• Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • IND W Vs Aus W Final: India Vs Australia Women Bowling Performance Comparison In ICC T20 World Cup 2020; Poonam Yadav, Shikha Pandey, Radha Yadav

महिला टी-20 वर्ल्ड कप फाइनल / भारत गेंदबाजी की बदौलत लगातार 4 मैच जीता, टॉप-3 गेंदबाजों ने 21 विकेट लिए, ऑस्ट्रेलियाई बॉलर 5 मैच में 19 विकेट ले सकीं

IND W Vs Aus W Final: India Vs Australia Women Bowling Performance Comparison In ICC T20 World Cup 2020; Poonam Yadav, Shikha Pandey, Radha Yadav
X
IND W Vs Aus W Final: India Vs Australia Women Bowling Performance Comparison In ICC T20 World Cup 2020; Poonam Yadav, Shikha Pandey, Radha Yadav

  • भारत की पूनम यादव ने टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा 9 विकेट लिए, ऑस्ट्रेलिया की सबसे सफल गेंदबाज मेगन शूट के भी इतने ही विकेट
  • दोनों देशों के शीर्ष तीन गेंदबाजों में भारत की राधा यादव का औसत सबसे बेहतर, उन्होंने 2 मैच में 5 विकेट लिए
  • मेजबान ऑस्ट्रेलिया 6 बार फाइनल में पहुंचा और 4 बार टी-20 वर्ल्ड कप जीत चुका है, भारत 11 साल में पहली बार फाइनल में पहुंचा

दैनिक भास्कर

Mar 08, 2020, 06:17 PM IST

खेल डेस्क. महिला टी-20 वर्ल्ड कप में भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच मेलबर्न में रविवार को फाइनल खेला जाएगा। भारत गेंदबाजों के दम पर 11 साल में पहली बार टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचा है। मौजूदा टूर्नामेंट में भारत के टॉप-3 गेंदबाजों ने 4 मैच में 21 विकेट लिए हैं, जबकि ऑस्ट्रेलिया के शीर्ष 3 गेंदबाजों ने भारत से एक मैच ज्यादा खेलने के बाद भी 2 विकेट कम लिए हैं। भारतीय गेंदबाजों ने टूर्नामेंट के 4 मैच में कुल 35 विकेट लिए। इसमें से 60 फीसदी विकेट पूनम यादव, शिखा पांडे और राधा यादव ने लिए हैं।  

पूनम यादव टूर्नामेंट की सबसे सफल गेंदबाज रही हैं। वे अब तक 4 मैच में 9.88 की औसत से 9 विकेट ले चुकी हैं। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वर्ल्ड कप के ओपनिंग मैच में 19 रन देकर 4 विकेट लिए थे। वे हर 11वीं गेंद पर विकेट ले रही हैं। भारत के लिए दूसरी सफल गेंदबाज शिखा पांडे हैं। उन्होंने 4 मैच में 12 की औसत से 7 विकेट लिए हैं। उनका स्ट्राइक रेट 13 का है। राधा यादव भी इस टूर्नामेंट में असरदार रही हैं। उन्होंने सिर्फ 2 दो मैच ही खेले हैं, लेकिन 5 विकेट लेने में कामयाब रहीं। वो भी सबसे कम 9.6 की औसत से। 

औसत के मामले में राधा यादव सबसे बेहतर

गेंदबाज

मैच विकेट औसत बेस्ट
पूनम यादव 4 9 9.88 4/19
शिखा पांडे 4 7 12.00   3/14
राधा यादव    2 5   9.60   4/23

मेगन ने पूनम के बराबर 9 विकेट लिए, लेकिन 1 मैच ज्यादा खेला

ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों ने टूर्नामेंट के 5 मैचों में कुल 31 विकेट लिए। इसमें से 19 विकेट मेगन शूट, जेस जोनासेन और जॉर्जिया वेरहैम ने लिए। शूट सबसे सफल ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज रहीं। उन्होंने टूर्नामेंट में भारतीय गेंदबाज पूनम के बराबर 9 विकेट लिए हैं। हालांकि, इसके लिए उन्होंने एक मैच ज्यादा खेला। उनका स्ट्राइक रेट भारतीय गेंदबाज से कम है। वे हर 12वीं गेंद पर विकेट ले रही हैं। जेस जोनासेन ने 5 मैच में 17 की औसत से 7, जबकि जॉर्जिया वेरहैम ने 3 मैच में 11 की औसत से 3 विकेट लिए हैं। ऑस्ट्रेलिया का कोई भी गेंदबाज टूर्नामेंट के एक मैच में 4 विकेट नहीं ले पाया, जबकि भारत की पूनम और राधा यादव ऐसा करने में सफल रहीं। 

ऑस्ट्रेलिया की तरफ से जॉर्जिया वेरहैम का औसत सबसे कम

गेंदबाज मैच विकेट औसत बेस्ट
मेगन शूट   5 9 12.88   3/21
जेस जोनासेन 5   7 17.14 2/17
जॉर्जिया वेरहैम 3 3 10.66     3/17

ऑस्ट्रेलिया ने टूर्नामेंट में 36 और भारत ने सिर्फ 26 की औसत से रन बनाए                  

बल्लेबाजी के मामले में ऑस्ट्रेलिया का टीम इंडिया पर पलड़ा भारी है। ऑस्ट्रेलिया ने टूर्नामेंट के 5 मैच में करीब 36 की औसत से 716 रन बनाए, जबकि भारतीय टीम ने 4 मैच में करीब 26 की औसत से 523 रन बनाए हैं। टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया से एक मैच कम खेला है। क्योंकि भारत-इंग्लैंड सेमीफाइनल बारिश के कारण रद्द हो गया था। टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले पांच बल्लेबाजों में से 2 ऑस्ट्रेलिया के हैं। इसमें बेथ मूनी तीसरे स्थान पर हैं। वे 5 मैच में 2 अर्धशतक की बदौलत 181 रन बना चुकी हैं। एलिसा हिली पांचवें स्थान पर हैं। उन्होंने 5 मैच में 161 रन बनाए हैं। इस लिस्ट में 16 साल की शेफाली वर्मा इकलौती भारतीय हैं। वे 4 मैच में 161 रन बना चुकी हैं। वे भारत की तरफ से सबसे ज्यादा रन बनाने वाली बल्लेबाज भी हैं। इसके अलावा जेमिमा रॉड्रिग्स ने 4 मैच में 85 और दीप्ति शर्मा ने 83 रन बनाए हैं। कोई भी भारतीय बल्लेबाज टूर्नामेंट में अर्धशतक नहीं लगा पाया है। 

भारत अब तक चैम्पियन नहीं बना
अब तक 6 बार टी-20 वर्ल्ड कप हो चुके हैं। यह 7वां टूर्नामेंट है। भारत एक बार भी फाइनल में नहीं पहुंचा है, जबकि ऑस्ट्रेलिया सबसे ज्यादा 4 बार खिताब जीत चुका है। भारत 3 बार (2009, 2010, 2018) में सेमीफाइनल में पहुंचा। पिछली बार उसे सेमीफाइनल में इंग्लैंड के हाथों हार मिली थी।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना