16 साल बाद जोहान्सबर्ग में रचा गया इतिहास:कुंबले के बाद इस मैदान पर विकेट लेने वाले दूसरे भारतीय स्पिनर बने अश्विन, 2006 में जंबो ने किया था कमाल

जोहान्सबर्ग4 महीने पहले

भारत और साउथ अफ्रीका के बीच जोहान्सबर्ग टेस्ट के तीसरे दिन टीम इंडिया के अनुभवी स्पिनर आर अश्विन ने कीगन पीटरसन को LBW आउट कर इतिहास रच दिया। उन्होंने भारत को दूसरी सफलता दिलाई। पीटरसन 28 रन बनाकर पवेलियन लौटे। इसी के साथ अश्विन एक खास क्लब में शामिल हो गए हैं।

अश्विन जोहान्सबर्ग के मैदान पर अनिल कुंबले के बाद विकेट लेने वाले दूसरे भारतीय स्पिनर बन गए हैं। कुंबले ने इस मैदान पर 17 विकेट झटके हैं। उनके अलावा कोई भी भारतीय स्पिनर इस मैदान पर विकेट नहीं ले सका है, लेकिन अब अश्विन ने ऐसा कर दिखाया है।

2006 में अश्विन ने झटके थे 5 विकेट
अनिल कुंबले ने आखिरी बार 2006 में यहां विकेट लिया था। जंबो नाम से मशहूर कुंबले ने 2006 में खेले गए भारत और साउथ अफ्रीका के बीच मैच की पहली पारी में 2 ओवर में 2 रन देकर 2 विकेट लिए थे। वहीं, दूसरी पारी में कुंबले के खाते में 3 विकेट आए थे। ये मैच टीम इंडिया ने 123 रन से अपने नाम किया था।

अफ्रीकी सरजमीं पर ये टीम इंडिया की पहली जीत थी। अगर ओवर-ऑल रिकॉर्ड की बात करें तो अश्विन से पहले 2019 में पाकिस्तान के स्पिनर शादाब खान ने इस मैदान पर विकेट लिया था।

2006 में जोहान्सबर्ग टेस्ट में जीत के बाद जश्न मनाते टीम इंडिया के खिलाड़ी।
2006 में जोहान्सबर्ग टेस्ट में जीत के बाद जश्न मनाते टीम इंडिया के खिलाड़ी।

रोमांचक हो गया है जोहान्सबर्ग टेस्ट
जोहान्सबर्ग टेस्ट के तीसरे दिन स्टंप्स तक साउथ अफ्रीका ने 240 रनों के टारगेट का पीछा करते हुए 2 विकेट खोकर 118 रन बना लिए हैं। कप्तान डीन एल्गर (46) और रैसी वान डेर डूसेन (11) नाबाद पर हैं।

एडेन मार्करम 31 और कीगन पीटरसन 28 रन बनाकर आउट हुए। मैच में अभी दो दिन का खेल बचा हुआ और अफ्रीकी टीम को मैच जीतने के लिए 122 रन बनाने हैं। वहीं, टीम इंडिया को 8 विकेट की दरकार है।

अश्विन इस टेस्ट में विकेट लेने वाले पहले स्पिनर बने हैं। साउथ अफ्रीका के स्पिन गेंदबाज केशव महराज को भारत की दोनो पारियों में एक भी विकेट नहीं मिल पाया था।