अयाज मेमन की कलम से / कोरोनावायरस के चलते आईपीएल टालने करने का फैसला सही, जोखिम लेने का समय नहीं

पुराने शेड्यूल के मुताबिक, आईपीएल का पहला मैच 29 मार्च को मुंबई और चेन्नई के बीच होना था। पुराने शेड्यूल के मुताबिक, आईपीएल का पहला मैच 29 मार्च को मुंबई और चेन्नई के बीच होना था।
X
पुराने शेड्यूल के मुताबिक, आईपीएल का पहला मैच 29 मार्च को मुंबई और चेन्नई के बीच होना था।पुराने शेड्यूल के मुताबिक, आईपीएल का पहला मैच 29 मार्च को मुंबई और चेन्नई के बीच होना था।

  • बीसीसीआई ने आईपीएल को 15 अप्रैल तक टाल दिया, पहले 29 मार्च से होना था
  • आईपीएल कराना असंभव सा, कोरोनावायरस का प्रकोप भारत में लगातार बढ़ रहा

दैनिक भास्कर

Mar 15, 2020, 07:36 AM IST

खेल डेस्क. एक हफ्ते तक चले सस्पेंस के बाद बीसीसीआई ने आईपीएल को 15 अप्रैल तक स्थगित करने का फैसला किया। डब्ल्यूएचओ ने कोरोनोवायरस को महामारी घोषित किया है। इसके बढ़ते प्रकोप के कारण दुनिया काफी डरी हुई है। दुनिया भर के इंटरनेशनल इवेंट इससे प्रभावित हुए हैं। अमेरिका में एनबीए, (बास्केटबॉल), एनएचएल (हॉकी), एमएलबी (बेसबॉल), एनसीएए (कॉलेज एथलेटिक्स) को अनिश्चित समय के लिए सस्पेंड कर दिया गया है। यूरोप में सभी मुख्य फुटबॉल लीग स्पेनिश ला लिगा, इटैलियन सीरी ए, पुर्तगाल की प्रीमियर लीग और लीग आॅफ आयरलैंड को स्थगित तक कर दिया। चीन, जापान, दक्षिण कोरिया में हर लेवल के स्पोर्ट्स टूर्नामेंट अनिश्चित समय के लिए स्थगित हैं।

रविवार को होने वाली ऑस्ट्रेलियन ग्रांप्री को भी एक दिन पहले स्थगित करने का फैसला हुआ। टेनिस की बात की जाए तो एटीपी को छह हफ्ते के लिए जबकि डब्ल्यूटीए को पांच हफ्ते के लिए टाल दिया गया है। फुटबॉल की कुछ लीग के मुकाबले अभी भी बिना दर्शक के खेले जा रहे हैं। लेकिन इसमें भी धीरे-धीरे बदलाव हो रहा है। क्रिकेट की बात की जाए तो ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड सीरीज भी रद्द हो गई है। रिचर्ड्सन और फर्ग्युसन की रिपोर्ट निगेटिव आई। इसने बोर्ड के अलावा दुनिया को परेशान कर दिया था।

आईपीएल पर अब भी खतरा

आईपीएल अभी भी खतरे में है। दक्षिण अफ्रीका सीरीज रद्द होना जरूरी था। अब बीसीसीआई के लिए आईपीएल का आयोजन कराना असंभव सा है। विदेश मंत्रालय ने टूर्नामेंट स्थगित करने का कहा है। हालांकि अंतिम निर्णय बोर्ड को लेना है। बीसीसीआई इस पर जल्द कोई निर्णय नहीं लेना चाहता। इसके फाइनेंशियल पहलू भी हैं। आईपीएल मल्टी मिलियन डॉलर का आयोजन है। फ्रेंचाइजी, ब्रॉडकास्टर, स्पॉन्सर्स, खिलाड़ी, दर्शक और बीसीसीआई सबका हित जुड़ा है। किसी निर्णय के पहले बोर्ड बारीकी से सभी पहलूओं की जांच कर रहा है। अगर बोर्ड आईपीएल को आयोजित करने पर अड़ा रहता है, तो इसका खराब संदेश जाएगा। साथ ही इसके सफल आयोजन की भी कोई गारंटी नहीं है।

केंद्र सरकार ने 15 अप्रैल तक वीजा रद्द किए

सरकार ने पहले से जोखिम वाले देशों से आने वाले लोगों का वीसा रद्द कर दिया है। कई विदेशी खिलाड़ी भी आने से इंकार कर सकते हैं। लेकिन महामारी देश, रंग, जाति, वर्ग तक सीमित नहीं है। इस तरह की भावना का एक व्यापक प्रभाव हो सकता है। खेल हमारे अस्तित्व से जुड़ा है और देश में क्रिकेट विशेष रूप से। लेकिन क्या यह जीवन से महत्वपूर्ण है। कभी नहीं। अगर थोड़ा भी खतरा है तो भी नहीं। आईपीएल को स्थगित करने का फैसला सही है। यदि कोरोनावायरस का खतरा कम हाे जाता है तो टूर्नामेंट शुरू हो सकता है। यह सभी के लिए दुर्भाग्यपूर्ण है। लेकिन यह आयोजन का सही समय नहीं है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना