शमी का वर्ल्ड कप टी-20 टीम के लिए दावा:17 करोड़ी राहुल को गोल्डन डक पर चलता किया, पहली बार पावरप्ले में चटकाए 3 विकेट

पुणे6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जिस मोहम्मद शमी को टीम इंडिया की संभावित टी-20 टीम से बाहर करने की बात कही जा रही है, उन्होंने सोमवार रात IPL के अपने पहले मुकाबले में गेंदबाजी से कहर बरपा दिया। मुकाबले की पहली गेंद पर 17 करोड़ी केएल राहुल को 0 पर निपटाने के बाद भी शमी नहीं रुके। अपने पूरे करियर में शमी ने कभी पावर प्ले में 3 विकेट नहीं चटकाए थे, लेकिन इस मैच में उन्होंने ये भी कर दिखाया।

दिलचस्प ये है कि शमी की फिटनेस पर लगातार सवाल खड़े किए जा रहे हैं और अब उन्हें गुजरे हुए जमाने का खिलाड़ी कहा जाने लगा है। गुजरात टाइटंस की तरफ से खेलते हुए शमी ने लखनऊ के खिलाफ पावर प्ले में 3 विकेट चटका कर अपने आलोचकों को करारा जवाब दिया है।

चयनकर्ताओं को दिखाया आइना

शमी ने 4 ओवर में 25 रन देकर 3 खिलाड़ियों को आउट किया।
शमी ने 4 ओवर में 25 रन देकर 3 खिलाड़ियों को आउट किया।

T20 वर्ल्ड कप में हार के बाद नहीं टीम में मिला खेलने का मौका
T-20 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया की शर्मनाक हार के बाद से शमी को किसी भी लिमिटेड ओवर सीरीज के लिए टीम इंडिया में नहीं चुना गया था। वेस्टइंडीज के खिलाफ घरेलू सीरीज के लिए शमी को रेस्ट दिया गया था, लेकिन श्रीलंका सीरीज में उनको टीम का हिस्सा ही नहीं बनाया गया।

BCCI के सूत्रों ने TOI से बात करते हुए कहा कि हर गेंदबाज को हर फॉर्मेट में नहीं खिलाया जा सकता। सिर्फ जसप्रीत बुमराह ही ऐसे गेंदबाज हैं जो हर फॉर्मेट में फिट बैठते हैं। जिस तरीके से ऋद्धिमान साहा को कोच राहुल द्रविड़ ने टेस्ट टीम से बाहर होने की जानकारी दी, अब कुछ वैसा ही बर्ताव शमी के साथ वनडे और टी-20 टीम को लेकर किए जाने की बात चल रही है।

सिर्फ 17 टी-20 मुकाबलों में टीम इंडिया के लिए खेल सके हैं
अपने 9 साल के करियर में शमी ने केवल 17 टी-20 इंटरनेशनल मुकाबले खेले हैं। शमी की फिटनेस को निशाना बनाते हुए उन्हें टीम से निकालने की सुगबुगाहट इन दिनों तेज है। यह भी कहा जा रहा है कि हम सिर्फ तेज गेंदबाजों पर फोकस करने की बजाय ऑलराउंडर को टीम में शामिल करना चाहते हैं।

बता दें कि शमी की तुलना शार्दूल ठाकुर और दीपक चाहर से की जाने लगी है। वे दोनों तो ऑलराउंडर हैं, लेकिन शमी इतनी अच्छी बल्लेबाजी नहीं कर पाते। इस बहाने भी शमी पर निशाना साधा जा रहा है।

अब IPL के इस मैच में मोहम्मद शमी ने जबरदस्त गेंदबाजी कर यह साबित कर दिया है कि आने वाले समय में उनको व्हाइट बॉल क्रिकेट से दूर रखना मुश्किल होने वाला है। अगर IPL के अगले कुछ मुकाबलों के दौरान शमी इसी तरह पावरप्ले के शुरुआती ओवरों में टीम को विकेट चटका कर देते हैं तो इस साल के आखिर में होने वाले T20 वर्ल्ड कप में वह टीम में अपनी जगह सुनिश्चित करने में सफल हो सकते हैं।