गुरु पूर्णिमा आज / सचिन ने गुरु आचरेकर को याद किया, लिखा- आज जो हूं, आपकी वजह से



सचिन ने यही तस्वीर ट्वीट की सचिन ने यही तस्वीर ट्वीट की
X
सचिन ने यही तस्वीर ट्वीट कीसचिन ने यही तस्वीर ट्वीट की

  • सचिन ने लिखा- गुरु वह है,जो छात्र में अज्ञानता के अंधकार को दूर करता है
  • सचिन के कोच रमाकांत आचरेकर का इस साल 2 जनवरी को निधन हुआ था
  • आचरेकर को 1990 में द्रोणाचार्य पुरस्कार से सम्मानित किया गया

Dainik Bhaskar

Jul 16, 2019, 05:42 PM IST

खेल डेस्क. गुरु पूर्णिमा मंगलवार को है। इस मौके पर सचिन ने अपने गुरु और कोच रमाकांत आचरेकर को याद किया। उन्होंने ट्वीट में लिखा, "गुरु वह है जो छात्र में अज्ञानता के अंधकार को दूर करता है। शुक्रिया आचरेकर सर, मेरा गुरु होने के लिए। आज मैं जो कुछ भी हूं, वो आपके मार्गदर्शन की वजह से हूं।" आचरेकर का इस साल 2 जनवरी को 87 साल की उम्र में निधन हुआ था।

सचिन को मुंबई के शिवाजी पार्क में देते थे कोचिंग

  1. रमाकांत आचरेकर मुंबई के दादर के शिवाजी पार्क में युवा क्रिकेटरों को कोचिंग देते थे। वह मुंबई क्रिकेट टीम के लिए चयनकर्ता भी रह चुके थे। उन्होंने शिवाजी पार्क में कामथ मेमोरियल क्रिकेट क्लब की स्थापना की। कई क्रिकेटरों को कोचिंग दी, जिनमें सचिन तेंदुलकर, अजीत आगरकर, चन्द्रकांत पण्डित, विनोद कांबली और प्रवीण आमरे शामिल हैं। इस क्लब का संचालन वर्तमान में उनकी बेटी कल्पना मूरकर और दामाद दीपक मूरकर कर रहे हैं।

  2. क्रिकेट कोचिंग में आचरेकर की सेवाओं के लिए 1990 में द्रोणाचार्य पुरस्कार से सम्मानित किया गया। 2010 में उन्हें तत्कालीन भारतीय राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल द्वारा 7 अप्रैल 2010 को राष्ट्रपति भवन में खेल श्रेणी में देश के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कारों में से एक पद्म श्री से सम्मानित किया गया था। 12 फरवरी 2010 को आचरेकर को भारतीय क्रिकेट टीम के तत्कालीन कोच गैरी कर्स्टन द्वारा 'लाइफटाइम अचीवमेंट' पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना