टेस्ट से पहले काउंटी मैच खेलेंगे अश्विन:भारतीय ऑफ स्पिनर सरे काउंटी की ओर से खेल सकते हैं एक फर्स्ट क्लास मैच, वर्क वीसा लेने की कोशिश जारी

लंदन3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अश्विन पहले नॉटिंघमशायर और वा� - Dainik Bhaskar
अश्विन पहले नॉटिंघमशायर और वा�

टीम इंडिया के स्टार ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज से पहले काउंटी मैच खेल सकते हैं। माना जा रहा है कि वे सरे टीम के लिए काउंटी चैंपियनशिप के एक मुकाबले में हिस्सा लेंगे। हालांकि, अश्विन यह मैच तभी खेल पाएंगे जब उन्हें समय पर वर्क वीसा मिल जाए। सरे काउंटी को उम्मीद है कि वीसा का मसला समय रहते हल कर लिया जाएगा। यह मैच 11 जुलाई से शुरू होना है।

दो काउंटी टीमों के लिए पहले खेल चुके हैं अश्विन
अश्विन पहले भी काउंटी क्रिकेट खेल चुके हैं। वे नॉटिंघमशायर और वारेस्टरशायर का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं। इंग्लिश काउंटी टीमों को दो ओवरसीज (विदेशी) खिलाड़ियों को शामिल करने की छूट होती है। सरे के पास हाशिम अमला और काइल जेमिसन के रूप में दो विदेशी खिलाड़ी मौजूद हैं। लेकिन, जेमिसन पिछले मैच के दौरान चोटिल हो गए थे और सिर्फ 6 ओवर की गेंदबाजी ही कर पाए थे। अगले मैच में टीम उनके स्थान पर अश्विन को शामिल करना चाहती है।

अश्विन ने अभी जारी छुट्टियों के दौरान विम्बलडन का लुत्फ भी उठाया है।
अश्विन ने अभी जारी छुट्टियों के दौरान विम्बलडन का लुत्फ भी उठाया है।

अभी छुट्टियां मना रहे हैं भारतीय खिलाड़ी
न्यूजीलैंड के खिलाफ वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल में हार के बाद टीम इंडिया के सभी खिलाड़ी और सपोर्ट स्टाफ इंग्लैंड में 20 दिनों की छुट्टियों पर हैं। सभी खिलाड़ी 14 जुलाई को लंदन में एकत्रित होंगे। इसके बाद टीम को डरहम जाना है। डरहम में काउंटी सिलेक्ट टीम के खिलाफ अभ्यास मैच होना है। साथ ही वहां टीम इंडिया टेस्ट सीरीज के लिए अभ्यास भी करेगी। इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की सीरीज 4 अगस्त से शुरू हो रही है।

फाइनल में हार के बाद की थी प्रैक्टिस मैच की मांग
इंग्लैंड दौरे की पहले जो योजना बनी थी उसमें प्रैक्टिस मैच शामिल नहीं थे। भारतीय खेमे का मानना था कि अभ्यास मैच में घरेलू बोर्ड कमजोर टीम उतारता है ताकि विदेशी टीमों को टेस्ट सीरीज से पहले अच्छा अभ्यास न मिल पाए। लेकिन, वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल में हार के बाद भारतीय टीम मैनेजमेंट ने दो अभ्यास मैच करवाने की मांग की। उनकी इस मांग के बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB) से इस बारे में औपचारिक अनुरोध किया। इसे ECB ने मान लिया।

खबरें और भी हैं...