खरे उतर सकते हैं। यह हमें अगले साल के लिए अच्छी स्थिति में रखेगा। ऐसे विकल्प हैं जिन्हें हम आजमाना चाहते हैं। हमारे लिए अभी भी दो गेम बाकी हैं।"

स्टब्स के लिए पोलार्ड को किया गया टीम से बाहर
CSK के खिलाफ स्टब्स के टीम में शामिल होने का मतलब था कि किरोन पोलार्ड को प्लेइंग इलेवन से बाहर कर दिया गया। कारण- वे इस सीजन में 14.40 के औसत और 107.46 के स्ट्राइक रेट से केवल 144 रन ही बना सके हैं। किसी भी IPL सीजन में यह पावर हिटर पोलार्ड का सबसे कम स्ट्राइक रेट है। रोहित के अनुसार, पोलार्ड को बेंच पर बिठाने और अन्य विकल्पों को आजमाना उनके लिए अच्छा रहा। रोहित ने पोलार्ड के बारे में कहा, "वह मुंबई के लिए एक दिग्गज रहे हैं, इसमें कोई शक नहीं है।

मैंने इसे टॉस में भी कहा था। यह वह था जो बाहर आया और इसके बारे में बात की गई। वह इसके साथ ठीक है, क्योंकि जाहिर है कि हम खिलाड़ियों को देख रहे हैं। अगर हम ऐसी स्थिति में होते जहां हमारे पास प्लेऑफ खेलने का मौका होता, तो शायद ऐसा नहीं होता, लेकिन हम एक नजर रख रहे हैं कि हमें अगले वर्ष के लिए कौन से वीक स्पॉट मजबूत करने होंगे। सब कुछ ध्यान में रखते हुए, हमें वह कॉल करना था और किरोन ने आगे आकर कहा कि मुझे इससे कोई ऐतराज नहीं है।"