• Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • BCCI Hits A Masterstroke, Removes 3 Problems In Just One Decision In Road To IPL Phase 2 | T 20 World Cup

BCCI का मास्टर-स्ट्रोक:ओमान में टी-20 वर्ल्ड कप क्वालिफायर और UAE में मेन इवेंट होने से बोर्ड की 3 परेशानियां दूर; विदेशी खिलाड़ी भी आ सकते हैं

दुबई4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने टी-20 वर्ल्ड कप को UAE में कराने का फैसला लिया है। इस फैसले से बोर्ड ने मास्टर स्ट्रोक खेला है। दरअसल, वर्ल्ड कप के क्वालिफायर मैच ओमान में कराए जाएंगे। जबकि मेन इवेंट UAE में होगा। ऐसे में बोर्ड को 10-12 दिन पहले ICC को पिच सौंपने में अब दिक्कत नहीं आएगी।

साथ ही UAE में अब IPL फेज-2 का सफल आयोजन हो पाएगा। बोर्ड ने अपनी कई और परेशानियां भी दूर कर ली हैं। हालांकि, BCCI और ICC ने वर्ल्ड कप को लेकर अभी ऑफिशियल ऐलान नहीं किया है।

1. ICC को समय से पिच सौंप सकेगा BCCI
ICC पहले इसको लेकर बेहद चिंतित था कि IPL और वर्ल्ड कप की तारीखें आसपास होने से पिच की दिक्कत आएगी। IPL के मैचों से पिच को होने वाले नुकसान की भरपाई के लिए ICC को 10-12 दिन पहले पिच चाहिए थी। ऐसे में अब नए प्लान से बोर्ड ने ICC को शिकायत का कोई मौका नहीं दिया है।

प्लान के मुताबिक, टी-20 वर्ल्ड कप के 12 क्वालिफायर मैच 17 अक्टूबर से ओमान में कराए जाएंगे। वहीं, मेन लेग UAE में अक्टूबर के चौथे हफ्ते से शुरू होगा। ऐसे में ICC को पर्याप्त समय में पिच सौंप दी जाएगी।

2. IPL फेज-2 का सफल आयोजन हो सकेगा
इससे BCCI के IPL फेज-2 के सफल आयोजन का भी रास्ता खुल गया है। बोर्ड अब लीग के बाकी बचे 31 मैच को बिना किसी परेशानी के करवा सकेगी। फेज-2 सितंबर-19 से अक्टूबर 10 तक खेला जा सकता है। जबकि टी-20 वर्ल्ड कप का मेन लेग 25-26 अक्टूबर के आसपास शुरू होगा। ICC को तैयारी के लिए करीब 15 दिन का मौका मिलेगा।

3. विदेशी खिलाड़ियों को मिल सकती है इजाजत
BCCI का तीसरा मास्टर स्ट्रोक यह है कि विदेशी खिलाड़ियों ने लीग का दूसरा फेज खेलने से मना कर दिया था। वर्ल्ड कप और IPL का शेड्यूल आसपास होने की वजह से प्लेयर्स ज्यादा वर्क लोड की वजह से लीग नहीं खेलना चाहते थे। पर अब दोनों इवेंट एक ही देश और परफेक्ट समय में होने की वजह से विदेशी खिलाड़ी भी लीग जॉइन कर सकेंगे। साथ ही इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया जैसे बोर्ड भी अब अपने खिलाड़ियों को परमिशन दे सकते हैं।

ओमान में हो सकते हैं शुरुआती राउंड के कुछ मुकाबले
प्लान के मुताबिक टी-20 वर्ल्ड कप का पहला राउंड 8 टीमों के बीच दो ग्रुप में खेला जाएगा। इसमें 12 मैच होंगे। इनमें से 4 टीमें (दोनों ग्रुप की टॉप-2 टीम) सुपर-12 के लिए क्वालिफाई करेंगी। यह 8 टीमें बांग्लादेश, श्रीलंका, आयरलैंड, नीदरलैंड, स्कॉटलैंड, नामीबिया, ओमान और पपुआ न्यू गिनी हैं। यह दोनों ग्रुप के मैच UAE और ओमान में हो सकते हैं।

सुपर-12 में होंगे 30 मैच
सुपर-12 राउंड 24 अक्टूबर से शुरू हो सकता है। इस राउंड में 2 ग्रुप में 12 टीमें होंगी, जो कुल 30 मैच खेलेंगी। ये सभी मैच तीन वेन्यू दुबई, अबु धाबी और शारजाह में खेले जा सकते हैं। 12 टीमों में से 4 पहले राउंड की क्वालिफायर और बाकी ICC वर्ल्ड रैंकिंग की टॉप-8 टीमें होंगी। इसके बाद तीन प्लेऑफ मैच खेले जाएंगे, जिसमें दो सेमीफाइनल और एक फाइनल होगा।

खबरें और भी हैं...