पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

हमारा हर खिलाड़ी ये कोशिश करता है कि कोई साथी नर्वस ना हो: जॉनी बेयरस्टो

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • इंग्लैंड के सलामी बल्लेबाज जॉनी बेयरस्टो ने टीम के माहौल पर बात की
  • उन्होंने कहा कि फुटबॉल-रग्बी से इतर क्रिकेट माइंड गेम है, इसलिए खिलाड़ियों का शांत रहना जरूरी है

बर्मिंघम, द टेलीग्राफ. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सेमीफाइनल से एक दिन पहले की बात है। सुबह के 9:30 बजे हमारी पूरी टीम और सपोर्ट स्टाफ प्रैक्टिस के बाद मैदान पर थी। सबके जेहन में एक ही बात थी- कल सेमीफाइनल है। कप्तान इयान मॉर्गन और कोच ट्रेविस बेलिस ने खिलाड़ियों से एक ही बात कही- \"हमें इस पर ज्यादा नहीं सोचना है कि कल कैसे खेलना है। हमें ये सोचना है कि हम कैसा खेलकर यहां तक पहुंचे हैं। जिस खेल ने हमें वनडे में नंबर-1 बनाया, जो खेल हमें वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल तक लेकर आया, वैसा ही खेल हमें कल भी जिताएगा।”

 

‘क्रिकेट में मानसिक स्थिरता जरूरी’
हमारी जिंदगी के सबसे अहम मैच से पहले बस इतनी सी प्लानिंग हुई। हर खिलाड़ी शांत, रिलैक्स। यही शांत माहौल हमारी इस इंग्लैंड टीम की बड़ी ताकत है। क्रिकेट के ड्रेसिंग रूम और रग्बी, फुटबॉल जैसे खेलों के ड्रेसिंग रूम में यही अंतर होता है। वो सारे खेल फिजिकल हैं। यानी खिलाड़ी को शारीरिक रूप से पंप-अप रहने की जरूरत होती है। उनके ड्रेसिंग रूम काफी शोर-गुल वाले और लाउड होते हैं। जबकि क्रिकेट माइंड गेम है। यहां ड्रेसिंग रूम में हर खिलाड़ी को स्पेस चाहिए, ताकि वो मानसिक स्थिर रह सके।

 

‘वर्ल्ड कप में सभी खिलाड़ी साथ हैं’
इतने बड़े मैच से पहले कोई खिलाड़ी नर्वस महसूस ना करे, इसकी जिम्मेदारी पूरी टीम की रहती है। हमें साथ रहना पसंद है। एक और दिलचस्प बात बताता हूं। सामान्य तौर पर जब हम इंग्लैंड में ही खेल रहे हों तो कई बार होटल से मैदान आने-जाने के लिए कई खिलाड़ी अपनी ही कार का इस्तेमाल करना पसंद करते हैं। लेकिन वर्ल्ड कप के लिए हमने फैसला किया था कि सारे खिलाड़ी टीम बस से ही सफर करेंगे। 

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप धैर्य व विवेक का उपयोग करके किसी भी समस्या को सुलझाने में सक्षम रहेंगे। आर्थिक पक्ष पहले से अधिक सुदृढ़ स्थिति में रहेगा। परिवार के लोगों की छोटी-मोटी जरूरतों का ध्यान रखना आपको खुशी प्र...

और पढ़ें