IPL 2021 चेन्नई Vs कोलकाता फैंटेसी-11 गाइड:लॉर्ड शार्दूल को कप्तान बनाकर हो सकता है फायदा, KKR के अय्यर-रसेल पर रहेगी सभी की नजरें

दुबई2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

IPL 2021 फेज-2 में आज टूर्नामेंट का फाइनल मुकाबला चेन्नई सुपर किंग्स और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच दुबई के मैदान पर खेला जाएगा। CSK 9वीं फाइनल खेलती नजर आएगी, जबकि KKR तीसरी बार फाइनल में पहुंची है। चलिए जानने की कोशिश करते हैं कि इस महा-मुकाबले के लिए फैंटेसी 11 में कौन-कौन से खिलाड़ियों को शामिल कर सकते हैं।

विकेटकीपर
इस मैच के लिए बतौर विकेटकीपर एमएस धोनी को फैंटेसी टीम का हिस्सा बनाया जा सकता है। क्वालिफायर-1 में धोनी ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए पूरी दुनिया को एक बार फिर से अपना फैन बनाया था। उन्होंने 6 गेंदों पर नाबाद 18 रनों की पारी खेल न सिर्फ CSK के लिए फाइनल का टिकट कटाया, बल्कि फॉर्म में वापसी के संकेत भी दिए। KKR के खिलाफ उन्होंने 24 पारियों में 38.54 की औसत के साथ 501 रन बनाए हैं।

बैटर
फैंटेसी 11 के लिए बल्लेबाजों में ऋतुराज गायकवाड़, फाफ डु प्लेसिस, वेंकटेश अय्यर और राहुल त्रिपाठी को चुन सकते हैं। ऋतुराज और फाफ इस सीजन चेन्नई के लिए सबसे अहम खिलाड़ी साबित हुए हैं। गायकवाड़ ने जहां 15 पारियों में एक शतक के साथ 603 रन बनाए हैं, जबकि डु प्लेसिस के बल्ले से 42.08 की औसत से 587 रन देखने को मिले हैं। ऑरेंज कैप की रेस में भी ऋतुराज दूसरे और फाफ चौथे स्थान पर चल रहे हैं। फाइनल में भी CSK को दोनों खिलाड़ियों से एक आखिरी बार दमदार प्रदर्शन की आस रहेगी।

कोलकाता की टीम से फैंटेसी 11 में वेंकटेश अय्यर और राहुल त्रिपाठी को शामिल कर सकते हैं। अय्यर ने क्वालिफायर-2 में 55 रनों की मैच जिताऊ पारी खेली थी और वह इस सीजन की सबसे बड़ी खोज भी रहे हैं। वहीं, त्रिपाठी ने क्वालिफायर-2 में यादगार छक्का लगाते हुए KKR को फाइनल का टिकट दिलाया था। साथ ही वह टीम के लिए IPL 14 में 395 रनों के साथ टॉप स्कोरर भी रहे हैं। यह खिलाड़ी फाइनल में पॉइंट्स दिला सकते हैं।

ऑलराउंडर्स
इस मैच में बतौर ऑलराउंडर आंद्रे रसेल, ड्वेन ब्रावो और रवींद्र जडेजा पर दांव लगाया जा सकता है। रसेल पिछले कुछ मैचों से खराब फिटनेस के चलते प्लेइंग इलेवन से बाहर रहे हैं, लेकिन फाइनल जैसे बड़े मुकाबले में उनकी टीम में वापसी हो सकती है। मौजूदा टूर्नामेंट में भी ही भले रसेल ने कोई बड़ा कारमाना न किया हो, लेकिन CSK के खिलाफ उनका रिकॉर्ड बहुत शानदार रहा है। चेन्नई के खिलाफ उन्होंने 10 पारियों में 169.49 के स्ट्राइक रेट के साथ 300 रन बनाए हैं और 8 विकेट भी चटकाए हैं। प्लेइंग इलेवन में अगर आंद्रे रसेल की वापसी होती है तो वह KKR के लिए की-प्लेयर रहेंगे।

उनके अलावा ब्रावो और जडेजा पर नजरें रहेगी। दोनों खिलाड़ियों का चेन्नई को फाइनल तक पहुंचाने में बड़ा रोल रहा है। ब्रावो अभी तक 13 विकेट ले चुके हैं। हालांकि बल्ले से उनको ज्यादा मौका नहीं मिला है, लेकिन मौका मिलने पर वह टीम के लिए बड़ी पारी खेल सकते हैं। जडेजा की बात करें तो इस सीजन उन्होंने कई तेज तर्रार पारियां खेली है। IPL 14 में जडेजा ने 15 मैचों में 11 विकेट लेने के साथ 227 रन बनाए हैं। डेथ ओवर्स में तो उनकी बैटिंग काफी जोरदार देखने को मिली है।

बॉलर्स
बॉलिंग डिपार्टमेंट में शार्दूल ठाकुर, वरुण चक्रवर्ती और लॉकी फर्ग्यूसन को शामिल कर सकते हैं। सबसे पहले शार्दूल की बात करें तो वह टीम के लिए पार्टनरशिप तोड़ने वाले गेंदबाज की भूमिका में नजर आ रहे हैं। हर बार जरूरत पड़ने पर उन्होंने टीम के लिए विकेट हासिल किया है। 15 मैचों में ठाकुर 18 विकेट ले चुके हैं। KKR के लिए वरुण उम्दा प्रदर्शन किया है। इस सीजन सबसे ज्यादा विकेट लेने वालों की लिस्ट में उनका नाम 18 विकेट के साथ पांचवें पायदान पर आता है। फाइनल में भी उनसे ऐसे ही प्रदर्शन की उम्मीद रहेगी।

चक्रवर्ती के अलावा फर्ग्यूसन कोलकाता के लिए अहम रहेंगे। फेज-2 में उन्होंने अपने प्रदर्शन से काफी सुर्खियां बटौरी है। सात मैचों में उन्होंने सिर्फ 12.92 की औसत के साथ 13 विकेट हासिल किए हैं। ये तीनों खिलाड़ी ज्यादा पॉइट्स दिला सकते हैं।

खबरें और भी हैं...