5 इंडियंस की परफॉर्मेंस ऑस्ट्रेलिया सीरीज में जरूरी:केएल राहुल 140, विराट 138 की स्ट्राइक रेट से रन बनाते हैं; बुमराह डेथ ओवर्स में डेंजरस

स्पोर्ट्स डेस्क10 दिन पहले

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन मैचों की टी-20 सीरीज आज से शुरू हो रही है। टी-20 वर्ल्ड कप के लिहाज से ये सीरीज टीम इंडिया के लिए काफी महत्वपूर्ण है। खिलाड़ियों की अच्छे परफॉर्मेंस से अगले महीने होने वाले वर्ल्ड कप के लिए उनका आत्मविश्वास बढ़ेगा। साथ ही रोहित शर्मा के लिए प्लेइंग इलेवन चुनने में भी आसानी होगी।

अभी हाल ही में हुए एशिया कप 2022 में भारत की खराब परफॉर्मेंस के कई कारण सामने आए थे। जिसमें से एक था मजबूत प्लेइंग 11 का ना होना। टीम में लगातार होते बदलाव के चलते कप्तान रोहित शर्मा एक फिक्स प्लेइंग 11 बनाने में नाकाम रहे थे। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज में उनके पास अपनी गलती सुधारने का मौका है।

ऐसे में आगे जानते हैं कि कौन से वो 5 भारतीय खिलाड़ी हैं जिनके ऑस्ट्रेलिया टी-20 सीरीज में परफॉर्मेंस पर सबकी नजरें रहने वाली हैं और वो वर्ल्ड कप के प्लेइंग इलेवन में अपनी जगह पूरी तरह से फिक्स कर सकते हैं...

1. विराट कोहली

विराट का टी-20 क्रिकेट में प्रदर्शन।
विराट का टी-20 क्रिकेट में प्रदर्शन।

यूं तो हमेशा ही दुनिया की नजर विराट की परफॉर्मेंस पर रही है, लेकिन इस बार मौका खास है। एशिया कप 2022 में अफगानिस्तान के खिलाफ शतक जड़कर करीब तीन साल (1020 दिन) बाद विराट अपने फॉर्म में लौटे हैं।

टी-20 वर्ल्ड कप से पहले विराट का फॉर्म में लौटना इंडियन टीम के लिए अच्छी खबर है, लेकिन कहीं ऐसा न हो विराट सिर्फ वन मैच वंडर बनकर रह जाएं। इसलिए ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत की टी-20 सीरीज में उनकी परफॉर्मेंस पर सबकी नजर होगी।

जाहिर है विराट के शतक के बाद टीम और फैंस की भी उनसे उम्मीदें बढ़ गई होंगी। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अब तक खेले गए 19 टी20 इंटरनेशनल मैचों में विराट कोहली का ऐवरेज 59.83 का रहा है। वहीं, स्ट्राइक रेट 146.23 का है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ विराट ने 22 छक्के और 55 चौके जमाए हैं।

2. ऋषभ पंत

पंत का टी-20 क्रिकेट में अब तक का प्रदर्शन।
पंत का टी-20 क्रिकेट में अब तक का प्रदर्शन।

टीम इंडिया के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत को टी-20 में लगातार मौके मिल रहे हैं। एक तरफ जहां पंत ने वनडे और टेस्ट क्रिकेट में शानदार लगातार शानदार प्रदर्शन कर अपना सिक्का जमाया है। वहीं, दूसरी तरह टी-20 में उनका प्रदर्शन इसके एकदम उलट है।

टेस्ट मैचों में जहां ये खिलाड़ी 43.32 की शानदार औसत से रन बनाता है तो वहीं, टी-20 में ये घटकर 23.94 का हो जाता है। वहीं, क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मेट में पंत का स्ट्राइक रेट 126.21 का रहा है।

उनके चयन की एक वजह उनका बाएं हाथ का बल्लेबाज होना भी है। इस समय टीम इंडिया के पास टॉप और मिडिल ऑर्डर में कोई भी प्रभावशाली बाएं हाथ के बल्लेबाज का विकल्प मौजूद नहीं है। इसलिए पंत को ज्यादा मौके मिल रहे हैं। ऐसे में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज ऋषभ के लिए काफी अहम है।

3. केएल राहुल

केएल राहुल का टी-20 क्रिकेट में अब तक का प्रदर्शन।
केएल राहुल का टी-20 क्रिकेट में अब तक का प्रदर्शन।

भारत के सलामी बल्लेबाज केएल राहुल ने एशिया कप 2022 में कोई खास प्रदर्शन नहीं किया था। पांच मैचों में उन्होंने 26.40 के औसत से 132 रन बनाए। उनका स्ट्राइक रेट सिर्फ 122.22 का रहा। अफगानिस्तान के खिलाफ खेले गए मैच में राहुल ने सीरीज का अपना सर्वाधिक स्कोर किया, जो 62 रन था।

सलामी बल्लेबाज के तौर पर कम बॉल में अधिक स्कोर करने का प्रयास करना उनकी जिम्मेदारी थी, लेकिन एशिया कप 2022 में उनकी परफॉर्मेंस देखने के बाद आगामी टी-20 वर्ल्ड कप में उनके फॉर्म को लेकर संशय बना हुआ है।

एशिया कप 2022 में रही खामियों में से एक मुख्य खामी थी टीम इंडिया का टॉप ऑर्डर फ्लॉप होना। अब देखना ये होगा कि ऑस्ट्रेलिया की टी-20 सीरीज के लिए सिलेक्टर्स का राहुल पर लगाया दांव ठीक बैठता है या राहुल एक बार फिर टीम और फैंस दोनों को निराश करते हैं।

4. हर्षल पटेल

हर्षल पटेल का टी-20 क्रिकेट में प्रदर्शन।
हर्षल पटेल का टी-20 क्रिकेट में प्रदर्शन।

टीम इंडिया के ऑलराउंडर हर्षल पटेल को फिटनेस टेस्ट पास करने के बाद ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज में 15 सदस्यीय टीम में मौका मिला है। हर्षल ने अब तक केवल 17 टी-20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज में क्या वो रिकवरी के बाद अच्छी वापसी करेंगे। ये बड़ा सवाल है। हालांकि चोटिल होने से पहले हर्षल जबरदस्त फॉर्म में थे। डेब्यू के बाद से ही वे भारत के लिए डेथ ओवर गेंदबाज के रूप में सामने आए हैं।

2022 में उन्होंने 15 टी-20 में 8.76 की इकोनॉमी रेट से 19 विकेट लिए। इस अवधि में भारत के लिए केवल भुवनेश्वर ने उनसे अधिक 10 मैच में 20 विकेट हासिल किए हैं। वहीं, हर्षल ने IPL के पिछले दो सीजन में भी कमाल की गेंदबाजी की थी। उन्होंने IPL 2021 में 15 मैच में 32 विकेट झटके थे और पर्पल कैप जीती थी। इस साल IPL में हर्षल ने 15 मैच में 19 विकेट लिए थे। इसलिए ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ डेथ ओवर गेंदबाज के रूप में हर्षल पर सबकी निगाहें टिकी होंगी।

5. जसप्रीत बुमराह

बुमराह की टी-20 क्रिकेट में परफॉर्मेंस।
बुमराह की टी-20 क्रिकेट में परफॉर्मेंस।

जुलाई में हुई बैक इंजरी के चलते बुमराह रीहैब में थे। अब फिटनेस टेस्ट पास कर उन्होंने टी-20 वर्ल्ड कप के लिए 15 सदस्यीय टीम में जगह बना ली है। साथ ही आज से शुरू हो रहे ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी-20 सीरीज में भी आप बुमराह को खेलते हुए देख सकते हैं। एशिया कप में भारतीय गेंदबाजों का प्रदर्शन बहुत खराब रहा था। ऐसे में बुमराह से अब बहुत उम्मीदें होंगी।

वर्तमान में भारतीय क्रिकेट टीम के पास 140+ की स्पीड से गेंदबाजी करने वाले बॉलर्स के बहुत कम विकल्प मौजूद हैं। बुमराह उनमें से एक हैं। 72 दिन बाद ये खिलाड़ी वापसी कर रहा है। ऐसे में टी-20 वर्ल्ड कप से पहले ऑस्ट्रेलिया सीरीज बुमराह के लिए फॉर्म में लौटने का एक अच्छा मौका साबित हो सकती है। वह शुरुआती ओवरों के साथ डेथ ओवरों में भी शानदार गेंदबाजी करते हैं। उनकी अगुआई में भारत की पेस बैटरी लगातार अच्छा प्रदर्शन करती आई है।

खबरें और भी हैं...