एनालिसिस / 26 महीने में कोच रवि शास्त्री के पास चार बड़े मौके थे, तीन में भारत फेल रहा



रवि शास्त्री। रवि शास्त्री।
X
रवि शास्त्री।रवि शास्त्री।

  • इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका में टीम ने टेस्ट सीरीज गंवाई, वर्ल्ड कप के फाइनल में नहीं पहुंची
  • शास्त्री की कोचिंग में टीम इंडिया पहली बार ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीतने में सफल रही

Dainik Bhaskar

Jul 17, 2019, 10:51 AM IST

खेल डेस्क. 1983 की वर्ल्ड चैम्पियन भारतीय टीम में शामिल रहे ऑलराउंडर रवि शास्त्री को जुलाई 2017 में टीम इंडिया का कोच बनाया गया था। वे इसके पहले टीम के डायरेक्टर रह चुके थे। शास्त्री के कोच बनने से पहले अनिल कुंबले टीम के कोच थे और कप्तान विराट कोहली से मतभेद के चलते उन्होंने पद छोड़ दिया था। 57 साल के शास्त्री टीम इंडिया के कप्तान कोहली की पसंद थे। शास्त्री को बतौर कोच खुद को साबित करने के लिए चार बड़े मौके मिले- दक्षिण अफ्रीका, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज और फिर वर्ल्ड कप, लेकिन इन 4 में से 3 मिशन में वे फेल रहे।

 

टीम दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज नहीं जीत सकी। पिछले दिनों खत्म हुए वर्ल्ड कप के फाइनल में भी टीम जगह नहीं बना सकी। उनकी एक बड़ी उपलब्धि ऑस्ट्रेलिया में टीम को पहली बार टेस्ट सीरीज में जीत दिलाना है। अब वर्ल्ड कप खत्म होने के बाद बीसीसीआई ने नए कोच के लिए मंगलवार को आवेदन निकाला है। अगर रवि शास्त्री दोबारा कोच बनना चाहते हैं, तो उन्हें भी नए सिरे से आवेदन करना होगा।

 

शास्त्री का कार्यकाल 3 अगस्त तक विंडीज दौरे तक के लिए बढ़ाया गया है
नए कोच के लिए शर्त रखी गई है कि उसकी उम्र 60 साल से कम होनी चाहिए। 30 जुलाई तक इसके लिए आवेदन दिए जा सकेंगे। शास्त्री का कार्यकाल 3 अगस्त तक विंडीज दौरे तक के लिए बढ़ाया गया है। यानी वे कुल 26 महीने तक टीम के कोच रहेंगे। अब इस प्रदर्शन को देखते हुए शास्त्री को फिर से कोच बनाया जाता है या फिर बोर्ड किसी दूसरे को मौका देता है। यह देखने वाली बात होगी।

 

रवि शास्त्री क्यों बाहर किए जा सकते हैं

  • दक्षिण अफ्रीका में टेस्ट सीरीज 1-2 से जबकि इंग्लैंड में 1-4 से हारे। यानी यहां आठ में सिर्फ 2 टेस्ट जीते, छह में हार मिली। टीम इंडिया वर्ल्ड कप की दावेदार थी, पर फाइनल में नहीं पहुंच सकी। 
  • पिछले दो साल में वनडे में टीम इंडिया की नंबर-4 की समस्या को नहीं दूर कर सके। वर्ल्ड कप में यह हार की मुख्य वजहों में से एक है। इसके बाद शास्त्री ने खुद माना हमें मिडिल ऑर्डर में एक अच्छे बल्लेबाज की जरूरत है। 

शास्त्री क्यों रह सकते हैं 

  • टीम इंडिया को पहली बार ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज में 2-1 से जीत दिलाई। टीम इंडिया को वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल तक पहुंचाया। कप्तान कोहली के पसंदीदा कोच माने जाते हैं।

शास्त्री की कोचिंग में टीम ने 8 वनडे सीरीज जीती, 2 में हार मिली

  • वनडे: भारत ने श्रीलंका, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, श्रीलंका, द. अफ्रीका, वेस्टइंडीज से सीरीज जीती। इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया से हार मिली। एशिया कप जीता।
  • टी20: श्रीलंका, न्यूजीलैंड, द. अफ्रीका, आयरलैंड, इंग्लैंड आैर विंडीज से सीरीज जीते। दो सीरीज बराबर। न्यूजीलैंड, ऑस्ट्रेलिया से हारे। श्रीलंका में ट्राई सीरीज जीती।
  • टेस्ट: श्रीलंका, विंडीज, अफगानिस्तान और ऑस्ट्रेलिया से सीरीज जीती। द. अफ्रीका, इंग्लैंड से हारे। शास्त्री की कोचिंग में देश के बाहर 7 टेस्ट जीते।
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना