पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Ian Chappell On Captain Ajinkya Rahane Born To Lead Cricket Teams India Vs Australia Test Series

रहाणे की तारीफ:इयान चैपल बोले- अजिंक्य रहाणे बहादुर और स्मार्ट, वे जन्म से ही टीम इंडिया की कप्तानी के लिए बने हैं

मेलबर्न6 महीने पहले

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान इयान चैपल ने मौजूदा भारतीय टीम की कमान संभाल रहे अजिंक्य रहाणे की जमकर तारीफ की। उन्होंने रहाणे को बहादुर और स्मार्ट बताते हुए कहा कि वे जन्म से ही क्रिकेट टीम की कप्तानी के लिए बने हैं। दरअसल, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज में पहले मैच के बाद रेग्युलर कप्तान विराट कोहली पैटरनिटी लीव पर चले गए हैं। उनकी गैरमौजूदगी में रहाणे ही टीम की कमान संभाल रहे हैं।

पहला टेस्ट हारने के बाद रहाणे की कप्तानी में भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया को बॉक्सिंग-डे टेस्ट में 8 विकेट से शिकस्त दी थी। इस मैच की बड़ी बात यह रही कि इसमें विराट कोहली, रोहित शर्मा, ईशांत शर्मा और मोहम्मद शमी भी नहीं थे। मैच में रहाणे ने 112 रन की कप्तानी पारी भी खेली थी। उन्हें प्लेयर ऑफ द मैच भी चुना गया था। फिलहाल, सीरीज 1-1 से बराबर है।

रहाणे की शानदार कप्तानी चौंकाने वाली नहीं
चैपल ने क्रिकेट वेबसाइट ईएसपीएन क्रिकइंफो के लिए कॉलम में लिखा- अजिंक्य रहाणे ने MCG में शानदार कप्तानी की थी। यह कोई चौंकाने वाली बात नहीं है। जिस भी व्यक्ति ने उन्हें 2017 के धर्मशाला टेस्ट में कप्तानी करते देखा होगा, वह यह समझ गया होगा कि वह (रहाणे) का जन्म ही क्रिकेट टीम की कप्तानी के लिए हुआ है। उस 2017 के मैच में और मेलबर्न टेस्ट में काफी समानताएं थीं। मैच में नीचे आकर रविंद्र जडेजा ने शानदार बल्लेबाजी की। जरूरत पड़ने पर रहाणे ने भी तेजी से रन बटौरे।

रहाणे की स्मार्ट और बहादुरी भरी चाल ने धर्मशाला मैच जिताया था
पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने लिखा, ‘‘धर्मशाला के एक वाकये ने मेरा ध्यान सबसे ज्यादा खींचा। वह यह है कि मैच की पहली पारी में डेविड वॉर्नर और स्टीव स्मिथ शतकीय साझेदारी कर मजबूती से टिके हुए थे, तभी कप्तान रहाणे ने डेब्यू मैच खेल रहे स्पिनर कुलदीप यादव को बॉलिंग पर लगाया। उनका यह दाव काफी बहादुरी भरा था। उनकी इस स्मार्ट मूव (चाल) ने काम भी किया और कुलदीप ने वॉर्नर को आउट कर भारत को महत्वपूर्ण विकेट दिला दिया। यह कैच भी फर्स्ट स्लिप पर रहाणे ने ही लिया था। कुलदीप ने पारी में 4 विकेट लिए थे। यही एक सफल कप्तान की पहचान भी है।’’

टीम के साथी भी रहाणे की काफी रिस्पेक्ट करते हैं
चैपल ने कहा, ‘‘रहाणे मैदान पर शांत रहकर कप्तानी करते हैं और टीम को जिताते हैं। टीम के सभी साथी भी उनकी काफी रिस्पेक्ट करते हैं। अच्छे कप्तानी की यह भी एक बड़ी पहचान होती है। टीम को जब भी जरूरत होती है वे रन भी बनाते हैं।’’

ऑस्ट्रेलिया धर्मशाला टेस्ट 8 विकेट से हारा था
धर्मशाला टेस्ट में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से शिकस्त दी थी। रहाणे ने इस मैच की पहली पारी में 46 और दूसरी पारी में नाबाद 38 रन की पारी खेली थी। रविंद्र जडेजा ने 63 रन बनाए थे। साथ ही उन्होंने मैच में 4 विकेट भी झटके थे। वे प्लेयर ऑफ द मैच चुने गए थे।

खबरें और भी हैं...