• Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • India Vs England Test Series After 3 Tests In The Series India's Average Score In Each Innings Is 275 Runs 11 Runs Less Than England

इंग्लैंड में टीम इंडिया की मुश्किल का कारण:सीरीज में 3 टेस्ट के बाद भारत का हर पारी में औसत स्कोर 275 रन, इंग्लैंड से 11 रन कम

नई दिल्ली5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

भारत और इंग्लैंड के बीच 5 टेस्ट मैचों की सीरीज के तीन मुकाबले खेले जा चुके हैं। अभी दोनों टीमें 1-1 की बराबरी पर है। पहले दो टेस्ट मैचों में भारत का पलड़ा भारी रहा लेकिन तीसरे मुकाबले में इंग्लैंड ने एकतरफा अंदाज में पारी और 76 रनों से जीत हासिल की। बल्लेबाजों का खराब प्रदर्शन एक बार फिर भारत के लिए सबसे बड़ा सिर दर्द साबित हो रहा है। 2018 में भी इसी वजह से टीम इंडिया को 1-4 से हार झेलनी पड़ी थी।

3 टेस्ट में 1 बार भी 400 रन का आंकड़ा नहीं हुआ पार
इंग्लैंड के खिलाफ मौजूदा सीरीज में भारतीय टीम एक बार भी 400 रन का आंकड़ा पार नहीं कर सकी है। भारत ने पहले टेस्ट में 278 और 52/1 का स्कोर बनाया। दूसरे टेस्ट में भारत ने 364 और 298/8 का स्कोर बनाया। वहीं, तीसरे टेस्ट की दो पारियों में भारत का स्कोर 78 और 278 रन रहा। यानी समाप्त हुई पारियों (ऑल आउट या घोषित) में भारत का औसत स्कोर 275/10 का है। इसके उलट इंग्लैंड का औसत स्कोर 286/10 रन रहा है। इसका मतलब हुआ कि इंग्लैंड ने हर कम्प्लीटेड पारी में भारत की तुलना में औसतन 11 रन ज्यादा बनाए।

कैसे हुआ केलकुलेशन
भारत की 6 में 5 पारी कम्प्लीट हुई है। इनमें से चार में भारत ऑलआउट हुआ। लॉर्ड्स में भारत ने दूसरी पारी 298/8 के स्कोर पर समाप्त घोषित कर दी थी। हर विकेट के लिए 37.25 रन बने। यानी 10 विकेट के लिए इस पारी में करीब 375 रन का स्कोर आता है। अब अगर हम सभी कम्लीटेड पारी का औसत निकालें तो स्कोर 275/10 आता है।

2018 में था और भी बड़ा अंतर
2018 में इंग्लैंड के खिलाफ इंग्लैंड में खेली गई सीरीज में टीम इंडिया को 1-4 से हार झेलनी पड़ी थी। उस सीरीज में भारत ने सभी कम्प्लीटेड पारी में औसत 252/10 का स्कोर बनाया था। इंग्लैंड ने उस सीरीज में औसतन 307/10 का स्कोर बनाया था। यानी तब टीम इंडिया एक पारी के औसत स्कोर के मामले में इंग्लैंड से 55 रन पीछे थी।

अगले 2 टेस्ट में सुधार की जरूरत
यह तो साफ है कि टीम इंडिया ने 2018 की तुलना में इस बार बेहतर बल्लेबाजी की है, लेकिन सीरीज जीतने के लिए अभी और सुधार की जरूरत है। तीसरे टेस्ट की दूसरी पारी में चेतेश्वर पुजारा और कप्तान विराट कोहली ने अर्धशतक जरूर जमाए लेकिन ओवरऑल सीरीज की बात करें तो ये फॉर्म में नहीं चल रहे हैं। इनके अलावा अजिंक्य रहाणे और विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत भी अच्छी बल्लेबाजी नहीं कर पा रहे हैं। चौथे टेस्ट में अच्छे रिजल्ट के लिए इन दिग्गज बल्लेबाजों को बेहतर खेल दिखाना होगा।

खबरें और भी हैं...