हैप्पी बर्थडे हिटमैन:गरीबी में बीता बचपन, टेस्ट डेब्यू पर जड़ा था शतक, 5 IPL जीतने वाले इकलौते कप्तान

स्पोर्ट्स डेस्क5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

टीम इंडिया के कप्तान और स्टार ओपनर रोहित शर्मा आज अपना 35वां जन्मदिन मना रहे हैं। रोहित का जन्म 30 अप्रैल 1987 में नागपुर, महाराष्ट्र में हुआ था। 'हिटमैन' रोहित दुनिया के इकलौते ऐसे बल्लेबाज हैं, जिन्होंने वनडे में 3 डबल सेंचुरी जड़ी हैं। इसके साथ ही वनडे क्रिकेट में सबसे बड़ी पारी खेलने का रिकॉर्ड भी रोहित के नाम ही दर्ज है। आइए जानते हैं रोहित से जुड़ी कुछ खास बातें और रिकॉर्ड्स।

अपने माता-पिता के साथ रोहित शर्मा।
अपने माता-पिता के साथ रोहित शर्मा।

गरीबी में बीता बचपन
रोहित का बचपन काफी गरीबी में बीता है। उनके पिता गुरुनाथ शर्मा, ट्रेवल कंपनी की देखभाल का काम करते थे। रोहित के पिता की इनकम ज्यादा नहीं थी, इसलिए उनका लालन पालन बोरीवली में उनके दादा और चाचा ने किया था। रोहित ने 1999 में अपने चाचा की आय से ही एक क्रिकेट कैम्प में क्रिकेट खेलना शुरू किया था। हिटमैन को उनके चाचा ने ही पहला क्रिकेट बैट दिलाया था।

उस समय रोहित के कोच दिनेश लाड थे और उन्होंने कहा था कि तुम अपने विद्यालय को बदल कर स्वामी विवेकानंद इंटरनेशनल स्कूल में आ जाओ, क्योंकि लाड वहीं पर कोच के पद पर कार्यरत थे। उन्होंने ऐसा कहा ताकि रोहित को क्रिकेट खेलने में ज्यादा सुविधा मिल सके।

ऑफ स्पिन से की थी शुरुआत
रोहित ने अपने करियर की शुरुआत बतौर ऑफ स्पिनर की थी, लेकिन बाद में कोच दिनेश लाड की सलाह पर उन्होंने बल्लेबाजी पर ध्यान दिया। तब रोहित 8वें नंबर पर बल्लेबाजी करते थे और लाड ने बाद में इनको ओपनिंग करने के लिए भेजना शुरू किया। बतौर ओपनर रोहित ने पहले ही मैच में शतक जड़ा था। उसके बाद से अब तक रोहित ने क्रिकेट में कई मुकाम हासिल किए हैं।

इंटरनेशनल क्रिकेट में रोहित ने अपनी पहली फिफ्टी 2007 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ लगाई थी।
इंटरनेशनल क्रिकेट में रोहित ने अपनी पहली फिफ्टी 2007 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ लगाई थी।

2007 में किया इंटनरनेशनल डेब्यू
2007 के आयरलैंड दौरे पर रोहित शर्मा को टीम इंडिया के लिए पहला वनडे मैच खेलने का मौका मिला था। हालांकि, उस मैच में उनकी बल्लेबाजी नहीं आ सकी। इसके बाद रोहित 2007 में खेले गए पहले टी-20 वर्ल्ड कप की टीम में भी चुने गए। साउथ अफ्रीका के खिलाफ मैच में हिटमैन को पहली बार टी-20 इंटरनेशनल में बल्लेबाजी का मौका मिला और उन्होंने 40 गेंदों पर नाबाद 50 रन बनाए। भारत ने मैच 37 रन से जीता और शर्मा जी 'प्लेयर ऑफ द मैच' रहे।

पाकिस्तान के खिलाफ वर्ल्ड कप के फाइनल में भी उन्होंने शानदार बल्लेबाजी करते हुए 16 गेंदों पर 30 रन की नाबाद पारी खेली थी।

2013 में किया टेस्ट डेब्यू
वनडे और टी-20 क्रिकेट में धाक जमाने के पूरे 6 साल बाद हिटमैन को टेस्ट डेब्यू करने का मौका मिला। रोहित ने अपने टेस्ट करियर का आगाज वेस्टइंडीज के खिलाफ 9 नवंबर 2013 में कोलकाता के ईडन गार्डेन्स पर किया था। उस मैच में रोहित ने 177 रनों की पारी खेली थी। अपने दूसरे टेस्ट मैच में भी उन्होंने विंडीज के खिलाफ शतक ठोका था।

कप्तान के रूप में रोहित का रिकॉर्ड है शानदार
कप्तान के रूप में रोहित का रिकॉर्ड शानदार है। उन्होंने 43 इंटरनेशन मैचों में भारत की कप्तानी की है और 37 मैच जीते हैं। केवल 6 में भारत को हार का सामना करना पड़ा। वहीं, IPL में उन्होंने अपनी टीम को 56.20 फीसदी मैच जिताए हैं। वो एकमात्र कप्तान हैं जिनके नाम पांच IPL ट्रॉफी जीतने का रिकॉर्ड है।

बतौर फुलटाइम भारतीय कप्तान बनने के बाद रोहित ने एक भी मैच नहीं हारा है। वो लगातार 14 मैच जीत चुके हैं। इस साल ऑस्ट्रेलियाई मैदानों पर टी-20 वर्ल्ड कप खेला जाना है और टीम इंडिया को हिटमैन से खिताब जिताने की बहुत उम्मीदें हैं।

रोहित के कुछ स्पेशल रिकॉर्ड्स

  • रोहित शर्मा भारत के उन चुनिंदा खिलाड़ियों में से एक हैं, जिन्होंने खेल के तीनों फॉर्मेट में शतक जड़ा है। भारत के लिए उनके अलावा सुरेश रैना और केएल राहुल ही ऐसा कर सके हैं।
  • 2014 में श्रीलंका के खिलाफ रोहित ने 264 रनों की पारी खेली थी, जो आज तक वनडे क्रिकेट इतिहास में एक पारी में किसी बल्लेबाज द्वारा बनाए गए सबसे ज्यादा रन हैं। तब रोहित ने 173 गेंद पर 33 चौके और 9 छक्के जड़े थे।
  • वनडे इंटरेनशनल में अब तक 8 बार बल्लेबाजों द्वारा डबल सेंचुरी लगाई गई है। जिसमें से 3 बार तो रोहित शर्मा ने ही ये कारनामा किया है। रोहित के अलावा सचिन तेंदुलकर, वीरेंद्र सहवाग, क्रिस गेल, मार्टिन गप्टिल औैर फखर जमां 1-1 बार डबल सेंचुरी जड़ चुके हैं।
  • वनडे में एक पारी में सबसे ज्यादा 33 चौके लगाने का विश्व रिकॉर्ड भी रोहित शर्मा के नाम पर दर्ज है। रोहित ने कोलकाता में श्रीलंका के खिलाफ 2014 में 264 रनों की रिकॉर्ड पारी के दौरान यह रिकॉर्ड बनाया था। इस लिस्ट में पूर्व भारतीय बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर और वीरेंद्र सहवाग संयुक्त रूप से दूसरे नंबर पर हैं। दोनों ही बल्लेबाजों ने एक वनडे मैच में 25 चौके लगाए हैं।
  • 2017 में रोहित ने श्रीलंका के खिलाफ 35 गेंद पर टी-20 सेंचुरी जड़ी थी, जो टी-20 इंटरनेशनल में डेविड मिलर के साथ संयुक्त रूप से सबसे तेज सेंचुरी है।
  • रोहित का टी-20 में भी शानदार रिकॉर्ड है। वे टी-20 में 4 शतक लगा चुके हैं। वेस्टइंडीज के खिलाफ 2018 में रोहित शर्मा ने अपने करियर का चौथा शतक लगाया था। टी-20 में रोहित शर्मा ने दक्षिण अफ्रीका, श्रीलंका, वेस्टइंडीज और इंग्लैंड के खिलाफ शतक लगाया है। रोहित शर्मा के अलावा केएल राहुल के नाम भारत के लिए 2 टी-20 शतक हैं।
  • पहली टेस्ट सीरीज में 'मैन ऑफ द सीरीज' का खिताब जीता था। भारत के सिर्फ 4 खिलाड़ियों के नाम यह रिकॉर्ड दर्ज है। सौरव गांगुली, रविचंद्रन अश्विन, पृथ्वी शॉ के नाम यह रिकॉर्ड है।
  • टी-20 इंटरनेशनल में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड भी उनके नाम पर ही दर्ज है। शर्मा ने 125 मैचों में 3,313 रन बनाए हैं। दूसरे नंबर पर न्यूजीलैंड के मार्टिन गुप्टिल (3,299) और तीसरे पर विराट कोहली (3,296) के नाम आते हैं।
  • 2019 के वनडे वर्ल्ड कप में रोहित शर्मा ने 5 शतक लगाए थे। आज तक किसी भी एक वर्ल्ड कप में किसी खिलाड़ी ने इतने शतक नहीं लगाए हैं।