• Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Cricket Spot Fixing 2022; Zimbabwe Cricketer Brendan Taylor Blackmailed By Indian Businessman

क्रिकेट में लौटी स्पॉट फिक्सिंग:जिम्बाब्वे के क्रिकेटर ब्रैंडन टेलर को भारतीय बुकी ने कोकीन देकर फंसाया, ICC लगा सकती है बैन

5 महीने पहले

क्रिकेट में एक बार फिर स्पॉट फिक्सिंग से जुड़ा बड़ा खुलासा हुआ है। जिम्बाब्वे के पूर्व कप्तान और विकेटकीपर बल्लेबाज ब्रैंडन टेलर ने यह सनसनीखेज खुलासा किया है। टेलर ने कहा कि एक भारतीय बुकी और बिजनेसमैन ने उन्हें स्पॉट फिक्सिंग की पेशकश की थी। टेलर ने यह भी बताया कि उस बुकी से मुलाकात के वक्त उन्होंने कोकीन ली और बाद में उन्हें इस कारण ब्लैकमेल किया जाने लगा। टेलर को लगता है कि इंटनेशनल क्रिकेट काउंसिल उन पर कई साल का बैन लगा सकती है।

टेलर ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर कर लिखा, मुझे जिम्बाब्वे में टी-20 लीग शुरू करने का प्लान बताया गया और भारत आने के लिए भी 15 हजार डॉलर दिए गए। जिम्बाब्वे बोर्ड ने हमे 6 महीने से पैसे नहीं मिले थे और भविष्य में मिलने की कोई संभावना भी नहीं थी। ऐसे में मैं भारत निकल पड़ा, जहां मैंने बिजनेसमैन और उनके साथियों के साथ डिनर में शामिल हुआ।

मुझे कोकीन दी गई और वीडियो बनाया गया
टेलर ने आगे कहा, 'पहले मुझे कोकीन दी गई और फिर वीडियो बनया गया। जब वहां ड्रिंक्स चल रही थी, तब मुझे कोकीन ऑफर किया गया था। वो लोग कोकीन ले रहे थे तो मैंने भी ले ली। अगली सुबह वह बिजनेसमैन मेरे कमरे में आया और मेरी वीडियो दिखाई। उसने कोकेन लेते हुए मेरी वीडियो दिखाकर धमकी दी गई कि मैं उनके लिए इंटरनेशनल मैच स्पॉट फिक्स करूं, वरना वीडियो रिलीज कर दिया जाएगा।

6 लोगों ने मुझे घेर लिया था
टेलर ने आगे कहा कि होटल के कमरे में 6 लोगों ने उन्हें घेर लिया था, जिसके बाद 15 हजार डॉलर दिए गए और स्पॉट फिक्सिंग के लिए कहा गया और वादा किया गया कि काम होने पर 20 हजार डॉलर और भी दिए जाएंगे। मुझे अपनी जान बचानी थी, इसलिए मैंने वो पैसे ले लिए ताकि मैं घर वापस आ सकूं।

चार महीने बाद ICC को सूचित किया
टेलर ने अपनी पोस्ट में लिखा कि जब वह घर आए तो उनकी तबीयत खराब रहने लगी, वह स्ट्रेस में थे और लगातार दवाई खा रहे थे। इसके बाद बिजनेसमैन भी उनपर दबाव बना रहा था कि जो पैसा दिया है, उसका नतीजा दिया जाए। करीब चार महीने तक ये सब सहने के बाद ब्रैंडन टेलर ने इस बारे में ICC को बताया।

अब कोई भी सजा मिले मैं तैयार हूं
ब्रैंडन ने अपनी पोस्ट में आगे लिखा है कि वह अपने परिवार को सुरक्षित करना चाहते थे लेकिन ICC ने देरी के तर्क को नहीं माना। उन्हें कई इंटरव्यू और अन्य छानबीन का हिस्सा बनना पड़ा। आईसीसी अब मेरे ऊपर कई साल का बैन लगाने की तैयारी कर रही है, मैं उसके लिए पूरी तरह से तैयार भी हूं।

पिछले दो साल मेरे जीवन के लिए काफी कठिनाई वाले गए हैं, ऐसे में मैं इस मुश्किल को दूर करने की कोशिश कर रहा हूं।

2010 इंग्लैंड सीरीज के दौरान मोहम्मद आमिर
2010 इंग्लैंड सीरीज के दौरान मोहम्मद आमिर

मोहम्मद आमिर ने साल 2010 में की थी फिक्सिंग
पाकिस्तान के तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर ने साल 2010 में लॉर्डस टेस्ट के दौरान मैच फिक्सिंग की थी। मैच के दौरान 18 साल के इस खिलाड़ी ने कई नो बॉल गेंद फेंकी थी। इसके बाद इस उभरते गेंदबाज को छह माह के लिए इंग्लैंड की जेल में डाल दिया गया था। इसके अलावा उनपर पांच साल के लिए क्रिकेट खेलने पर प्रतिबंध लगा दिया गया था।

खबरें और भी हैं...