क्रिकेट / गौतम गंभीर ने इमरान खान को बताया आतंकियों का रोल मॉडल, खेल जगत से बहिष्कार की मांग की

इमरान खान और गौतम गंभीर (फाइल फोटो)। इमरान खान और गौतम गंभीर (फाइल फोटो)।
X
इमरान खान और गौतम गंभीर (फाइल फोटो)।इमरान खान और गौतम गंभीर (फाइल फोटो)।

  • इमरान खान के यूएन में दिए भाषण पर गंभीर भड़क गए
  • गौतम गंभीर पूर्वी दिल्ली से भारतीय जनता पार्टी के सांसद हैं

दैनिक भास्कर

Sep 30, 2019, 07:12 PM IST

खेल डेस्क. पूर्व क्रिकेटर और दिल्ली से भाजपा सांसद गौतम गंभीर ने पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान को आतंकवादियों का आदर्श बताते हुए खेल जगत से उनका बहिष्कार करने की मांग की है। ये बात उन्होंने सोमवार को किए अपने ट्वीट में लिखी। उनके मुताबिक खिलाड़ी कई मामलों में युवाओं के रोल मॉडल होते हैं, लेकिन यूएन में हमने एक पूर्व खिलाड़ी को आतंकियों के रोल मॉडल के रूप में देखा। 

 

गंभीर ने लिखा, 'खिलाड़ियों को अच्छे व्यवहार, टीम भावना, नैतिकता और चारित्रिक मजबूती के मामले में प्रेरणास्त्रोत माना जाता है। हाल ही में संयुक्त राष्ट्र में हमने एक पूर्व खिलाड़ी को बोलते हुए देखा, लेकिन आंतकवादियों के रोल मॉडल के रूप में। इमरान खान को खेल समुदाय से बहिष्कृत किया जाना चाहिए।'

 

अफरीदी से ट्विटर पर भिड़ चुके हैं गंभीर

गंभीर इससे पहले भी कश्मीर और पाकिस्तान के मुद्दे पर खुलकर अपनी बात रखते आए हैं। खासकर पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर शाहिद अफरीदी तो इस मुद्दे को लेकर हमेशा उनके निशाने पर रहे हैं। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद अफरीदी के किए ट्वीट को लेकर भी गंभीर ने करारा जवाब दिया था।

 

 


इमरान ने यूएन में दिया था नफरत भरा भाषण

इमरान ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के 74वें सत्र में कश्मीर का मसला उठाते हुए इसे लेकर परमाणु युद्ध की धमकी दी थी। दुनिया को भड़काने के अंदाज में भाषण देते हुए उन्होंने आतंकवाद की बहस में धर्म को घसीटा था। इमरान ने कहा था, 'जिस तरह के हालात कश्मीर में हैं, उन्हें देखकर दुनियाभर के 130 करोड़ मुस्लिम चरमपंथी हो जाएंगे। सोचता हूं कि मैं कश्मीर में हूं। वहां 55 दिनों से कैद हूं। मैं मुस्लिम महिलाओं से बलात्कार की बातें सुनता हूं। मैं देखता हूं कि सुरक्षा बल घरों में घुस रहे हैं। इन हालात में मैं भी बंदूक उठा लेता। आप कश्मीरियों को मजबूर कर रहे हैं। इमरान ने कहा- 9/11 से पहले हिंदू श्रीलंका में आतंकवादी हमले करते थे। उन पर कोई इल्जाम नहीं लगाता। 9/11 के बाद दुनिया में इस्लामोफोबिया तेजी से फैला।'

 

DBApp

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना