• Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Bhaskar Cricket Podcast Virat Kohli Is Under Excessive Mental Pressure, Good Move To Give Chance To Ravi Bishnoi

भास्कर क्रिकेट पॉडकास्ट:विराट कोहली जरूरत से ज्यादा मानसिक दबाव में हैं, रवि विश्नोई को मौका देना अच्छा कदम

नई दिल्ली7 महीने पहले

टीम इंडिया ने पहले टी-20 में वेस्टइंडीज को 6 विकेट से हराकर तीन मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है। दिग्गज कमेंटेटेर सुशील दोषी ने कहा कि भारत ने खेल के सभी विभाग में वेस्टइंडीज से बेहतर प्रदर्शन किया। देश के युवा गेंदबाजों के बाद युवा बल्लेबाजों ने अपनी हुनर से कैरेबियन चैलेंज को काफी छोटा साबित कर दिया। दोषी ने युवा लेग स्पिनर रवि विश्नोई के प्रदर्शन से लेकर पूर्व कप्तान विराट कोहली के फॉर्म पर खुलकर अपनी रखी। चलिए जान लेते हैं पॉडकास्ट के मुख्य अंश।

आर्म स्पीड है विश्नोई का हथियार
अपना पहला ही मुकाबला खेल रहे लेग स्पिनर रवि विश्नोई ने दो विकेट लिए। उन्हें मैन ऑफ द मैच भी चुना गया। दोषी ने कहा - विश्नोई की आर्म स्पीड काफी तेज है। इसकी मदद से वे 97 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से गेंद को टर्न करा पाते हैं। वे एक लाजवाब टैलेंट है और उन्हें मौका देने वालों को मैं बधाई देना चाहता हूं।'

भारतीय टीम हर परिस्थिति से मैच निकालने में सक्षम
भारतीय टीम ने एक समय कम अंतराल में ईशान किशन, विराट कोहली और ऋषभ पंत के विकेट गंवा दिए थे। इसके बाद सूर्यकुमार यादव और युवा ऑलराउंडर वेंकटेश अय्यर ने भारत की नैया पार लगाई। दोषी ने कहा कि भारतीय टीम के पास इतना टैलेंट है कि वह किसी भी परिस्थिति से मैच जीतने में सक्षम है। उन्हें यकीन था कि कोई न कोई भारतीय बल्लेबाज क्रीज पर सेट हो जाएगा और टीम को जीत दिला देगा।

विराट सही मेंटल शेप में नजर नहीं आ रहे
इस मैच में भी विराट कोहली खास कमाल नहीं कर सके और सिर्फ 17 रन बना सके। इस पर दोषी ने कहा कि विराट अभी सही मेंटर शेप में नजर नहीं आ रहे हैं। इसलिए उन्हें फॉर्म हासिल करने में समय लग रहा है। कप्तानी विवाद के कारण विराट पर काफी दबाव बना दिया गया, जिसकी जरूरत नहीं थी। उम्मीद है कि वे जल्द फॉर्म हासिल कर लेंगे।