भुवनेश्वर के सपोर्ट में उतरे मैथ्यू हेडन:बोले- वो डेथ ओवर में भी कर सकते हैं अच्छी गेंदबाजी, पहले भारत को जीत दिला चुके हैं

मुंबई9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई सलामी बल्लेबाज मैथ्यू हेडन ने हाल ही में स्टार स्पोर्ट्स को दिए एक इंटरव्यू में भारतीय गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार का समर्थन किया है। पिछले कुछ मैचों में भुवनेश्वर की खराब परफॉरमेंस के बाद ये सवाल उठने लगे थे कि क्या भुवनेश्वर भारत के लिए डेथ ओवर्स में गेंदबाजी करने के लिए उपयुक्त हैं या नहीं। इसी मामले पर अपनी राय रखते हुए ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज ने कहा, ‘मैं इस बात से सहमत नहीं हूं। मुझे लगता है कि वो डेथ ओवर्स में वह अच्छी गेंदबाजी कर सकते हैं और उन्होंने ऐसा किया भी है।

जाहिर है उनका रोल शुरू के ओवर्स में विकेट लेना है, लेकिन यदि कैप्टेन उनसे आखिरी के एक या दो ओवर में गेंदबाजी करवाना चाहता है तो भुवनेश्वर वो भी कर सकते हैं। उन्होंने पहले ऐसा किया है और भारत को जीत भी दिलाई है।’

डेथ ओवर्स में लगातार फ्लॉप हो रहे भुवनेश्वर

एशिया कप 2022 भारत-पाकिस्तान मैच
एशिया कप 2022 में भारत एक बार पाकिस्तान को हरा चुका था, लेकिन सुपर-4 के मुकाबले में पाकिस्तान के खिलाफ खेलते हुए भारत को मुंह की खानी पड़ी। इस मैच में भुवनेश्वर को डेथ ओवर में गेंदबाजी की जिम्मेदारी सौंपी गई। भुवनेश्वर 19वें ओवर में पाकिस्तान के खिलाफ गेंदबाजी के लिए आए। पाकिस्तान की ओर से आसिफ अली और खुशदिल शाह बल्लेबाजी कर रहे थे। उन्हें जीतने के लिए 12 गेंदों पर 26 रन बनाने थे।

भुवी ने ओवर की पहली बॉल ही वाइड फेंक दी। ओवर की दूसरी बॉल पर आसिफ ने छक्का जड़ दिया। इसके बाद भुवनेश्वर ने एक और वाइड बॉल डाली। ओवर की चौथी बॉल पर खुशदिल और आखिरी बॉल पर आसिफ ने चौका लगाया। इस तरह भुवनेश्वर ने इस ओवर में पाकिस्तान को कुल 19 रन दिए।

एशिया कप 2022 भारत-श्रीलंका मैच
सुपर-4 के मुकाबलों में भारत-पाकिस्तान मैच में डेथ ओवर के दौरान अच्छा प्रदर्शन ना करने के बाद भी भुवनेश्वर को भारत-श्रीलंका मैच में डेथ ओवर के दौरान गेंदबाजी करने का मौका दिया गया। श्रीलंका को आखिरी दो ओवर में जीतने के लिए 21 रन की जरूरत थी।

श्रीलंका के कप्तान दासुन शनाका और भानुका राजपक्षे बल्लेबाजी कर रहे थे। ओवर की पहली और दूसरी बॉल पर तो भुवनेश्वर ने सिर्फ 1-1 रन दिए, लेकिन इसके बाद उन्होंने 2 वाइड बॉल डाली। नतीजन, श्रीलंका को 2 रन बिना किसी मशक्कत के मिल गए। इसके बाद 19वें ओवर की तीसरी बॉल पर शनाका ने चौका जड़ दिया।

भुवनेश्वर की चौथी बॉल पर फिर शनाका ने चौका मारा। उन्होंने पांचवीं बॉल यॉर्कर डाली, लेकिन शनाका इस पर भी एक रन बटोरने में कामयाब रहे। ओवर की आखिरी बॉल भुवी ने लेग स्टंप पर डालने की कोशिश राजपक्षे ने एक रन ले लिया। इस तरह इस महत्वपूर्ण मैच के 19वें ओवर में भुवी ने श्रीलंका को 14 रन दिए।

इंडिया-ऑस्ट्रेलिया टी-20 सीरीज

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत की घरेलू टी-20 सीरीज का पहला मैच 20 सितम्बर को मोहाली में खेला गया। भारत के बल्लेबाजों ने ऑस्ट्रेलिया के सामने 209 रनों का टारगेट रखा था। जसप्रीत बुमराह इस स्क्वाॅड में शामिल नहीं थे। ऐसे में इस मैच में टीम को भुवनेश्वर से कई उम्मीदें थीं लेकिन भुवनेश्वर का प्रदर्शन निराशाजनक रहा। उन्होंने 4 ओवर में 52 रन दिए। सीरीज के पहले मैच में भुवनेश्वर एक भी विकेट नहीं ले सके। डेथ ओवर में गेंदबाजी करते हुए भुवनेश्वर ने ऑस्ट्रेलिया को 16 रन दिए। इस ओवर में बल्लेबाजों ने भुवनेश्वर की बॉल पर तीन चौके जड़े।

पहले एशिया कप 2022 और अब इंडिया-ऑस्ट्रेलिया टी-20 सीरीज में डेथ ओवर में भुवनेश्वर का प्रदर्शन लगातार निराश करने वाला है। गौरतलब है कि ऑस्ट्रेलिया में आयोजित टी-20 वर्ल्ड कप से पहले इस सीरीज को भारत की टी-20 वर्ल्ड कप की तैयारी के तौर पर देखा जा रहा है। ऐसे में इस मैच में भारतीय टीम का प्रदर्शन हर लिहाज से महत्वपूर्ण है।

खबरें और भी हैं...