• Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Ipl
  • Suryakumar Hit The Ball At A Speed Of 141.7, The Opposing Team Also Started Calling The Physio After Shaking

लगातार 3 चौके खाकर खिसियाए बॉलर के कहर का VIDEO:सूर्यकुमार को 141.7 की रफ्तार से गेंद लगी, विरोधी टीम भी सकपका कर फिजियो बुलाने लगी

13 दिन पहले

सूर्यकुमार यादव ने IPL के 14वें मैच में घातक बल्लेबाजी की। मैच था मुंबई इंडियंस (MI) और सनराईजर्स हैदराबाद (SRH) के बीच। MI की तरफ से खेलने वाले सूर्यकुमार ने सिर्फ 35 गेंद में 81 रन बना लिए थे। इन 35 गेंदों में से आखिरी तीन गेंदों पर उन्होंने लगातार 3 चौके जड़े। लेकिन, 36वीं गेंद उनके बैट से टकराती हुई उनके हेलमेट के कनपटी वाले हिस्से पर जाकर लगी। गेंद की रफ्तार 141.7 किलोमीटर प्रति घंटा थी।

गेंद फेंकने वाले बॉलर थे उमरान मलिक, जो फिलहाल इस IPL में सबसे तेज गेंदबाज हैं और कश्मीर एक्सप्रेस के नाम से मशहूर हैं। सूर्यकुमार यादव ने जब उमरान की लगातार तीन गेंदों पर चौके जड़े तो इस फास्ट बॉलर का पारा चढ़ गया। अगली गेंद उसने लगभग छाती की ऊंचाई पर 141.7 की रफ्तार से फेंकी। लेकिन, किसी सूरत में मुंबई के लिए प्ले ऑफ में जगह बनाने की कोशिश में लगे सूर्यकुमार ने इस घातक गेंद पर भी बल्ला चलाया। गेंद बल्ले से टकराई और फिर उनके कान के ठीक नीचे जा लगी। गेंद लगते ही वो तिलमिलाते नजर आए।

सूर्यकुमार की हालत देख भागते आए खिलाड़ी
पीछे से विरोधी टीम के विकेट कीपर ऋद्ध‌िमान साहा भागते-भागते आए। सूर्यकुमार की हालत देखते ही वो स्टैंड की ओर तेजी से इशारा कर उनके लिए फिजियो और मेडिकल सुविधा की मांग करने लगे। फिजियो मैदान पर पहुंचे। तब तक सूर्यकुमार होश संभाल बैठे थे। फिजियो के साथ मुंबई इंडियन्स के कुछ खिलाड़ी भी भागते आए। शायद कोई भी आम मैच होता तो सूर्यकुमार लौट जाते। लेकिन बात आर या पार की थी।

सूर्यकुमार यादव के बल्ले को पहली बार इस तरह से गरजते देखा जा रहा था। ओवर भी 19वां था। सिर्फ 8 गेंदें खेलने को और बचीं थी। मुंबई का स्कोर 229 रन था। मुंबई को प्ले ऑफ की दौड़ में बने रहने के लिए सनराइजर्स हैदराबाद को 171 रन से मात देनी थी।

मुंबई की पूरी टीम मैच के पहले मिनट से इसी अंदाज में खेल रही थी। इसलिए सूर्यकुमार यादव ने फैसला किया वो लौटकर स्टैंड में नहीं जाएंगे। दअरसल, 8 विकेट भी गिर चुके थे। वे वापस जाते तो कोई बैटिंग करने वाला भी नहीं बचता और मुंबई कहीं से भी 1 रन कम करने में मूड में नहीं थी।

आखिरी ओवर में गिरा सूर्यकुमार का विकेट
सूर्यकुमार यादव ने खेलना तो शुरू किया लेकिन उमरान को ये कतई न भाया। उन्होंने अगली गेंद 152.95 किमी प्रति घंटा की फेंकी। ये इस IPL की अब तक सबसे तेज रफ्तार से फेंकी गई गेंद थी। सूर्यकुमार ने किसी तरह इसे रोककर एक रन लिया। ताकि स्ट्राइक उन्हीं के पास रहे।

अगला ओवर जेसन होल्डर लेकर आए। सूर्यकुमार पहली बॉल को हिट नहीं कर पाए। वे अपनी जगह पर बैठ गए। शायद उन्हें दर्द हो रहा था। दूसरी गेंद पर उन्होंने फिर कोशिश की लेकिन, शॉट फिर भी नहीं लगा। तीसरी गेंद पर किसी तरह एक शॉट लगाया। लेकिन यह पहले की तरह नहीं था। गेंद सीधे फील्डर के हाथ में गई और सूर्यकुमार यादव की पारी खत्म हो गई।