बीसीसीआई / रणजी ट्रॉफी के मैचों में टॉस नहीं होगा, मेहमान टीम खेलने का फैसला करेगी

Dainik Bhaskar

May 18, 2019, 09:26 AM IST



पिछले सीजन में विदर्भ की टीम रणजी चैम्पियन बनी थी। पिछले सीजन में विदर्भ की टीम रणजी चैम्पियन बनी थी।
X
पिछले सीजन में विदर्भ की टीम रणजी चैम्पियन बनी थी।पिछले सीजन में विदर्भ की टीम रणजी चैम्पियन बनी थी।

  • बोर्ड के कॉन्क्लेव में रणजी टीमों के कप्तान और कोच ने रखी बात
  • रणजी में पहली बार डीआरएस को शामिल किया जा सकता है

खेल डेस्क. रणजी ट्रॉफी के अगले सीजन से मैच में टॉस नहीं होगा। इसके अलावा पहली बार डीआरएस को शामिल किया जा सकता है। बीसीसीआई की ओर से शुक्रवार को एकदिवसीय कॉन्क्लेव में रणजी टीमों के कप्तान और कोच की चर्चा में यह बात सामने आई। बैठक में इस बात पर चर्चा हुई कि घरेलू क्रिकेट से टॉस को खत्म कर दिया जाए।

 

मेहमान टीम को पहले बल्लेबाजी या पहले गेंदबाजी करने का फैसला करने का मौका दिया जाए। इससे घरेलू टीम पिच का फायदा नहीं उठा पाएगी। रणजी के नए सीजन में जिन मैचों का टीवी पर सीधा प्रसारण होता हैं उन मैचों में डीआरएस उपयोग किया जाए।

 

पिछले सीजन में अंपायरिंग को लेकर विवाद हुआ था
पिछले सीजन में खराब अंपायरिंग के कारण विवाद हुआ था। सेमीफाइनल में सौराष्ट्र और कर्नाटक के मुकाबले में चेतेश्वर पुजारा के आउट को लेकर विवाद सामने आया था। पुजारा ने शतक लगाकर टीम को जीत दिलाई थी।

 

बदलाव संबंधी नियमों को टेक्नीकल कमेटी के पास भेजा जाएगा
बोर्ड के सीईओ राहुल जौहरी ने कहा, "बैठक में कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा हुई। मुझे उम्मीद है कि अगला सीजन और बेहतर रहेगा। बैठक में बदलाव संबंधी नियमों को टेक्नीकल कमेटी के पास भेजा जाएगा। वहां से अप्रूव होने के बाद इसे बोर्ड की बैठक में पास होने के लिए भेजा जाएगा।"

COMMENT

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543