दो कप्तानों की नीति पर भारत:ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और साउथ अफ्रीका के बाद भारत चौथा देश जिसने White ball क्रिकेट में अलग कप्तान बनाया

नई दिल्लीएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

टीम इंडिया ने क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट के लिए 2 कप्तान बनाए हैं। मंगलवार को BCCI ने इसका ऐलान किया। अब टेस्ट में विराट कोहली टीम के कप्तान होंगे। वहीं, वनडे और टी-20 में रोहित शर्मा को कप्तान बनाया गया है।

आइए आपको बताते हैं टेस्ट खेलने वाले 12 देशों में किन देशों ने White ball क्रिकेट में अलग कप्तान बनाया है और कितने देश पुराने ढर्रे पर चलते हुए एक ही कप्तान के साथ खेलते हैं।

पाकिस्तान, न्यूजीलैंड, आयरलैंड और जिम्बाब्वे के तीनों फॉर्मेट में एक ही कप्तान
न्यूजीलैंड की टीम तीनों फॉर्मेट में केन विलियम्सन की कप्तानी में खेल रही है। उन्होंने दो कप्तानों की नीति नहीं अपनाई है। वहीं, पाकिस्तान के भी तीनों फॉर्मेट में एक ही कप्तान है। पाक टीम बाबर आजम के कप्तानी में खेलती है।

आयरलैंड भी तीनों फॉर्मेट में एक ही कप्तान के साथ उतरती है। एंड्रयू बालबर्नी आयरलैंड के लिए टेस्ट, वनडे और टी-20 में कप्तानी करते हैं। वहीं, जिम्बाब्वे के कप्तान अभी क्रेग एर्विन हैं और ये भी तीनों फॉर्मेट के कप्तान हैं।

बांग्लादेश के तीनों फॉर्मेट में अलग कप्तान
बांग्लादेश की टीम के तीनों फॉर्मेट में अलग-अलग कप्तान हैं। टेस्ट में टीम की कप्तानी मोमिनुल हक करते हैं। वहीं, वनडे टीम की कमान तमीम इकबाल के पास है और टी-20 क्रिकेट में महमूदुल्लाह बांग्लादेश के कप्तान हैं।

अफगानिस्तान का कुछ साफ नहीं
टी-20 में अफगानिस्तान की टीम के कप्तान अभी मोहम्मद नबी हैं। वहीं, अफगानिस्तान ने जो अपना आखिरी टेस्ट मैच खेला था उसमें असगर अफगान कप्तान थे। आखिरी वनडे मैच में भी अफगानिस्तान के कप्तान असगर अफगान ही थे। हालांकि, अफगान ने अब क्रिकेट से संन्यास ले लिया है।

कुछ दिन पहले अफगानिस्तान ने राशिद खान को तीनों फॉर्मेट का कप्तान बनाया था, लेकिन उन्होंने कप्तानी करने से मना कर दिया था।

ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड ने नए कप्तान बनाए और वर्ल्ड कप अपने नाम किया
ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड अलग-अलग कप्तान बनाए जाने के बाद वर्ल्ड कप अपने नाम कर चुके हैं। ऑस्ट्रेलिया ने इस साल टी-20 का वर्ल्ड कप जीता है। वहीं, इंग्लैंड की टीम 2019 का वनडे वर्ल्ड कप अपने नाम कर चुकी है।

खबरें और भी हैं...