एनालिसिस / आईसीसी का फोकस सिर्फ टी-20 पर, 2019 में महिला कैटेगरी के टेस्ट और वनडे पुरुषों से 5 गुना कम हुए



भारतीय महिला क्रिकेट टीम। भारतीय महिला क्रिकेट टीम।
X
भारतीय महिला क्रिकेट टीम।भारतीय महिला क्रिकेट टीम।

  • 2019 में पुरुष कैटेगरी में टेस्ट और वनडे को मिलाकर 165 मैच हुए, महिला वर्ग में सिर्फ 37
  • महिला वर्ग में 250,मेंस वर्ग में 212 मैच हुए; महिला कैटेगरी की प्राइज मनी 7.2 करोड़ रु. की गई

Dainik Bhaskar

Oct 17, 2019, 10:54 AM IST

खेल डेस्क. आईसीसी ने 2020 टी-20 वर्ल्ड कप के लिए महिला कैटेगरी की प्राइज मनी में 5 गुना की बढ़ोतरी करदी है। अब 7.2 करोड़ की प्राइज मनी दी जाएगी। आईसीसी का कहना है कि महिला क्रिकेट को बढ़ावा देने के लिए इस तरह का कदम उठाया गया है, लेकिन यह आंकड़ों पर फिट नहीं बैठता। 2019 में पुरुष कैटेगरी के टेस्ट-वनडे के रिकॉर्ड को देखें तो कुल 165 मैच खेले जा चुके हैं, लेकिन महिला कैटेगरी में सिर्फ 37 मैच। वहीं टी-20 की बात की जाए तो महिला कैटेगरी में इस साल 250 मैच जबकि पुरुष वर्ग में 212 मैच हो चुके हैं। यानी महिला कैटेगरी में मुकाबले ज्यादा खेले जा रहे हैं।

 

महिला क्रिकेट में फैंस कम होने के कारण उनके टेस्ट की जगह टी-20 के मैच ज्यादा कराए जा रहे हैं। भारत और द. अफ्रीका के बीच हुए दो टेस्ट में स्टेडियम आधे भी नहीं भरे थे। इसके बाद भी पुरुष कैटेगरी में टेस्ट चैम्पियनशिप का आयोजन हो रहा है। महिला वर्ग में टेस्ट नहीं के बराबर हो रहे हैं।

 

5 साल में महिला कैटेगरी में सिर्फ तीन टेस्ट
पिछले पांच साल के आंकड़े देखें तो महिला कैटेगरी में सिर्फ तीन टेस्ट हुए। पुरुष कैटेगरी में 211 टेस्ट खेले गए। महिला कैटेगरी में 2015, 2017 और 2019 में एक-एक टेस्ट हुए। जबकि 2016 और 2018 में एक भी टेस्ट के मुकाबले नहीं हुए। वहीं पुरुष कैटेगरी की बात की जाए तो 2019 में अब तक 26 टेस्ट खेले जा चुके हैं। वहीं 2018 में 48, 2017 में 47, 2016 में 47 और 2015 में 43 टेस्ट हुए।

 

2019 में 54 देशों ने महिला टी-20 के मुकाबले खेले
2019 की बात की जाए तो महिला कैटेगरी में 54 देशों ने कम से कम एक टी-20 के मुकाबले खेले। सबसे ज्यादा मैच खेलने की बात की जाए तो थाईलैंड की महिलाओं ने 25 मैच खेले। वर्ल्ड कप क्वालिफायर होने के कारण थाईलैंड की टीम को इतने मैच खेलने का मौका मिला। वहीं पुरुष कैटेगरी में 63 देशों ने टी-20 के मुकाबले खेले।

 

क्रिकेट में भारत के पुरुष और महिला टीम की स्थिति
भारतीय पुरुष टीम ने 537 टेस्ट, 978 वनडे और 120 टी20 खेले हैं। महिला टीम ने 36 टेस्ट, 269 वनडे और 108 टी20 खेले हैं। क्रिकेट में वर्ल्ड कप की शुरुआत की बात की जाए तो यहां महिलाएं आगे थीं। 1973 में पहली बार वनडे वर्ल्ड कप महिलाओं का ही हुआ था, जबकि पुरुष कैटेगरी में वर्ल्ड कप की शुरुआत 1975 से हुई थी।

 

भास्कर

 

एमसीसी के सर्वे में टेस्ट को सबसे ज्यादा पसंद किया गया
क्रिकेट के नियम बनाने वाली संस्था मेरिलबोन क्रिकेट क्लब (एमसीसी) ने पिछले दिनों 100 देशों के 13 हजार लोगों पर एक सर्वे किया था। इसमें 86 फीसदी लोगों ने टेस्ट को सबसे पसंदीदा फॉर्मेट माना था। एशेज सीरीज के दौरान यह देखने को भी मिला। लेकिन अधिकांश देशों में टेस्ट के दौरान स्टेडियम खाली रहते हैं।

 

वर्ल्ड कप से महिला क्रिकेट को बढ़ावा मिलेगा: अंजुम 
भारतीय महिला टीम की पूर्व कप्तान अंजुम चोपड़ा ने कहा कि अंडर-19 टी-20 वर्ल्ड कप शुरू होने से महिला क्रिकेट को बढ़ावा मिलेगा। इससे लीग के लिए टीमों को बेहतर खिलाड़ी भी मिलेंगे। इस साल आईपीएल के दौरान महिलाओं का एक टी-20 मैच आयोजित किया गया था। जबकि पिछले साल चार मैच हुए थे।

 

उन्होंने कहा कि शुरुआत हो चुकी है। धीरे-धीरे देश में महिलाओं की भी लीग शुरू होगी। पुरुषों की अपेक्षा महिलाओं के टेस्ट कम होने का कारण है कि सभी देश टेस्ट नहीं खेलते। इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया ही ज्यादा टेस्ट खेल रहे हैं। आने वाले समय में अन्य देश भी टेस्ट खेलेंगे।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना