• Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Harsha Bhogle: Cricket commentator Harsha Bhogle Gives Befitting Reply to Australian journalist On my India is not broken

सीएए / हर्षा भोगले ने ट्रोल करने वाले ऑस्ट्रेलियाई पत्रकार को दिया जवाब- मेरा भारत टूटा नहीं, जोशीले युवाओं से भरा है

Harsha Bhogle: Cricket commentator Harsha Bhogle Gives Befitting Reply to Australian journalist On my India is not broken
X
Harsha Bhogle: Cricket commentator Harsha Bhogle Gives Befitting Reply to Australian journalist On my India is not broken

  • हर्षा भोगले ने नागरिकता कानून पर लिखा था- युवा हमें बताना चाह रहा है कि वो क्या बनना चाहता है
  • ऑस्ट्रेलियाई पत्रकार ने कहा था- उनका भारत टूटा हुआ है और किसी सरकार की लगातार नाजियों से तुलना नहीं हो रही

Dainik Bhaskar

Dec 26, 2019, 06:07 PM IST

खेल डेस्क. क्रिकेट कमेंटेटर हर्षा भोगले ने नागरिकता संशोधन कानून को लेकर भारत की अंखडता पर सवाल उठाने वाले एक ऑस्ट्रेलियाई पत्रकार डेनिस फ्रीडमैन को करारा जवाब दिया है। हर्षा ने लिखा, ‘‘मेरा भारत टूटा नहीं है, यह जोशीले युवाओं से भरा है, जो बहुत शानदार चीजें कर रहे हैं। हम परिपक्व लोकतंत्र हैं। हम भले ही कुछ मुद्दों पर अलग राय रखते हों, लेकिन हम सब भारतीय हैं। तुलना के लिए जिस शब्द का आपने (डेनिस) इस्तेमाल किया है, वह तो किसी भी तरह से नहीं है।’’

ऑस्ट्रेलियाई पत्रकार ने नागरिकता संशोधन कानून(सीएए) को लेकर हर्षा के फेसबुक पोस्ट पर लिखा था, ‘‘मैं इसके लिए उनकी(हर्षा) तारीफ कर सकता हूं। उनका भारत टूटा हुआ है। किसी और देश के नेता या सरकार की लगातार नाजियों से तुलना नहीं हो रही। इस मामले पर गौतम गंभीर को छोड़कर हम सभी को हर्षा बनना चाहिए। गंभीर तो उस पार्टी का हिस्सा बन गए।’’

हर्षा भोगले ने नागरिकता कानून को लेकर हो रही हिंसा पर फेसबुक पोस्ट की  

हर्षा ने फेसबुक पर एक पोस्ट शेयर की थी। इसमें उन्होंने लिखा था, ‘‘मुझे लगता है कि युवा भारत हमसे कुछ कह रहा है। वो हमें बताना चाह रहा है कि वो क्या बनना और क्या नहीं बनना चाहता है। पिछले कई सालों से मैं इसे लेकर आशावादी हूं। इसकी वजह भी है। मेरी पीढ़ी एक ऐसे भारत में पली-बढ़ी, जो औपनिवेशिक इंग्लैंड द्वारा लूटे जाने के प्रभाव को महसूस कर रहा था। मेरे माता-पिता की पीढ़ी के पास न सिर्फ संसाधनों का अभाव था, बल्कि उस वक्त के माहौल ने उनका आत्मविश्वास तक कमजोर कर दिया था। हम भाग्यशाली थे, लेकिन हम अभी भी नहीं जानते थे कि हम क्या करने में सक्षम हैं।’’

उनके इस पोस्ट पर एक यूजर ने लिखा, आपकी पोस्ट से निराश हूं हर्षा। ऐसा लगता है कि आपने सोचने के लिए तथ्य नहीं देखे। सिर्फ गूगल पर सर्च करके आप जान गए कि शिक्षा, आधारभूत ढांचे को लेकर देश में क्या हो रहा है। नया कानून किसी को बांट नहीं रहा। दूसरे यूजर ने लिखा, आपके लिए मेरे मन में पहले से ही इज्जत थी। लेकिन इस जवाब के बाद आपका सम्मान और बढ़ गया। बता दें कि डेनिस का पाकिस्तान क्रिकेट से खास कनेक्शन है। सोशल मीडिया पर ज्यादातर पोस्ट वह पाकिस्तान क्रिकेट के सपोर्ट में ही करते हैं। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना