वर्ल्ड कप में भारत की दूसरी हार:इंग्लैंड ने 4 विकेट से हराया, चार विकेट लेने वाली चार्लोट डीन बनीं प्लेयर ऑफ द मैच

माउंट मॉन्गानुई5 महीने पहले

महिला वर्ल्ड कप के 15वें मैच में इंग्लैंड ने भारत को 4 विकेट से हरा दिया है। इंग्लैंड के सामने 135 रन का टारगेट था, जिसे टीम ने 31.2 ओवर में 6 विकेट खोकर हासिल कर लिया। जीत में नाबाद 53 रन बनाने वाली कप्तान हेदर नाइट टॉप स्कोरर रही। टूर्नामेंट में लगातार 3 हार के बाद डिफेंडिंग चैंपियन इंग्लैंड की ये पहली जीत है।

इससे पहले टॉस हारकर पहले बैटिंग करने उतरी टीम इंडिया 135 रन ही बना सकी और 36.2 ओवर में ऑलआउट हो गई। स्मृति मंधाना (35) टॉप स्कोरर रही, जबकि ऋचा घोष ने 33 रन बनाए। ENG की ओर से चार्लोट डीन ने सबसे ज्यादा 4 विकेट चटकाए।

टीम इंडिया की दूसरी हार
मौजूदा टूर्नामेंट में भारतीय टीम की ये दूसरी हार है। इंग्लैंड से पहले न्यूजीलैंड ने भारत को 62 रन से हराया था। 4 मैचों में टीम इंडिया ने 2 मुकाबले जीते हैं और दो में हार का मिली है। टीम अभी भी पॉइंट्स टेबल में 4 अंकों के साथ तीसरे पायदान पर मौजूद है। वहीं, इंग्लैंड 4 मैचों में एक जीत के साथ पॉइंट्स टेबल में सातवें नंबर पर आ गई है।

चोटिल हुई हरमन
इंग्लैंड की पारी के 31वें ओवर के दौरान उप-कप्तान हरमनप्रीत कौर चोटिल हो गई। 30.5वें ओवर में झूलन गोस्वामी की गेंद पर सोफिया एकलस्टन ने फ्लिक शॉट खेला और मिडऑन पर फील्डिंग कर रही हरमन गेंद को रोकने के प्रयास में खुद को चोटिल करा बैठी। हरमन के घुटने में चोट लगी, जिसके बाद फिजियो मैदान पर आए और उन्हें सहारा देकर बाहर ले गए।

मेघना की मेहनत गई बेकार
मैच में भारतीय तेज गेंदबाज मेघना सिंह ने शानदार बॉलिंग करते हुए 21 रन देकर 3 विकेट चटकाए। इंग्लैंड की पारी के 29वें ओवर में तीन गेंदों के अंदर दो खिलाड़ियों को आउट किया। 29.1 ओवर मेघना ने सोफिया डंकली (17) को विकेटकीपर ऋषा घोष के हाथों कैच आउट कराया और ओवर की तीसरी गेंद पर कैथरीन ब्रंट को शून्य पर पवेलियन भेजा। हालांकि वह इस प्रदर्शन के बाद भी भारत को जीत नहीं दिला सकी।

झूलन ने रचा इतिहास
पूर्व भारतीय कप्तान झूलन गोस्वामी ने इतिहास रच दिया है। झूलन वनडे में 250 विकेट लेने वाली पहली महिला खिलाड़ी बनी है। उन्होंने इंग्लैंड की ओपनर टैमी ब्यूमोंट (1) को LBW आउट कर ये उपलब्धि हासिल की। ब्यूमोंट के आउट होने के साथ ही इंग्लैंड ने दूसरा विकेट भी गंवा दिया। अंपायर ने टैमी को नॉट-आउट दिया था, लेकिन भारतीय कप्तान मिताली राज ने रिव्यू लिया, रीप्ले में नजर आया कि गेंद ऑफ स्टंप पर लग रही थी।

इसके बाद तीसरे विकेट के लिए नाइट और नताली साइवर ने 84 गेंदों पर 65 रन जोड़कर इंग्लैंड को मैच में वापस ला खड़ा किया। इस पार्टनरशिप को पूजा वस्त्राकर ने नताली (45) को आउट कर तोड़ा। राजेश्वरी गायकवाड़ ने एमी जोन्स (10) को आउट कर इंग्लैंड को चौथा झटका पहुंचाया। मिडऑन पर हरमनप्रीत कौर ने एमी का बेहतरीन कैच पकड़ा।

मेघना ने लिया था पहला विकेट
टारगेट का पीछा करते हुए इंग्लैंड की शुरुआत खराब रही और दूसरे ओवर की पहली ही गेंद पर मेघना सिंह ने डेनिएल व्याट का विकेट लेकर भारत को पहली सफलता दिलाई। स्नेह राणा ने पहली स्लीप में शानदार डाइव लगाकर व्याट का कैच पकड़ा।

ऋचा घोष लगातार दूसरी बार इस टूर्नामेंट में रन आउट हुई
ऋचा घोष लगातार दूसरी बार इस टूर्नामेंट में रन आउट हुई

ऋचा और झूलन ने पार कराया 100 का स्कोर
भारत का 7वां विकेट पूजा वस्त्राकर के रूप में गिरा। पूजा 9 गेंदों में 6 रन बनाकर चार्लोट डीन की गेंद पर LBW आउट हुई। इसके बाद ऋचा घोष और झूलन गोस्वामी ने 8वें विकेट के लिए 52 गेंदों पर 37 रन जोड़े। 34 ओवर में झूलन ने हल्के हाथों से मिडविकेट की दिशा में शॉट खेला और नोन-स्ट्राइकर एंड पर खड़ी ऋचा रन के लिए दौड़ पड़ी। झूलन के मना करने के बाद वह वापस क्रीज पर पहुंचने के लिए भागी, लेकिन नताली साइवर की डायरेक्ट हिट के कारण अपना विकेट गंवा बैठी। वह 56 गेंदों पर 33 रन बनाकर आउट हुई।

अगले ही ओवर में झूलन गोस्वामी (20) भी पवेलियन लौट गई। उनका विकेट केट क्रॉस के खाते में आया।

  • भारत की 6 खिलाड़ी सिंगल डिजिट में आउट हुई।
  • भारत (134) इस वर्ल्ड कप में टीम का ये सबसे कम स्कोर है।
  • चार्लोट डीन ने दूसरी बार वनडे की एक पारी में चार विकेट लिए।
  • डीन (4/23) का वनडे में ये सबसे बढ़िया प्रदर्शन है।

LBW आउट हुई मंधाना
टीम इंडिया को सबसे बड़ा झटका स्मृति मंधाना के विकेट से लगा। स्मृति 58 गेंदों पर 35 रन बनाकर सोफी एक्लस्टन की गेंद पर LBW आउट हुई। मंधाना ने अंपायर के फैसले के खिलाफ जाते हुए रिव्यू लिया, लेकिन रीप्ले में दिखाई दिया की गेंद और बल्ले के बीच कोई संपर्क नहीं था, बॉल विकेटों पर जाकर लग रही थी। भारत ने 71 पर छठा विकेट गंवाया।

चार्लोट डीन ने एक ओवर में दिए 2 झटके
28 पर पहले 3 विकेट खोने के बाद स्मृति मंधाना और हरमनप्रीत कौर ने चौथे विकेट के लिए 50 गेंदों पर 33 रन जोड़कर भारतीय पारी को पटरी पर लाने की कोशिश की। यह जोड़ी नजरें जमा ही रही थी कि ऑफ स्पिनर चार्लोट डीन ने हरमन (14) को आउट कर टीम इंडिया को फिर से पीछे धकेल दिया। डीन ने उसी ओवर में दो गेंदों के बाद ही स्नेह राणा (0) को भी आउट कर मैदान से बाहर का रास्ता दिखाया। हरमन और स्नेह का कैच विकेटकीपर एमी जोन्स ने पकड़ा।

  • भारत की आधी टीम 61 के स्कोर पर पवेलियन लौट गई थी।
  • स्नेह राणा 13 वनडे पारियों में पहली बार 0 पर आउट हुई।
  • आन्या (81 पारियां) ENG के लिए सबसे तेज 100 विकेट लेने वाली दूसरी खिलाड़ी बनी। उनसे पहले ईशा गुहा (80) का नाम आता है।

मिताली का खराब प्रदर्शन जारी: WC की 4 पारियों में 11.50 की औसत से रन बनाए; तीन पारियों में सिंगल डिजिट में आउट हुईं

भारत ने 28 रन पर गंवाए थे 3 विकेट

  • यास्तिक ने किया निराश: टॉस हारकर पहले खेलते हुए भारत की शुरुआत रही और यास्तिका भाटिया 11 गेंदों में 8 रन बनाकर आन्या श्रबसोले की गेंद पर बोल्ड हो गई। इस विकेट के साथ ही आन्या इंग्लैंड के लिए वनडे क्रिकेट में 100 विकेट लेनी वाली 5वीं महिला गेंदबाज बन गई।
  • मिताली का खराब प्रदर्शन जारी: आन्या अपने अगले ही ओवर में भारतीय कप्तान मिताली राज (1) को आउट कर इंग्लैंड को बड़ी सफलता दिलाई। मिताली इनस्विंग गेंद पर ड्राइव लगाना चाहती थी, लेकिन गेंद को नीचे नहीं रख पाई और कवर पॉइंट पर सोफिया डंकली ने उनका शानदार कैच पकड़ा। मौजूदा टूर्नामेंट की 4 पारियों में मिताली ने 11.50 की औसत के केवल 46 रन बनाए हैं।
  • दीप्ति शर्मा बिना खाता खोले आउट: इन दो झटकों से टीम अभी संभल भी नहीं पाई थी कि दीप्ति शर्मा बिना खाता खोले रन आउट हो गई। भारत ने केवल 28 के स्कोर पर तीसरा विकेट गंवाया। दीप्ति तीसरी बार अपने वनडे करियर में शून्य पर आउट हुई।

दोनों टीमें-
IND: स्मृति मंधाना, यास्तिका भाटिया, मिताली राज (कप्तान), दीप्ति शर्मा, हरमनप्रीत कौर, ऋचा घोष (विकेटकीपर), स्नेह राणा, पूजा वस्त्राकर, झूलन गोस्वामी, मेघना सिंह, राजेश्वरी गायकवाड़।

ENG: डेनिएल व्याट, टैमी ब्यूमोंट, हेदर नाइट (कप्तान), नताली साइवर, एमी एलेन जोन्स (विकेटकीपर), सोफिया डंकली, कैथरीन ब्रंट, सोफी एक्लस्टन, केट क्रॉस, चार्लोट डीन, आन्या श्रबसोले।

खबरें और भी हैं...