एशिया कप के लिए टीम इंडिया का ऐलान:कोहली-राहुल की हुई वापसी, चोट के कारण बुमराह टीम से बाहर

मुंबई2 महीने पहले

एशिया कप के लिए 15 सदस्यीय भारतीय क्रिकेट टीम का ऐलान कर दिया गया है। कप्तान के तौर पर रोहित शर्मा और उपकप्तान के रूप में केएल राहुल को कमान सौंपी गई है। वेस्टइंडीज दौरे पर आराम लेने वाले विराट कोहली की टीम इंडिया में वापसी हुई है। लगातार चोट से परेशान चल रहे केएल राहुल भी फिटनेस हासिल करने के बाद एशिया कप से वापसी करेंगे। हालांकि, स्ट्राइक बॉलर जसप्रीत बुमराह चोट के कारण एशिया कप से बाहर हो गए हैं।

भारत 7 बार बना है चैंपियन
भारतीय टीम अब तक इस टूर्नामेंट के 13 संस्करणों में हिस्सा ले चुकी है और सबसे ज्यादा सात बार चैंपियन रही है। इसके अलावा टीम तीन बार फाइनल तक तो पहुंची, लेकिन उसे हार का सामना करना पड़ा। दूसरे स्थान पर श्रीलंका है। श्रीलंकाई टीम पांच बार चैंपियन बनी है और छह बार रनर अप रही है। पाकिस्तान की टीम ने दो बार यह खिताब जीता है।

पहले मैच में पाकिस्तान से होगी भिड़ंत
टीम इंडिया को टी-20 वर्ल्ड कप के पहले मुकाबले में पाकिस्तान से मिली करारी हार का बदला लेने का मौका मिल गया है। भारतीय टीम 28 अगस्त को एशिया कप में पाकिस्तान का सामना करेगी। इस बार एशिया कप की मेजबानी श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड (SLC) कर रहा है। पहले वहां आर्थिक संकट के चलते इसके UAE में कराए जाने की चर्चाएं थीं।

वर्ल्ड कप में मिली थी करारी हार
याद दिला दें कि भारत और पाकिस्तान के बीच आखिरी भिड़ंत पिछले साल टी20 वर्ल्ड कप में हुई थी। बाबर आजम की अगुआई वाली पाक टीम ने भारत को 10 विकेट से करारी मात दी थी। एशिया कप वर्ल्ड कप की तैयारियों के लिहाज से अहम है।

21 अगस्त से क्वालिफायर के मुकाबले
एशिया कप के क्वालिफायर मुकाबले 21 अगस्त से शुरू होंगे। इसमें UAE, ओमान, नेपाल, हॉन्गकॉन्ग सहित अन्य टीमें उतरेंगी। इनमें से एक टीम मेन ड्रॉ के लिए क्वालिफाई करेगी। मेन ड्रॉ में भारत, पाकिस्तान, श्रीलंका, अफगानिस्तान और बांग्लादेश को पहले ही जगह मिल चुकी है। अंतिम बार एशिया कप के मुकाबले 2018 में UAE में कराए गए थे।

इस बार टी-20 फॉर्मेट में होगा टूर्नामेंट
इस बार एशिया कप के मुकाबले टी-20 फॉर्मेट में खेले जाएंगे। पहले यह वनडे फॉर्मेट में खेला जाता था। पहली बार 2016 में टी20 फॉर्मेट में इसका आयोजन कराया गया था। तब टीम इंडिया ने फाइनल में बांग्लादेश को 8 विकेट से शिकस्त दी थी। ऐसे में टीम इंडिया का रिकॉर्ड यहां अच्छा है। उसने फाइनल में बांग्लादेश को हराकर 7वीं बार खिताब पर कब्जा किया था।

खबरें और भी हैं...